कॉल रिकार्डिंग से हुआ खुलासा, 6 शिक्षकों ने रचा था षडय़ंत्र!

कॉल रिकार्डिंग से हुआ खुलासा, 6 शिक्षकों ने रचा था षडय़ंत्र!

Sunil Vandewar | Publish: Sep, 28 2018 08:42:45 PM (IST) | Updated: Sep, 28 2018 08:42:46 PM (IST) Seoni, Madhya Pradesh, India

गांव-गांव में प्राचार्य के विरुद्ध चस्पा किए गए थे पर्चे, नोटिस जारी

सिवनी. अपने वरिष्ठ अधिकारी को अपमानित करने की नियत से प्रधानपाठक सहित ६ शिक्षकों ने षडय़ंत्र रखकर गांव-गांव में पर्चे चस्पा कर दिए। इसका खुलासा एक कॉल रिकार्डिंग से हुआ तो शिक्षा विभाग में हड़कम्प मच गया। कॉल रिकार्डिंग और सम्बंधित प्राचार्य की शिकायत के आधार पर डीइओ एसपी लाल ने प्रधानपाठक और अन्य पांच शिक्षकों को नोटिस जारी कर तीन दिन में जवाब तलब किया है। इस सम्बंध में प्राचार्य ने उगली थाना में भी शिकायत की है।
केवलारी विकासखण्ड अंतर्गत पांडियाछपारा के शासकीय हायर सेकेण्डरी स्कूल प्राचार्य शिवराज सिंह कुमरे के द्वारा डीइओ एसपी को कॉल रिकार्डिंग के साथ लिखित शिकायत की गई है। जिसमें बात-चीत से पर्चे चस्पा करने वालों के नाम का खुलासा हो रहा है। कॉल रिकार्डिंग में प्राचार्य और एक शासकीय शिक्षक के बीच संवाद हो रहा है।
प्राचार्य ने डीइओ, पुलिस में की शिकायत -
प्राचार्य एसएस कुमरे का कहना है कि जानकारी प्राप्त हुई है कि उनके विरुद्ध प्रधानपाठक सहित ६ शासकीय कर्मियों ने मिलकर षडय़ंत्र रचते हुए योजना बनाकर छवि को धूमिल करने के उद्देश्य से फर्जी व झूठी बातें पर्चे में लिखवाकर गांव-गांव एवं पांडियाछपारा स्कूल के आसपास क्षेत्रों में चिपकाया है। बताया कि ०५ अगस्त की रात्रि में चारपहिया वाहन से जाकर गांव-गांव पर्चे चस्पा किए गए हैं। इसका प्रमाण कॉल रिकार्डिंग में दिया गया है। इस षडय़ंत्र में शामिल सभी शासकीय सेवकों के विरुद्ध कठोर अनुशासनात्मक कार्रवाई किए जाने को कहा है।
इनको जारी हुए डीइओ से नोटिस -
डीइओ एसपी लाल के हस्ताक्षर से ०६ शासकीय सेवकों (प्रधानपाठक, शिक्षक) को नोटिस जारी किए गए हैं। इनमें शासकीय माध्यमिक शाला पांडियाछपारा के प्रधानपाठक सीएस कर्वेती एवं सहायक शिक्षक एसएल राहंगडाले। शासकीय माध्यमिक शाला पांडीवाड़ा के सहायक अध्यापक योगेश मानेश्वर, सहायक अध्यापक घनश्याम देशमुख, सहायक अध्यापक अगघन पंचेश्वर। शासकीय माध्यमिक शाला गुरेरामाल के सहायक अध्यापक हिम्मत सिंह देशमुख के नाम नोटिस जारी हुआ है।
योगेश की रही अहम भूमिका -
प्रधानपाठक एवं शिक्षकों को जारी नोटिस में कहा गया है कि प्राचार्य शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय पांडियाछपारा के पत्र में कहा गया है कि उन्हें अपमानित करने मिथ्या, द्ववेशपूर्ण व बदनाम करने के लिए मिलकर षडय़ंत्र रचते हुए योजनाबद्ध तरीके से प्राचार्य की छवि को धूमिकल करने पर्चे गांव-गांव में चिपकाए गए हैं। ०५ अगस्त २०१८ की रात्रि में सहायक शिक्षक योगेश मानेश्वर की इस षडय़ंत्र में अहम भूमिका रही है। जिसके सम्बंध में कॉल रिकार्डर साक्ष्य इस कार्यालय को प्राप्त हुआ है। डीइओ ने कहा है कि शासकीय सेवा में रहते हुए पदीय कर्तव्य एवं दायित्वों के निर्वहन में गंभीर अनियमितता बरती गई है। यह कृत्य मप्र पंचायत सेवा आचरण नियम के विपरीत होकर गंभीर कदाचरण की श्रेणी में आता है। इस सम्बंध में कारण बताओ सूचना पत्र का जवाब प्रमाण सहित २८ सितम्बर तक समक्ष में उपस्थित होकर देने को कहा है। जवाब समय-सीमा में प्राप्त न होने की स्थिति में इनके विरुद्ध अनुशासनात्मक कार्रवाई की जाएगी।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned