सफाइकर्मी हड़ताल पर, शहर कचरे से पटा

अध्यक्ष व सीएमओ ने कर्मचारी नेताओं को मनाने बुलाई बैठक, नहीं बनी बात

By:

Published: 16 May 2018, 12:20 PM IST

सिवनी. सफाई यूनियन कर्मचारी संघ मंगलवार को नियमितिकरण सहित विभिन्न मांगों को लेकर अनिश्चित कॉलीन हड़ताल पर चले गए। शहर की सफाई व्यवस्था बेपटरी हो गई। इसकी जानकारी होते ही नगर पालिका अध्यक्ष, उपाध्यक्ष, सभापति व सीएमओ यूनियन के नेताओं के को मनाने में लग गए। अलग-अलग दौर में उनके साथ हुई कई बैठकों के बाद भी वे नहीं माने, जिससे शहर में कहीं भी सफाई नहीं हुई। दुकान व मकान से निकले कचरों के ढेर अलग-अलग स्थानों पर दिखे।
नगर पालिका के स्वास्थ्य शाखा में दोपहर में जुटे कर्मचारी नेताओं से अध्यक्ष आरती शुक्ला और सीएमओ नवनीत पांडेय ने हड़ताल खत्म कर काम पर वापस लौटने की बात कही, लेकिन वे मानने को तैयार नहीं हुए। कर्मचारियों का कहना था कि जब तक उनका विनियमितिकरण नहीं हो जाता वे हड़ताल खत्म नहीं करेंगे। उन्होंने कहा कि बरघाट व लखनादौन नगर परिषद में कर्मचारियों की विनियमितकरण हो चुकी है। आसपास के सभी जिलों में भी विनियमितिकरण किया जा चुका है। ऐसे में हम लोगों का अब तक क्यों नहीं हुआ? नपा अध्यक्ष व सीएमओ पांडेय ने कहा कि यह हमारे यहां से नहीं हो पाएगा। जेडी कार्यालय से २३ तक किए जाने का पत्र मिला है। इसलिए २३ तक आपसभी इंतजार करें। कर्मचारियों ने कहा कि यदि ऐसी बात है तो हमलोग २३ के बाद ही काम पर लौटेंगे। अध्यक्ष व सीएमओ ने शहर में सेनाभर्ती का हवाला दिया, लेकिन वे मानने को तैयार नहीं हुए। कर्मचारियों ने कहा कि सेनाभर्ती में बाहर के लोग आ रहे हैंं और यह सेना से जुड़ा मामला है। ऐसे में हमलोग वहां पर सफाई कर सकते हैं। हालांकि दोपहर तीन बजे तक सेनाभर्र्ती में भी सफाई करने जाने पर सहमति नहीं बनी। बैठक के दौरान कर्मचारी नेता के अलावा नगर पालिका उपाध्यक्ष पुरुषोत्तम साहू, सभापति अलकेश रजक, स्वास्थ्य अधिकारी आरके नामदेव, राजस्व निरीक्षक गजेंद्र पांडेय आदि रहे।

घर के बाहर डस्टबीन रखकर करते रहे इंतजार
शहर के विभिन्न मोहल्लों में स्वच्छता गीत बजाते हुए घूमने वाला कचरा वाहन नहीं पहुंचे। सुबह से शाम तक घर के बाहर डस्टबीन रखकर लोग कचरा वाहन का इंतजार करते रहे। दुकानों के बाहर भी कचरों के ढेर लगे रहे। दुकानदारों ने बताया कि हम लोग यह देख रहे थे कि कब कचरों की सफाई होगी, लेकिन शाम तक कोई उठाने नहीं आया।

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned