scriptThree out of five students of Seoni trapped in Ukraine, two likely to | यूके्रन में फंसे सिवनी के पांच छात्रों में तीन आए दो के जल्द पहुंचने की संभावना | Patrika News

यूके्रन में फंसे सिवनी के पांच छात्रों में तीन आए दो के जल्द पहुंचने की संभावना

आदेगांव, घंसौर के छात्र आएं, जैतपुर कला और छपारा की छात्रा अभी भारत नहीं पहुंची

सिवनी

Updated: March 04, 2022 09:57:05 am

सिवनी/छपारा/आदेगांव. रूस व यूक्रेन के बीच चल रहे युद्ध के बीच वहां के बिगड़े हालात ने जिले से मेडिकल की पढ़ाई करने गए पांच विद्यार्थियों के परिजनों की चिंता बढ़ा दी। जिले के लिए सुखद बात यह है कि पांच में से तीन छात्र अपने घर पहुंच चुके हैं। दो छात्राएं भारत नहीं पहुंची हैं, लेकिन वह सुरक्षित है। उनके परिजनों ने इसकी पुष्टि की है। परिजन प्रतिदिन उनसे चार से पांच बार बात कर रहे हैं।
बताया जा रहा है कि आदेगांव निवासी आयुष नेमा व अमन प्रजापति यूक्रेन के डेनिप्रोसिटी में मेडिकल की पढ़ाई कर रहे थे। छात्रों के मेडिकल की पढ़ाई का दूसरा व तीसरा वर्ष है। दोनों के घर पहुंचने के बाद परिजनों ने राहत की सांस ली है। घंसौर क्षेत्र का भी छात्र अपने घर सकुशल पहुंच चुका है। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र छपारा में पदस्थ स्टॉफ नर्स नीला मेश्राम की बेटी तनु मेश्राम यूक्रेन के कीव शहर में मेडिकल की पढ़ाई के लिए गई थी। सिवनी विकासखंड के ग्राम जैतपुरकला की भावना बघेल यूक्रेन के निप्रो शहर में मेडिकल की पढ़ाई के लिए इसी साल गई। इसबीच युद्ध छिडऩे से वह भी वहां फंस गई है। दोनों छात्राएं अभी भारत नहीं पहुंची है, लेकिन उनके सुरक्षित होने की बात बताई जा रही है। उम्मीद हैं वह भी जल्द घर पहुंच जाएंगी।
patrika_samachar1.jpg


चार दिन बंकर में बिताया फिर कीव से निकली बाहर, ट्रेन, बस व पैदल चलकर पहुंची पोलैंड बॉर्डर
- छपारा की तनु ने परिजनों को बताई आपबीती, जैतपुरकला की भवानी पहुंची रोमनिया बॉर्डर
सिवनी/छपारा. सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र छपारा में पदस्थ स्टॉफ नर्स नीला मेश्राम की पुत्री तनु यूक्रेन की राजधानी कीव में मेडिकल की पढ़ाई कर रही है। वह युद्ध के समय कीव में फंस गई। परिजनों के अनुसार वह जिस हॉस्टल में थी। उसमें ४०० छात्राएं थी। उनकी खुशकिस्मती से हॉस्टल के नीचे बंकर बना हुआ था, जिसमें युद्ध के दौरान सभी अंदर छुप जाती थी। परिजनों के अनुसार करीब चार दिन तनु ने बंकर में बिताए हैं।
परिजनों ने बताया कि तनु ने इसी साल मेडिकल की पढ़ाई के लिए यूक्रेन के कीव में एडमिशन लिया। कीव के एक हॉस्टल में रहकर वह पढ़ाई करती थी। इसबीच रूस और यूक्रेन के युद्ध शुरू हो गया। इसकी वजह से सभी बच्चे फंस गए।
युद्ध के दौैरान हॉस्टल के नीचे बंकर में छुपकर सभी इपनी जान बचाते थे। परिजनों ने बताया कि यूक्रेन शासन के निर्देशानुसार अलग-अलग सायरन बजाकर बंकर में छुपे लोगों को युद्ध और उसके बाद की जानकारी दी जाती थी। युद्ध का सायरन बजने पर सभी बंकर में जाकर छुप जाते थे। चार दिन बाद सभी कीव शहर से बाहर निकले। वे वहां ये यूक्रेन के लवयू शहर पहुंचे फिर करीब 12 किलोमीटर का सफर ट्रेन, बस व पैदल चलकर पोलैंड बॉर्डर पहुंच गए। वहां पर बस द्वारा पोलैंड के एक होटल में सभी को रूकवाया गया और अब सभी सुरक्षित है। सभी को उनका नंबर आने पर फ्लाइट से भारत लाया जा रहा है। तनु की मां ने बताया कि बीटिया ने जब बंकर में छुपे होने की जानकारी दी तो मैं मानसिक रूप से बहुत परेशान हो गई। बताया कि पोलैंड बार्डर पहुंचने के बाद राहत मिली है। उधर जैतपुर कला निवासी भवानी के दादा रमेश बघेल ने बताया कि हमारी बीटिया रोमानिया बार्डर पहुंच गई है। वह केन्द्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया की टीम के संपर्क में है। बार्डर पर उन लोगों को एक टेंट में सोने और खाने की व्यवस्था मिल गई है। जल्द ही वह घर आएगी। प्रतिदिन चार से पांच बार बात हो रही है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

इन बर्थ डेट वालों पर शनि देव की रहती है कृपा दृष्टि, धीरे-धीरे काफी धन कर लेते हैं इकट्ठाLiquor Latest News : पियक्कडों की मौज ! रात एक बजे तक खरीदी जा सकेगी शराबशुक्र देव की कृपा से इन दो राशियों के लोग लाइफ में खूब कमाते हैं पैसा, जीते हैं लग्जीरियस लाइफMorning Tips: सुबह आंख खुलते ही करें ये 5 काम, पूरा दिन गुजरेगा शानदारDelhi Schools: दिल्ली में बदलेगी स्कूल टाइमिंग! जारी हुई नई गाइडलाइनMahindra Scorpio 2022 का लॉन्च से पहले लीक हुआ पूरा डिजाइन और लुक, बाहर से ऐसी दिखती है ये पावरफुल कारबैड कोलेस्‍ट्राॅल और डिमेंशिया को कम करके याददाश्त को बढ़ाता है ये लाल खट्‌टा-मीठा फल, जानिए इसके और भी फायदेAC में लगाइये ये डिवाइस, न के बराबर आएगा बिजली बिल, पूरे महीने होगी भारी बचत

बड़ी खबरें

पटना एयरपोर्ट पर बड़ा हादसा, निर्माण कार्य के दौरान गिरा लोहे का स्ट्रक्चर, दो मजदूरों की मौत, एक की टूटी रीढ़ की हड्डीविश्व प्रसिद्ध धार्मिक स्थल हेमकुंड साहिब और लक्ष्मण मंदिर के खुले कपाट, दो साल बाद लौटी रौनकPetrol-Diesel Prices Today: केंद्र के बाद राज्यों ने घटाए पेट्रोल-डीजल के दाम, जानें कितनी हैं आपके शहर में कीमतेंQuad Summit 2022: प्रधानमंत्री मोदी का जापान दौरा, क्वाड शिखर सम्मेलन में बाइडेन से अहम मुलाकात, जानें और किन मुद्दों पर होगी बातDelhi Suicide Case: 'कमरे में घुसने के बाद लाइटर न जलाएं' दीवार पर लिखकर मां-बेटियों ने दी जान, एक साल पहले कोरोना से हुई थी CA पति की मौतGama Pehlwan के 144वें जन्मदिन पर गूगल ने बनाया डूडल, एक दिन में खाते थे 6 देसी मुर्गे और 10 लीटर दूधभाजपा नेता को किया गिरफ्तार, आशियाना ध्वस्त करने पहुंचा था बुलडोजरसाप्ताहिक समीक्षा: सोने-चांदी में तेजी, 2290 रुपए सस्ती हुई चांदी, जानें गाेल्ड की कीमत
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.