सुखदेव, राजगुरु, भगतसिंह की शहादत पर हर इंसान रो पड़ा

 सुखदेव, राजगुरु, भगतसिंह की शहादत पर हर इंसान रो पड़ा

Santosh Dubey | Publish: Mar, 24 2017 06:04:00 PM (IST) Seoni, Madhya Pradesh, India

डीपी चतुर्वेदी कॉलेज में छात्रों ने शहीदों को किया याद

सिवनी. अमर शहीदों की याद में नगर के डीपीसी महाविद्यालय में आयोजित कार्यक्रम में अध्ययनरत छात्र-छात्राओं ने अपनी जान की परवाह किए बिना ही देश की आजादी में अहम योगदान देने वाले अमर शहीदों को याद करते हुए देश भक्ति विचार प्रकट किए। गुरुवार को डीपीसी विज्ञान, वाणिज्य, कला एवं शिक्षा महाविद्यालय व डीपीसी एक्सीलेंस के संयुक्त तत्वावधान में उक्त कार्यक्रम आयोजित किया गया।


 
कार्यक्रम में भगतसिंह, राजगुरू, एवं सुखदेव की शहादत, शहीद दिवस के रूप में मुख्य अतिथि रमेश श्रीवास्तव चातक, जगदीश तपिश संस्था के चेयरमेन डॉ. केके चतुर्वेदी एवं प्राचार्य डॉ. अमिता चतुर्वेदी की उपस्थिति में तीनों शहीदों को पुष्पांजलि प्रदान कर प्रारंभ हुआ।
 इस अवसर पर डीपीसी रोल मॉडल एक्सीलेंस स्कूल ड्रीमलैण्ड सिटी के छात्रों ने भाषण प्रस्तुत किया जहांं भगतसिंह के जीवनवृत्त पर अर्जुन सिंह पायक, सुखदेव के जीवनवृत्त को अराध्य चतुर्वेदी एवं राजगुरु के जीवनवृत्त पर अथर्व चतुर्वेदी ने विस्तार से प्रकाश डाला।
कार्यक्रम में ओजपूर्ण गीत तथा भाषण प्रस्तुत किए गए जिनमें रिजु जैन, माधुरी डेहरिया, अनुभा चौरसिया, रविशंकर, मोनिका हिरनखेड़े, अर्चना विश्वकर्मा, अनीता कर्वेती, शिवम राय, रीना पटले, आयुषी अग्रवाल ने विचार रखे तथा रेखा चंदानी ने राष्ट्रभक्ति गीत प्रस्तुत किया ।
कार्यक्रम के दौरान मुख्य अतिथि श्रीवास्तव ने समस्त उपस्थित छात्रों को राष्ट्रभक्ति सीखने विद्यालयों एवं महाविद्यालयों में ऐसे आयोजनों की आवश्यकता को जरूरी बताया। जगदीश तपिश ने संस्था को राष्ट्रीय आयोजन का अग्रदूत बताते हुए प्रत्येक छात्र में राष्ट्रीयता की भावना सतत जारी रखने पर बल दिया। संस्था के चेयरमेन डॉ. केके चतुर्वेदी ने सुखदेव, भगतसिंह एवं राजगुरु के जीवनवृत्त पर प्रकाश डालते हुए कहा कि 'सुखदेव, राजगुरू, भगतसिंह की शहादत पर हर इंसान रो पड़ा, आज 23 मार्च को फिर याद में उनकी, मेरा भारत महान रो पड़ा।
इस मौके पर प्राचार्य डॉ. अमिता चतुर्वेदी ने सभी का आभार व्यक्त किया। कार्यक्रम को सफल बनाने में शिक्षा संकाय विभागाध्यक्ष प्रो. नीलेश सिंह बघेल, प्रो. एम.एल. टेम्भरे, प्रो. सतीश शिववेदी, प्रो. अनीश त्रिवेदी, विधि विभाग से प्रो. अखिलेश यादव एवं समस्त प्राध्यापक उपस्थित थे। इस अवसर पर श्रीराम आदर्श शिक्षा समिति से रामकुमार चतुर्वेदी द्वारा श्रेष्ठ भाषण एवं गीतों को पुरस्कृत किया गया। कार्यक्रम का संचालन प्रो. दीपेन्द्र शुक्ला के मार्गदर्शन में गोविन्द देशमुख तथा राकेश बिसेन ने किया।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned