गोपालगंज की महिला सरपंच चार हजार रुपए रिश्वत लेते चढ़ी लोकायुक्त के हत्थे

जमीन पर टावर लगाने अनापत्ति जारी करने मांगा थी 10 हजार रुपए

By: akhilesh thakur

Published: 26 Feb 2021, 10:20 AM IST

सिवनी. जनपद पंचायत सिवनी के ग्राम पंचायत गोपालगंज की सरपंच राजकुमारी बरकड़े बुधवार को चार हजार रुपए की रिश्वत लेते हुए लोकायुक्त जबलपुर की टीम के हत्थे चढ़ गई। लोकायुक्त की टीम ने उनके खिलाफ संबंधित धाराओ में कार्रवाई की है। टीम ने सरपंच को ग्राम पंचायत में रिश्वत लेते हुए पकड़ा है।
लोकायुक्त डीएसपी जेपी वर्मा ने बताया कि ग्राम पंचायत गोपालगंज निवासी जागेश्वर चंद्रवंशी पिता कंचनलाल चंद्रवंशी ने २२ फरवरी को शिकायत किया कि अपनी जमीन पर एक निजी मोबाइल कंपनी का टावर लगवाने के लिए ग्राम पंचायत सरपंच राजकुमारी से अनापत्ति प्रमाण पत्र की मांग किया। इसके लिए सरपंच ने १० हजार रुपए रिश्वत की मांग की। उसकी शिकायत के आधार पर लोकायुक्त की टीम बुधवार को ग्राम पंचायत भवन गोपालगंज पहुंची। टीम चारो तरफ फैल गई। इसबीच पीडि़त ने सरपंच को अग्रिम राशि चार हजार रुपए देने पहुंचा। सरपंच उससे पैसे ले रही थी। उसी समय लोकायुक्त की टीम ने उनको हिरासत में ले लिया। लोकायुक्त की टीम में डीएसपी वर्मा के अलावा निरीक्षक स्वप्निल दास, निरीक्षक मंजू किरण तिर्की, आरक्षक अमित मंडल, दिनेश दुबे व विजय सिंह बिष्ट, महिला आरक्षक लक्ष्मी एवं आरक्षक चालक राकेश विश्वकर्मा रहे।

बाक्स -
जिले में रिश्वत लेते जनप्रतिनिधि पहली बार पकड़ाई
जिले में अधिकारियों और कर्मचारियों के रिश्वत लेने का मामला कई बार सामने आ चुका है। जनप्रतिनिधि का रिश्वत लेते लोकायुक्त के हत्थे चढऩे का पहला मामला आया है। इस घटना के बाद जिले में हड़कंप मच गया है। खासकर जनप्रतिनिधियों में इस घटना की चर्चा जोरों पर है।

akhilesh thakur Bureau Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned