एसपी ने कहा कोई छेड़े आपको तो मार दो थप्पड़

एसपी ने कहा कोई छेड़े आपको तो मार दो थप्पड़

Sunil Vandewar | Publish: Jan, 25 2018 11:34:48 AM (IST) Seoni, Madhya Pradesh, India

पुलिस अधीक्षक ने जनसंवाद में छात्राओं से कहा

सिवनी. स्कूल-कॉलेज आते-जाते या कहीं और कोई आपको छेड़े तो बिना देर किए उसके गाल पर दो थप्पड़ मार दीजिए, ये बात आपसे खुद एसपी बोल रहा है। तभी तो ये छेडऩे वाले सुधरेंगे। क्योंकि ऐसे लोग अब डांटने से नहीं पीटने से ही सुधरेंगे। ये बात कोतवाली में आयोजित जनसंवाद कार्यक्रम के मौके पर पुलिस अधीक्षक तरूण नायक ने छात्राओं से कहे।
राष्ट्रीय बालिका दिवस के अवसर पर सामाजिक चेतना अभियान के अंतर्गत महिला सशक्तिकरण विभाग व पुलिस के समन्वयक से जिले के सभी थानों में जनसंवाद कार्यक्रम का आयोजन होना है। इसकी शुरुआत बुधवार को की गई। कोतवाली परिसर में आयोजित कार्यक्रम में कन्या महाविद्यालय व स्कूली छात्राओं को प्रेरित करते पुलिस अधीक्षक ने कानूनी जानकारी दी। उन्होंने कहा कि जब आपके पास मोबाइल न हो और कहीं शरारतियों के बीच फंस जाएं, तो डरें नहीं तुरंत आत्मरक्षा के उपाय को अपनाना चाहिए।
पुलिस अधीक्षक से किए सवाल -
जनसंवाद के मौके पर छात्राओं ने पुलिस अधीक्षक से मन में उठ रहे सवाल पूछे। एक छात्रा ने पूछा कि सर सडक़ पर कोई हमें छेड़ता है और हमारे पास मोबाइल नहीं है, तो कैसे पुलिस उन पर कार्रवाई करेगी। एसपी ने कहा कि आप उस रास्ते की जानकारी क्षेत्र की पुलिस को दीजिए, पुलिस उस रास्ते पर गश्ती कर छेडऩे वालों पर सख्त कार्रवाई करेगी। एक छात्रा ने कहा कि मोबाइल चोरी पर पुलिस कार्रवाई नहीं कर रही है, तब एसपी ने कहा कि एप पर शिकायत कीजिए साइबर सेल की मदद से शीघ्र कार्रवाई होगी।
जनसंवाद से छात्रों को किया वंचित -
पुलिस अधीक्षक ने जनसंवाद में देखा कि छात्राएं ही नजर आ रही हैं। तब उन्होंने जिला महिला सशक्तिकरण अधिकारी अभिजीत पचौरी से माइक पर ही पूछ लिया कि छात्रों को जनसंवाद में क्यों नहीं बुलाया, अधिकारी कोई जवाब नहीं दे सके। तब पुलिस अधीक्षक ने कहा कि यह आयोजन काफी देर चलना है छात्रों को भी बुलवाइए। महिला हिंसा, महिलाओं के कानूनी अधिकार क्या हैं इस बात से छात्रों को भी अवगत कराना जरूरी है। आयोजन में जिला एवं सत्र न्यायाधीश, कन्या महाविद्यालय की प्राचार्य सहित अन्य उपस्थित रहे।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned