देखिए गीत-संगीत के बीच महाप्रभु का गुणगान

Sunil Vandewar

Publish: Feb, 19 2019 09:02:59 PM (IST)

Seoni, Seoni, Madhya Pradesh, India

सिवनी. छपारा ब्लॉक के चमारीखुर्द क्षेत्र के ग्राम खमरिया में चल रही श्रीमदभागवत कथा के दौरान गीत-संगीत के बीच कथा व्यास कृष्ण रसिक पंडित ओमशंकर शास्त्री ने महाप्रभु श्रीकृष्ण की लीला का भावपूर्ण गुणगान किया।
वर्णन करते हुए कहा कि भगवान ने धर्म की रक्षा के लिए हमेशा धरती पर अवतरण कर धर्म को झुकने नहीं दिया। इसका मतलब सत्य की जीत हुई है। सत्य परेशान हो सकता पर कभी हारता नहीं क्योंकि भगवान स्वयं सत्य पर चलने वाले के सारथी बनते हैं। भगवान कृष्ण से स्वयं गिरिराज पूजन कर इंद्र का घमंड चूर किया।
भगवान धर्म की रक्षा करने के लिए देवताओं को भी सबक सिखाने से पीछे नहीं हटे इसका सबसे बड़ा उदाहरण गिरिराज पूजन से मिलता है। वहीं दुष्ट व्यक्ति को किस प्रकार सजा देना चाहिए यह उन्होंने कालिया देह का मर्दन कर बताया है। इस बात से यह सामने आता है कि अंत में सब पापों का कर्म सामने आएगा और इसका दंड आपको ही भोगना है, तो फिर क्यों यह सब करें। अच्छी भावना के साथ किए हर कार्य में सफलता के साथ मन को परम शांति मिलती है। कथा में प्रसंग से बताया कि भगवान ने हर मानव को अदभुत शक्ति, गुण देकर भेजा है। मानव को अपने अंदर छिपी उस प्रतिभा को जगाने के लिए वेद, शास्त्र, उपनिषद, पुराण, सत्संग, महापुरुष का सहारा लेना चाहिए।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned