सीबीएसई रिजल्ट में प्राची, स्वाती, श्रुति रहीं टॉप में

सीबीएसई रिजल्ट में प्राची, स्वाती, श्रुति रहीं टॉप में

Sunil Vandewar | Updated: 27 May 2018, 12:05:49 PM (IST) Seoni, Madhya Pradesh, India

जवाहर नवोदय विद्यालय कान्हीवाड़ा का १२वीं परीक्षा परिणाम ९७.४३ प्रतिशत

सिवनी. केन्द्रीय माध्यमिक शिक्षा परिषद (सीबीएसइ) द्वारा कक्षा 12वीं का परीक्षा परिणाम घोषित किया गया है। इसमें जवाहर नवोदय विद्यालय कान्हीवाड़ा ने विगत वर्षो की भांति उत्कृष्ट परिणाम दिया है।
विद्यालय के 78 विद्यार्थियों में से 76 उत्तीर्ण रहे। विद्यालय का परीक्षा परिणाम 97.43 प्रतिशत रहा। 73 विद्यार्थियों ने प्रथम श्रेणी में परीक्षा उत्तीर्ण की है। विज्ञान वर्ग में प्राची पारधी ने 89.60 प्रतिशत अंक प्राप्त कर प्रथम स्थान, स्वाती ढोमने ने 89.40 प्रतिशत अंक प्राप्त कर द्वितीय स्थान, श्रुति भलावी ने 89.20 प्रतिशत अंक प्राप्त कर तृतीय स्थान प्राप्त किया। वाणिज्य वर्ग में संदीप मोहने ने 88 प्रतिशत अंक प्राप्त कर प्रथम स्थान, गगन गजभिये ने 84.80 प्रतिशत अंक प्राप्त कर द्वितीय स्थान, सृष्टि सोनी ने 83.80 प्रतिशत अंक प्राप्त कर तृतीय स्थान प्राप्त किया। प्राचार्य एमएन राव, ने परीक्षा परिणाम के लिए हर्ष व्यक्त करते हुए विद्यालय के शिक्षकों की सराहना की व विद्यार्थियों के उज्ज्वल भविष्य की कामना की है।

अर्जुन, हिमांशु, नफीसा रहे टॉप पर
शहर के सीबीएसइ स्कूल सिवनी का सत्र 2017-18 सीबीएसइ 12वीं बोर्ड का वार्षिक परीक्षा परिणाम संयुक्त रूप से 84 प्रतिशत विद्यार्थियों ने सफलता अर्जित की है। विज्ञान संकाय में 97 प्रतिशत विद्यार्थी सफल रहे। वहीं वाणिज्य संकाय में 72 प्रतिशत विद्यार्थियों ने सफलता अर्जित की।
दोनों संकायों के कुल 70 विद्यार्थी परीक्षा में सम्मिलित हुए। जिनमें से 59 सफल हुए व 11 विद्यार्थी असफल रहे।
विद्यालय के छात्र अर्जुन कुमार गौर ने वाणिज्य संकाय में 85 प्रतिशत अंक लेकर विद्यालय में प्रथम स्थान प्राप्त किया। हिमांशु सूर्यवंशी ने विज्ञान संकाय में 84 प्रतिशत अंक प्राप्त कर द्वितीय स्थान प्राप्त किया। नफीसा हुसैन ने बायो संकाय में 82 प्रतिशत अंक प्राप्त कर तृतीय स्थान पर रहीं। विद्यालय में उत्तीर्ण 59 विद्यार्थियों में से 28 विद्यार्थी प्रथम श्रेणी में जबकि 31 विद्यार्थियों ने द्वितीय श्रेणी में सफलता अर्जित की है।


डॉक्टर, इंजीनियर की शिक्षा में भी मिलेगी सरकारी मदद
अब जिले के प्रतिभावान विद्यार्थियों की 12वीं के बाद भी पढ़ाई की फीस सरकार भरेगी। मुख्यमंत्री मेधावी विद्यार्थी योजना का लाभ माध्यमिक मण्डल द्वारा करवायी जाने वाली 12 वीं परीक्षा में 75 प्रतिशत या उससे अधिक अथवा सीबीएसई, आईसीएसई की 12वीं की परीक्षा में 85 प्रतिशत या उससे अधिक अंक प्राप्त करने वाले विद्यार्थियों को मिलेगा। विद्यार्थी के पालक की आय 6 लाख रुपए से कम होना चाहिए। विद्यार्थी का आधार नम्बर भी जरूरी है।
इंजीनियरिंग जेईई मेन्स परीक्षा में 50 हजार तक की रैंक वाले विद्यार्थियों द्वारा किसी शासकीय अथवा अशासकीय इंजीनियरिंग कॉलेज में प्रवेश लेने पर उसे सहायता मिलेगी। शासकीय कॉलेज की पूरी फीस (मेस शुल्क एवं कॉशन मनी छोडक़र) दी जाएगी। प्रायवेट कॉलेज की फीस में डेढ़ लाख रुपए या वास्तविक शुल्क (शुल्क समिति द्वारा निगमित) मेस शुल्क एवं कॉशन मनी छोडक़र जो कम हो, शासन द्वारा दी जाएगी।
मेडिकल राष्ट्रीय पात्रता और प्रवेश परीक्षा (नीट) के माध्यम से केन्द्र या राज्य के किसी भी शासकीय मेडिकल कॉलेज अथवा मध्यप्रदेश के किसी प्रायवेट मेडिकल कॉलेज में एमबीबीएस के लिए प्रवेश लेने पर योजना का लाभ मिलेगा। शासकीय मेडिकल कॉलेज की पूरी फ ीस एवं प्रायवेट कॉलेज में देय शुल्क राज्य शासन द्वारा दिया जाएगा।
लॉ क्लेट के माध्यम से देश के किसी भी राष्ट्रीय विधि विश्वविद्यालय में १२वीं कक्षा के बाद के कोर्स की पूरी फ ीस शासन देगा। राज्य शासन के सभी कॉलेज के बीएससी, बीए, बीकाम, नर्सिंग, पॉलीटेक्निक तथा स्नातक स्तर के सभी पाठ्यक्रमों की पूरी फ ीस सरकार भरेगी। शासकीय संस्थाओं के विद्यार्थियों की पूरी फ ीस संस्था के खाते में दी जाएगी। प्रायवेट संस्थाओं में विद्यार्थियों को देय शुल्क विद्यार्थी के खाते में दिया जाएगा।
योजना का क्रियान्वयन संचालनालय तकनीकी शिक्षा द्वारा किया जाएगा। योजना शैक्षणिक सत्र 2017-18 से आरंभ की गई है। पोर्टल के माध्यम से योजना का क्रियान्वयन किया जा रहा है।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned