लो-वोल्टेज से किसानों की जली तीन दर्जन मोटरें

नाराज किसानों पहुंचे बिजली सब स्टेशन

सिवनी. बिजली की लगातार समस्या, अघौषित बिजली कटौती के साथ लो-वोल्टेज से परेशान दर्जनभर गांव के सैकड़ों किसान परेशान हैं। गुरुवार को दोपहर लो-वोल्टेज के कारण खेतों में सिंचाई कार्य में लगी लगभग 30 मोटर जलकर नष्ट हो गई। नाराज किसान किसनपुर सब स्टेशन पहुंचकर घेराव किया। नाराज किसानों में एक किसान बिजली समस्या से परेशान होकर पेड़ पर बंधी रस्सी को गले से लगाने की कोशिश की जिस पर कुछ दौड़े और से बमुश्किल नीचे उतारा।
गुरुवार को ग्राम जैतपुरकला, गंगई, संगई, किसनपुर, सरगापुर, थरकाखेड़ा, मड़वा, खैरी समेत अनेक गांव के किसान बिजली कार्यालय पहुंचे थे। किसानों में देवेंद्र बघेल, सतेंद्र पटेल, भैया पटेल, बसंत बघेल, संजू, रामकृष्ण, गुड्डू पटेल, संतसिंह, संजू, जयअम्बे, रविन्द्र, दशरथ, रेशमी मास्टर, धनाराम बघेल, जागेश्वर रामेश्वर, धूरसिंह, मस्तराम, लल्लू, राकेश, रंजीत, राजेश, नितिन, निरंजन, राजकिशोर आदि किसानों ने बस स्टेशन पहुंचकर बिजली अधिकारियों से मांग की है कि जिन किसानों की मोटरें जली हैं उन्हें इसका हर्जाना दिया जाए नहीं तो वे सेवा में कमी पाए जाने पर उपभोक्ता फोरम में केस डालकर न्याय की लड़ाई लड़ेगें।
वहीं सब स्टेशन में किसानों के पहुंचने की जानकारी जब वृत्त कार्यालय पहुंची तो अधिकारी ने सहायक यंत्री को मौके पर बिजली सब स्टेशन किसनपुर पहुंचाया। जहां उन्होंने किसानों की मांग सुना और बिजली की उचित व्यवस्थाएं बनाए जाने का आश्वासन दिया जिस पर सभी किसान वापस अपने-अपने गांव चले गए।
शुक्रवार की को स्थिति जस की तस
वहीं किसानों ने बताया कि शुक्रवार को बिजली ऑफिस से डी पहुंचे लेकिन बिजली की पूर्ववत कटौती पुन: चालू हो गई। इससे किसानों में पुन: आक्रोश व्याप्त है। वहीं किसानों ने आगे उग्र आंदोलन की चेतावनी दी है।
ग्रामवासियों ने बताया कि पहले तीन सर्किट अलग-अलग बने थे। जिसके तहत चार-चार घण्टे की कटौती की जाती थी। जिससे विद्युत वितरण कम्पनी को नुकसान नहीं उठाना पड़ रहा था और किसानों व ग्रामीणों का भी ठीक-ठाक कार्य चल रहा था। वहीं किसानों ने जब इस मामले में डी से बात की तो उन्होंने बताया कि दो फेश में 12 व तीन फेस में 12 घण्टे ही बिजली दी जाएगी।

Show More
santosh dubey
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned