कॉलेज में एडमीशन के लिए सड़क पर आए विद्यार्थी

Sunil Vandewar

Updated: 18 Aug 2018, 01:09:28 PM (IST)

Seoni, Madhya Pradesh, India

सिवनी. रानी दुर्गावती विश्वविद्यालय अंतर्गत सिवनी पीजी कॉलेज, बरघाट, केवलारी और अन्य जगहों पर विद्यार्थियों को प्रवेश (एडमीशन) न मिलने से नाराजगी है। विद्यार्थियों द्वारा लगातार कॉलेज प्रबंधन से सीट बढ़ाए जाने की मांग की जा रही है। जबकि कॉलेज प्रबंधन विश्वविद्यालय के निर्देश अनुसार ही आगे कार्य करने की बात कह रहा है। गुरुवार को विभिन्न छात्र संगठनों ने विद्यार्थियों को साथ लेकर कॉलेज से लेकर कलेक्ट्रेट तक रैली निकाल नारेबाजी, प्रदर्शन किया।
प्रवेश से वंचित छात्रों ने गुुरुवार को कलेक्ट्रेट पहुंचकर प्रदर्शन किया, गेट के सामने बैठकर नाराजगी जाहिर की। ज्ञापन सौंपने पहुंचे विद्यार्थियों का कहना है कि जिले के लगभग 500 विद्यार्थी सीएलसी चरण में ऑनलाइन पोर्टल बंद होने के कारण प्रवेश से वंचित रह गए हैं। शासन की योजना कॉलेज चलो अभियान, रूक जाना नहीं जैसे प्रयासों के कारण बड़ी संख्या में दूरस्थ ग्रामीण अंचलों के विद्यार्थी प्रवेश के लिए प्रेरित हुए हैं। ज्ञापन में विद्यार्थियों ने कहा है कि 14 अगस्त की रात 9 बजे करीब 500 की संख्या में विद्यार्थी महाविद्यालय परिसर में उपस्थित थे तब महाविद्यालय में पुलिस बल बुलाकर प्रवेश की मांग कर रहे विद्यार्थियों को लाठी दिखाकर दौड़ाया गया। उस दौरान जिला प्रशासन द्वारा आश्वासन दिया गया था कि गुरुवार को सभी विद्यार्थियों को प्रवेश के लिए बुलाया जाएगा परंतु 16 अगस्त को सुबह विद्यार्थियों को यह कहकर मना कर दिया गया कि पोर्टल बंद हो गया है, किसी को प्रवेश नही मिलेगा। इसलिए प्रशासन से दो दिन के लिए प्रवेश पोर्टल खोलकर महाविद्यालय में प्रवेश हेतु सीट वृद्धि कर प्रवेश देने की मांग की है। इस मांग को लेकर शंकर माखीजा छात्रा प्रीति सेन, राजकुमारी, कामनी सर्राठे, खुसबू श्रीवास, पूजा बघेल आदि शामिल है।
एबीवीपी ने बंद कराया कॉलेज, कहा खोला जाए पॉर्टल -
अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद सिवनी द्वारा पीजी कॉलेज में भविष्य वंचित छात्र छात्राओं के साथ धरना प्रदर्शन किया एवं महाविद्यालय को बंद कराया गया। इसके पश्चात उचित कार्रवाई ना होने पर सभी कार्यकर्ताओं के साथ कलेक्ट्रेट पहुंचकर प्रशासनिक अधिकारी को मांग से अवगत कराया। जिला संयोजक अंकित सिंह ठाकुर ने बताया कि महाविद्यालय में बहुत से से छात्र-छात्राएं हैं जोकि प्रवेश से वंचित हैं ऑफ प्रवेश की पात्रता रखते हैं परंतु सीट उपलब्ध न होने के कारण महा विद्यालय द्वारा उन एडमिशन नहीं दिया जा रहा है। प्रदर्शन के बाद महाविद्यालय प्रशासन द्वारा उच्च शिक्षा आयुक्त के नाम सीट बढाने एवं पोर्टल खोलने के लिए पत्र भेजा गया है। जिसमें अभाविप द्वारा यह मांग की गई है कि जल्द से जल्द पोर्टल नही खुलने पर अभाविप उग्र आंदोलन करेगी। इस दौरान अभाविप के जिला संयोजक जिला सह संयोजक आयुष चौहान, बादल बेन, खिरेश जरगे, मयूर सोन, योगेश पंचेश्वर, प्रिंस दुबे, रोनक पवमें, मोहित जंघेला व अन्य छात्र-छात्राएं उपस्थित रहे।
इनका कहना है -
पूर्व वर्ष की तुलना में इस वर्ष वैसे भी अधिक एडमिशन हो चुके हैं और वर्तमान में नए प्रवेश देने के बाद उन्हें अध्यापन के लिए बैठाने की समस्या निर्मित होगी। ऐसी स्थिति में हम विश्वविद्यालय से चर्चा के उपरांत जो निर्णय होगा वह विद्यार्थियों के हित में करने का प्रयास करेंगे।
एसके चिले प्राचार्य, शासकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय सिवनी

Show More

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned