पड़ोस में आ रहे हैं प्रधानमंत्री मोदी, सिवनी में भी बढ़ी हलचल

पड़ोस में आ रहे हैं प्रधानमंत्री मोदी, सिवनी में भी बढ़ी हलचल

Sunil Vandewar | Updated: 22 Apr 2018, 12:37:17 PM (IST) Seoni, Madhya Pradesh, India

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और कई वीवीआइपी पड़ोसी जिला मंडला पहुंच रहे हैं।

सिवनी. दो दिन बाद देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और कई वीवीआइपी पड़ोसी जिला मंडला पहुंच रहे हैं। ऐसे में व्यवस्थाओं को लेकर जिला प्रशासन के कई अधिकारी व्यवस्थाओं में जुटे हैं और आवश्यक संसाधनों को मंडला भेजा जा रहा है। प्रधानमंत्री के मंडला आने की खबर से राजनीतिक दलों में भी हलचल बढ़ गई है।
पंचायती राज मंत्रालय, भारत सकार के तत्वाधान मे राष्ट्रीय पंचायती राज दिवस का उद्घाटन 24 अप्रैल को देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा मण्डला जिले के रामनगर में प्रस्तावित है। उद्घाटन समारोह में मध्यप्रदेश के राज्यपाल आनंदी बेन पटेल और मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान , केन्द्रीय पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री नरेन्द्र सिह तोमर, केन्द्रीय पंचायती राज और कृषि तथा कृषक कल्याण मंत्री पुरषोत्तम रूपाला और मध्यप्रदेश के पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री गोपाल भार्गव भी उपस्थित रहेंगे।

पुरानी पेंशन बहाली के लिए भोपाल में जुटे पदाधिकारी
नेशनल मोमेन्ट फॉर ओल्ड पेंशन स्कीम मप्र के द्वारा पुरानी पेंशन बहाली राष्ट्रीय आंदोलन अभियान मप्र का प्रांतीय सम्मेलन भोपाल में रखा गया है। इसमें विजय कुमार बंधू राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं परमानंद डहेरिया, रिपुन्जय सहित मप्र के ५१ जिलों के ३१३ ब्लॉक अंतर्गत ११४ नगर से संगठन के पदाधिकारी शामिल हुए। सभी ने शासन के समक्ष पुरानी पेंशन बहाली की मांग को प्रदर्शन, ज्ञाप के माध्यम से शासन के समक्ष उठाया। इसमें सिवनी से राज्य अध्यापक संघ के जिला अध्यक्ष विपनेश जैन सहित अन्य पदाधिकारी उपस्थित रहे।
स्वच्छता, शिक्षा, स्वास्थ्य पर लिया संकल्प
स्थानीय महाविद्यालय की राष्ट्रीय सेवा योजना इकाई का सात दिवसीय शिविर 15 से 21 अपै्रल तक ग्राम डोरली छतरपुर में आयोजित किया गया। इस सात दिवसीय शिविर में क्षेत्र में स्वास्थ्य, शिक्षा, जल संरक्षण, पर्यावरण संरक्षण, शौचालय, स्वच्छता, पौधारोपण संबंधी जागरूकता नाटक के माध्यम से क्षेत्रवासियों में सातों दिन राष्ट्रीय सेवा योजना के छात्र-छात्राओं द्वारा प्रसारित की गई। ग्रामीणों ने शिक्षा, स्वास्थ्य, पर्यावरण संरक्षण का संकल्प लिया।
राष्ट्रीय सेवा योजना के सात दिवसीय शिविर में छात्र-छात्राओं के रहने एवं खान पान की पूर्ण व्यवस्था की गई थी। सात दिवसीय शिविर को संपन्न कराने में डोरली छतरपुर के ग्रामवासियों, ग्राम पंचायात के सरपंच साजिद खान, शासकीय प्राथमिक शाला एवं आंगनबाड़ी डोरली छतरपुर के बच्चों एवं स्टाफ का योगदान रहा। राष्ट्रीय सेवा योजना कार्यक्रम अधिकारी प्रो. दीपेन्द्र शुक्ला, प्रो. सरमन गौर, प्रो. स्वप्निल वान्र्स, प्रो. संगीता जैन, प्रो. मंजू बिसेन, प्रो. स्मृति तिवारी, प्रो. दीपिका दुबे, प्रो. नम्रता मिश्रा, प्रो. हेमन्त पंचेश्वर, के पूर्ण सहयोग से सात दिवसीय राष्ट्रीय सेवा योजना शिविर सपन्न हुआ।
इस अवसर पर डॉ. केके चतुर्वेदी ने छात्रों को मार्गदर्शन देते हुए बताया कि हमारी दैनिक दिनचर्या में भूमि का एक महत्वपूर्ण स्थान है एवं लगातार बोरबेल के उत्खनन के द्वारा भूमि का अत्यधिक दोहन किया जा रहा है। जिसे रोकने के लिए 22 अपै्रल को छात्रों एवं अशैस के सदस्यों द्वारा नगर के कचहरी चौक में एकदिवसीय उपवास व धरना प्रदर्शन किया जाएगा। जिसमें सिवनी के समस्त समाज सेवी जनों की उपस्थिति व सहभागी बनने का आग्रह किया है।

दुकानों में बाल श्रम मुक्त संस्थान की सूचना का प्रदर्शन अनिवार्य

बाल श्रम अधिनियम के अंतर्गत किसी भी नियोजन में 14 वर्ष से कम आयु के बालक को नियोजित करना प्रतिबंधित है। इसी परिप्रेक्ष्य में जिले के समस्त व्यवसायिक संस्थानों, मिष्ठान भंडार, होटल एवं टेंट हाउस के संचालक, कारखानों के संचालक, मेरिज गार्डन, फटाखा निर्माण व विक्रय केन्द्र के संचालकों को जिला श्रम पदाधिकारी ने निर्देशित किया है कि वे अपने संस्थान में बाल श्रम मुक्त संस्थान की सूचना अनिवार्य रूप से प्रदर्शित करें।
इस अधिनियम की धारा के उल्लंघन के लिए अंतर्गत 20 हजार से 50 हजार रुपए तक अर्थदंड के साथ 6 माह से दो वर्ष तक के कारावास की सजा से दंडित किया जा सकता है।

 

Show More

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned