scriptसेवानिवृत्त शिक्षक ने विद्यालय के नाम कराई 1.21 लाख की एफडी | Patrika News
सिवनी

सेवानिवृत्त शिक्षक ने विद्यालय के नाम कराई 1.21 लाख की एफडी

– जररूतमंद विद्यार्थियों के लिए काम आएगी राशि, अनुकरणीय पहल

सिवनीJun 28, 2024 / 06:07 pm

sunil vanderwar

सेवानिवृत्त शिक्षक शर्मा का सम्मान।

सेवानिवृत्त शिक्षक शर्मा का सम्मान।

सिवनी. विकासखण्ड सिवनी के शासकीय हाईस्कूल उड़ेपानी में पदस्थ शिक्षक अनिल शर्मा की सेवानिवृत्ति पर शाला में उनका विदाई समारोह आयोजित किया गया। शाल-श्रीफल के साथ उपहार से शर्मा को सम्मानित किया गया। कार्यक्रम में जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय से एडीपीसी विपनेश जैन, जिला शिक्षा केंद्र सिवनी एपीसी चुनेंद्र बिसेन, जनशिक्षक रामफल टेंभरे, संजय गढ़ेवाल, ग्रामीण एवं अभिभावक उपस्थित रहे।

सेवानिवृत्त शिक्षक अनिल शर्मा ने बताया कि उनकी प्रारंभिक शिक्षा इसी गांव में हुई। उनकी प्रथम नियुक्ति 10 जुलाई 1984 को शासकीय प्राथमिक विद्यालय देवघाट में हुई थी। तभी से उनकी हार्दिक इच्छा उड़ेपानी में शिक्षकीय सेवा देने की थी और इच्छा भी पूरी हुई। यहां 25 वर्ष सेवा देने का अवसर मिला जो कि सौभाग्य की बात है। सेवानिवृत्ति पर शर्मा ने शाला को एक लाख 21 हजार की राशि सहयोग के रूप में देने की घोषणा की। इस राशि का उपयोग निर्धन छात्रों के हित में करने का निर्णय लिया। प्रधानपाठक एनएस बैस ने कहा कि सेवानिवृत्त शिक्षक शर्मा की यह अनुकरणीय पहल है। इससे अन्य शिक्षक व ग्रामीण भी विद्यालय व विद्यार्थियों की आवश्यकता को पूरी करने आगे आएंगे।

जेब खर्च में कमी कर जुटाए रुपए-
सेवानिवृत्त शिक्षक शर्मा ने शासकीय हाईस्कूल उड़ेपानी के नाम पर बैंक में 1.21 लाख रुपए की एफडी करने की जानकारी दी है। बताया कि यह राशि उन्होंने अपने जेब खर्च की राशि में से बचत करते हुए एकत्रित किया है। इसके बारे में उन्होंने परिवार के लोगों से भी चर्चा नहीं की थी। जब राशि एकत्रित कर लिया और सेवानिवृत्त होने का दिन आया, तब परिवार के लोगों को अपने मन की बात बताई। जिस पर परिवारजनों ने भी खुशी जाहिर किया। एफडी की यह राशि सुरक्षित जमा रहेगी। इस राशि के ब्याज से जरूरतमंद बच्चों का शुल्क, किताब-कॉपी आदि जरूरत पूरी की जाएगी।

93 बौद्धिक दिव्यांग बच्चों को दी नि:शुल्क एमआर किट-
नगर के गंगा नगर स्थित सीडब्ल्यूएसएन छात्रावास में जिले के चिन्हित एसटीएससी वर्ग के 93 बौद्धिक दिव्यांग बच्चों को नि:शुल्क एमआर किट सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्रालय भारत सरकार सिकंदराबाद के अंतर्गत संचालित राष्ट्रीय बौद्धिक दिव्यांगजन सशक्तिकरण संस्थान के माध्यम से प्रदान की गई। किट वितरण के मौके पर सिकंदराबाद से आईं डॉ. सुनीता देवी व्याख्याता पुनर्वास मनोवैज्ञानिक, रूपाली यादव विशेष शिक्षक ने किट प्रदान करते हुए दिव्यांग बच्चों व पालकों को उपयोगिता के बारे में बताया। इस दौरान डीपीसी एमके बघेल, एपीसी हरीश बर्मन, चुनेन्द्र बिसेन, एमआरसी खिमिया सनोडिया, सहायक वार्डन एमआरसी जीपी चंदेल, कैलाश रैकवार, सचिन पगारे, सतीश रोकड़े, उत्तम दहीकर, सरिता राहंगडाले, मनीषा पांडे, अर्चना सोनी व अन्य उपस्थित रहे।

Hindi News/ Seoni / सेवानिवृत्त शिक्षक ने विद्यालय के नाम कराई 1.21 लाख की एफडी

ट्रेंडिंग वीडियो