सरकार ने नहीं सुनी तो खुद खड़ा कर दिया नदी पर पुल

पोंगार-भालीवाड़ा के बीच से बहती है सागर नदी

By: sunil vanderwar

Updated: 16 Jan 2019, 12:12 PM IST

Seoni, Seoni, Madhya Pradesh, India

सिवनी. जिले में सिवनी और केवलारी ब्लॉक में आने वाले दो गांव पोंगार और भालीवाड़ा के बीच से बहने वाली सागर नदी पर पुल न होने से दोनों गांव के बीच संपर्क नहीं हो पाता। प्रशासनिक अधिकारी और जनप्रतिनिधि वर्षों से वादे करते आ रहे हैं, लेकिन हो कुछ नहीं रहा। ऐसे में हर वर्ष ग्रामीण ही बांस-बल्ली का पुल बनाकर वैकल्पिक रास्ता बनाते रहे हैं, इस वर्ष भी ग्रामीणों ने ऐसा ही किया है।
पोंगार के ग्रामीण शिवराज ठाकुर, उमेश ठाकुर, दुर्गेश ठाकुर, घूरो ठाकुर व अन्य ने बताया कि ग्राम पोंगार के लोगो द्वारा पिछले कई वर्षों से जनवरी के माह में अपने गांव से भालीवाड़ा की ओर के गांव आने-जाने के लिए सागर नदी पर बांस-बल्ली का पुल बनाते आ रहे हैं, किन्तु शासन प्रशासन ने इसके लिए अब तक कुछ नहीं किया है।
इस वर्ष भी पोंगार के ग्रामीणों द्वारा गत 14 जनवरी को पिछले वर्षों की भांति सागर नदी पर बांस-बल्ली का अस्थायी पुल बनाया जाकर पैदल और दोपहिया वाहनों के आवाजाही की व्यवस्था बनाई है।
ग्रामीणों ने बताया कि पोंगार गांव के निकट से सागर नदी बहती है। दिसंबर-जनवरी माह में नदी पर पानी कम हो जाने से लोग नदी के अंदर से आना-जाना करते रहते थे, किन्तु जब से भीमगढ़ नहर का पानी इस क्षेत्र के किसानों के खेतों में जा रहा है। तब से इस नदी पर जल स्तर बढ़ गया है, जिस कारण इस गांव के लोगो के सागर के दूसरी तरफ के भालीवाड़ा सहित अन्य ग्रामों में आना-जाना बाधित हो जाता है।
गा्रम के जागरूक युवक शिवराम ठाकुर व अन्य ने बताया कि हर वर्ष उनके द्वारा इस नदी पर बांस बल्ली का पुल बनाकर शासन-प्रशासन को अपनी समस्या से अवगत कराया जा रहा है, किन्तु अभी तक इस ओर किसी ने ध्यान नहीं दिया। पिछले पंचवर्षीय में तत्कालीन केवलारी विधायक रहे ठा रजनीश सिह, तत्कालीन भाजपा जिलाध्यक्ष एवं वर्तमान केवलारी विधायक राकेश पाल सिंह, केवलारी एसडीएम सहित अन्य प्रशासनिक अधिकारियों से भी इस मांग के लिए मदद मांगी गई थी, लेकिन सभी ने आश्वासन मात्र दिया अब तक हुआ कुछ नहीं है।

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned