12 घंटे में फास्टैग नहीं लगाने वाले एक हजार वाहनों से वसूले एक लाख की पेनाल्टी

16 फरवरी की रात से अनिवार्य हो गया फास्टैग

By: akhilesh thakur

Published: 18 Feb 2021, 10:42 AM IST

सिवनी. 16 फरवरी की रात से बिना फास्टैग वाले वाहनों से दोगुना राशि की वसूली एनएचएआई के टोल प्लाजा पर होने लगी है। अलोनिया व लखनादौन के पास वाले टोल प्लाजा पर बुधवार को दोपहर करीब 12 बजे तक बिना फास्टैग के करीब एक हजार वाहन पार हुए, जिनसे एक लाख रुपए से अधिक की पेनाल्टी की वसूली हो चुकी थी। पेनाल्टी की राशि एनएचएआई को दिया जाना है। इसकी पुष्टि अलोनिया टोल प्लाजा के मैनेजर शेख अशफाक ने की है।
मैनेजर अशफाक की माने तो प्रतिदिन करीब सात हजार वाहन टोल से गुजरते हैं। बताया कि केन्द्रीय परिवहन मंत्रालय के फास्टैग लागू किए जाने के बाद से ही लोग इसका प्रयोग करने लगे थे। करीब 80 फीसदी वाहनों में फास्टैग हैं। १६ फरवरी के बाद बिना फास्टैग वाले वाहनों से दोगुनी राशि अनिवार्य किए जाने के बाद करीब पांच फीसदी अन्य वाहन स्वामियों ने उक्त सुविधा शुरू करा लिया है। बताया कि फास्टैग जिन वाहनों में नहीं है। उनके लिए अलग-अलग बैंक के लोग यहां नियुक्त है। वे बिना फास्टैग वाले वाहनों को समझाइश देने के साथ उनसे डॉक्यूमेंट लेकर फास्टैग की सुविधा प्रदान कर रहे हैं। एक बैंक के नियुक्त सदस्य ने बताया कि आधार कार्ड, पेन कार्ड और आरसी होने पर दो मिनट में यह सुविधा शुरू कर दी जाती है। बताया कि इसके लिए केवल १०० रुपए शुल्क लगते हैं। यह राशि भी संबंधित के खाते में चली जाती है।

फास्टैग के लिए वसूल रहे अधिक शुल्क
अलोनिया टोल नाका पर बालाघाट से जबलपुर जा रहे कार सवार युवक के पास फास्टैग की सुविधा नहीं थी। इस पर उसने वहां मौजूद बैंक के सदस्य से बात कर चालू करने के लिए बोला तो उसने अधिक पैसे की मांग की। इस पर युवक ने इसकी शिकायत मैनेजर से किया। कहा कि संबंधित व्यक्ति उससे 400 रुपए की मांग कर रहा है। जबकि इसका शुल्क केवल 100 रुपए हैं।

बाक्स -
अलोनिया नाका घोषित हुआ ब्लैक स्पॉट
सिवनी. बंडोल टीआई दिलीप पंचेश्वर ने बताया कि विगत कुछ वर्षों के अंदर हुए बड़े हादसे की वजह से यहां दर्जनों लोगों की मौत हो चुकी है। इस संबंध में उन्होंने उच्चाधिकारियों को पत्र लिखा था। इसके बाद हाइमास्क सहित कुछ सुविधाएं शुरू कराई गई, लेकिन जबलपुर की ओर से आने वाले मार्ग पर ढलान को अब तक सही नहीं कराया जा सका है। बताया कि लगातार हो रहे हादसे के मद्देनजर उक्त को ब्लैक स्पॉट घोषित कर दिया गया है।

akhilesh thakur Bureau Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned