बैंक से लिया कर्ज नहीं पटाने पर हो सकती है ऐसी कार्रवाई

बैंक से लिया कर्ज नहीं पटाने पर हो सकती है ऐसी कार्रवाई

Sunil Vandewar | Publish: Jan, 21 2018 02:01:01 PM (IST) Seoni, Madhya Pradesh, India

कलेक्टर ने तहसीलदार को दिए निर्देश

सिवनी. बैंक से लिए गए कर्ज का समय पर भुगतान नहीं करना बकायादार को महंगा पड़ सकता है। सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया शाखा अरी के बकायादार चंद्रप्रकाश पटेल निवासी ग्राम सर्रा थाना अरी तहसील बरघाट की बंधक सम्पति का भौतिक कब्जा बैंक को सौपने के निर्देश कलेक्टर एवं दंडाधिकारी गोपालचंद्र डाड ने तहसीलदार बरघाट को दिए हैं।
कलेक्टर न्यायालय प्रकरण में लेख है कि 17 फरवरी 2016 को अनावेदक द्वारा सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया की शाखा अरी से ग्राम में स्थित अकृषि भूमि को बंधक रख 10 लाख का ऋण प्राप्त किया था। परन्तु अनावेदक द्वारा नियमित रूप से अदागयी न करने से 28 अगस्त २०17 को गैर निष्पादक खाता होकर ब्याज सहित 9 लाख 59 हजार 446 रुपए बकाया होना पाया गया।
कलेक्टर न्यायालय में प्रचलित प्रकरण में जिला कलेक्टर एवं दंडाधिकारी गोपाल चंद्र डाड द्वारा पाया गया कि बैंक द्वारा अनावेदक को ऋण अदायगी के लिए पर्याप्त लिखित एवं मौखिक जानकारी दी गई है। इसके साथ ही बैंक प्रबंधक द्वारा बकायादार द्वारा ऋण जमा न करने की जानकारी सार्वजनिक की।
तत्पश्चात बंधक संपत्ति को अधिग्रहण की कार्रवाई की गई तथा प्रतीकात्मक कार्रवाई के उपरांत भी बकायादार द्वारा ऋण जमा नहीं करवाया गया। उक्त बकायादार द्वारा भी प्रकरण में कोई भुगतान संबंधी कोई दस्तावेज प्रस्तुत नहीं किए जाने की बात कही गई है।

समर्थन मूल्य में गेहूं उपार्जन के लिए 15 फरवरी तक कृषक करवाएं पंजीयन

सिवनी. जिले में रबी विपणन वर्ष 2018-19 में समर्थन मूल्य पर गेहूं उपार्जन के लिए 15 जनवरी से 15 फरवरी तक किसानों का नवीन पंजीयन निर्धारित उपार्जन केन्द्रों पर किया जाएगा।
कृषक जिन्होंने गेहूं उपार्जन के समर्थन मूल्य का लाभ प्राप्त करने के लिए विगत वर्ष में पंजीयन नहीं कराया है। ऐसे किसान आधार कार्ड, मोबाइल नंबर बैंक खाता क्रमांक, समग्र परिवार आईडी एवं ऋण पुस्तिका के साथ अपने क्षेत्र के निर्धारित गेहूं उपार्जन केंद्र में पहुंचकर अपना नवीन पंजीयन करा सकते हैं।
विगत वर्ष के पंजीकृत किसान भी इस अवधि में अपने डेटा में संशोधन कराकर पंजीयन अपलोड करा सकते हैं। किसान अपने बोए गए रकबे की प्रमाणित जानकारी उपलब्ध कराएं ताकि 20 फरवरी तक होने वाले पुराने एवं नवीन पंजीयन के सत्यापन कार्य में कोई विसंगति की स्थिति न बने। जिला आपूर्ति अधिकारी ने किसानों से कहा है कि गेहूं उपार्जन के लिए अपने क्षेत्र के गेहूं उपार्जन केन्द्रों पर निर्धारित अवधि में अपना अनिवार्य रूप से कराकर समर्थन मूल्य का लाभ प्राप्त कर सकते हैं।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned