बंदूक के बल पर रात में निकाल रहे रेत, विरोध करने वालों के साथ मारपीट, पुलिस मौन

बिना बोर्ड लगे कैसे हो रहा खनन, जांच हुई तो राजस्व के नुकसान का मामला आएगा सामने, आरोप

By: akhilesh thakur

Published: 04 Mar 2021, 09:01 AM IST

सिवनी. बरघाट विधानसभा क्षेत्र में उन नदियों से भी रेत निकाली जा रही है, जहां की अनुमति नहीं है। ग्रामीणों को बंदूक के बल पर धमकाया जा रहा है। रात होते ही नदियों में मशीन उतारी जा रही है। पूरी रात अवैध तरीके से ढुलाई हो रही है। यह कार्य क्षेत्र के कुछ अपराधिक प्रवृत्ति के लोग कर रहे हैं, विरोध करने पर वे मारपीट कर रहे हैं। यह बात कलेक्टर डॉ. राहुल हरिदास फटिंग से बुधवार को मिलकर भाजपा के पूर्व बरघाट विधानसभा क्षेत्र के प्रत्याशी नरेश बरकड़े ने कही। उन्होंने चेतावनी दी कि यदि जांच कराकर आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई नहीं हुई तो भाजपा संगठन के राष्ट्रीय व प्रदेशस्तर के पदाधिकारियों के साथ मुख्यमंत्री से मिलकर शिकायत की जाएगी।
कहा कि अवैध रेत खनन कर रहे अपराधिक प्रवृत्ति के लोगों ने जिन स्थानों से अवैध तरीके से रेत खनन किया है, वहां जांच कराई जाए तो 20से 30 फीट के गड्ढे मिलेंगे, जहां से निकाले गए रेत से शासन को करोड़ों रुपए के राजस्व के नुकसान का मामला सामने आएगा। जिले में रेत खनन का ठेका जिस कंपनी को दिया गया है। उससे संबंधित क्षेत्रों में बोर्ड व मुंडारा लगाकर खनन करवाया जाए। जिन क्षेत्रों की अनुमति नहीं है, वहां किसी कीमत पर खनन न होने दिया जाए। कहा कि इस मामले को गंभीरता से लेते हुए कलेक्टर डॉ. राहुल हरिदास फटिंग ने कार्रवाई किए जाने का आश्वासन दिया है। उन्होंने बंदूक लेकर रात में घाटों पर जाने वाले अपराधिक प्रवृत्ति के लोगों को किसी भी कीमत पर नहीं बख्शे जाने की बात कही है। नरेश बरकड़े के साथ कलेक्टर से मिलने गए लोगों में जनपद पंचायत अध्यक्ष बरघाट सुनील तेकाम, जिला पंचायत सदस्य गोमती ठाकुर व जिला पंचायत सदस्य विमला बरकड़े रही।


11 दिन पार आरोपी पुलिस की पकड़ से दूर


गौरतलब है कि २० फरवरी को भाजपा के पूर्व विस प्रत्याशी बरकड़े अंतिम संस्कार में शामिल होने ग्राम गोरखपुर के हिर्री नदी पर गए थे। वहां ग्रामीणों ने अवैध खनन की शिकायत की तो पास में मशीन से रेत खुदाई कर रहे लोग से बरकड़े पूछताछ करने लगे। इसबीच मशीन के आपरेटर के काल करने पर मौके आए लोगों ने उनके साथ मारपीट किया, जिस समय मारपीट हुई उस समय वहां बरघाट पुलिस भी मौजूद थी। बरकड़े की शिकायत के 24 घंटे बाद बरघाट पुलिस ने एससी/एसटी एक्ट सहित संबंधित धाराओ में अमित उर्फ शेरू सूर्यवंशी, विक्की सूर्यवंशी, लवी राय उर्फ सिद्धार्थ सहित चार लोगों के खिलाफ नामजद प्रकरण दर्ज किया। प्रकरण दर्ज करने के 11दिन बाद भी आरोपी पुलिस की पकड़ से दूर है। जबकि पांच दिन पूर्व इस मामले में बरकड़े ने पुलिस अधीक्षक कुमार प्रतीक से मिलकर पूरे मामले से अवगत कराया था। इस संबंध में बरघाट टीआई प्रवीण धुर्वे ने बताया कि आरोपियों के गिरफ्तारी का प्रयास किया जा रहा है।


40 करोड़ से 27 किमी सड़क बना रही कंपनी का वाहन अवैध उत्खनन करते पकड़ाया

सिवनी. कान्हीवाड़ा से कलारबांकी होकर बंडोल तक करीब २७ किमी की सड़क करीब ४० करोड़ रुपए में मेसर्स अरूण अवस्थी दतिया की कंपनी बना रही है। उक्त कंपनी के वाहन को अवैध उत्खनन और परिवहन के मामले में जिला खनिज अधिकारी आशालता वैध ने बुधवार को पकड़कर कार्रवाई की है। उन्होंने कलेक्टर डॉ. राहुल हरिदास फटिंग के निर्देश पर की जा रही कार्रवाई के दौरान उसके वाहनों को पकड़ा है।
जिला खनिज अधिकारी वैध ने बताया कि बारापत्थर निवासी रामस्वरूप राय आ. इश्वरी प्रसाद राय के पत्थर खदान से अवैध तरीके से उत्खनन एवं परिवहन करते हुए उक्त कंपनी के वाहन क्रमांक एमपी 32 एचए 0511, एमपी 32 एचए 0711, एमपी २२ एच 2245 व एमपी 07 जीए 0615 को पकड़ा है। सभी वाहनों को खनिज अमले ने बंडोल थाना में खड़ा करा दिया है। बताया कि रामस्वरूप के खिलाफ अवैध उत्खनन का प्रकरण तैयार किया गया है। इसके पूर्व खनिज अमला ने मंगलवार को अवैध उत्खनन और परिवहन की जांच के दौरान ग्राम खैरीटेक निवासी लोकेश सनोडिया द्वारा अवैध तरीके से मुरम का उत्खनन करते हुए पाए जाने पर जेसीबी क्रमांक एमपी 22 डीए 0237, ट्रैक्टर क्रमांक एमपी २२ एए 4685, एमपी 28 एए 1540, एमपी 22 एए 4352 को पकड़कर कलेक्ट्रेट परिसर में खड़ा कराया है। उक्त के खिलाफ अवैध उत्खनन का प्रकरण दर्ज कर कलेक्टर द्वारा 22 हजार 500रुपए वसूल किए गए हैं।

Show More
akhilesh thakur Bureau Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned