लाइनमैन पर बाघिन का हमला, परासपानी में दहशत

लाइनमैन पर बाघिन का हमला, परासपानी में दहशत

Akhilesh Kumar | Updated: 04 Jun 2019, 09:23:08 PM (IST) Seoni, Seoni, Madhya Pradesh, India

फाल्ट ढूढने गया था टीम के साथ

सिवनी. दक्षिण वनमंडल के कुरई परिक्षेत्र स्थित परासपानी बीट के जंगल में मंगलवार की शाम को एक बाघिन ने लाइनमैन पर हमला कर दिया। लाइनमैन टीम के साथ फाल्ट ढूढने गया था। वह एक गन्ने के खेत में लगे खंभे के पास पहुंचा था कि जंगल से निकलकर बाघिन ने उस पर हमला बोल दिया। उसके साथ गए लोगों ने शोर मचाया, जिससे बाघिन भागकर जंगल में चली गई। लाइनमैन का उपचार वनकर्मी सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में करा रहे हैं।
लाइनमैन यशवंत बिसेन (52) पीपरवानी उप केन्द्र में तैनात है। विगत दिनों आए आंधी-पानी से उक्त क्षेत्र के बिजली व्यवस्था चरमरा गई थी। बिजलीकर्मियों की एक टीम मरम्मत कार्य में लगी थी। टीम परासपानी बीट के जंगल में फाल्ट ढूढ रही थी। उसी समय गन्ने के एक खेत में खंभे के पास फाल्ट ढूढने गए बिसेन पर बाघिन ने हमला कर दिया। लाइनमैन के बांह पर बाघिन के पंजे के निशान है। बाघिन के हमले की जानकारी के बाद मौके पर पहुंचे वनकर्मियों और लाइनमैन के साथ के लोगों ने उसे उपचार के लिए प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र पीपरवानी ले गए। इसके बाद उसे सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र कुरई में भर्ती कराया गया। उधर सूचना के बाद कार्यपालन यंत्री विनोद लोखंडे ने एई महादेव को मौके पर भेजकर लाइनमैन का समुचित उपचार कराए जाने का निर्देश दिया है।

तीन माह से हैं बाघिन का मूवमेंट
लाइनमैन को परासपानी बीट के जंगल में बाघिन ने हमला कर घायल किया है। इसके पूर्व बाघिन ने एक ग्रामीण पर हमला किया था। मौके पर वनकर्मियों की टीम लगा दी गई है। बाघिन का मूवमेंट उस क्षेत्र में करीब तीन महीने से बना हुआ है। लेकिन उक्त दो घटनाओं के पूर्व उसने कभी किसी को नुकसान नहीं पहुंचाया है। तेंदुपत्ता तोडऩे वालों ने भी बाघिन को देखे जाने की बात बताई थी।
- राकेश कोड़ोपे, एसडीओ कुरई दक्षिण वनमंडल सिवनी

एक सप्ताह में दूसरी बार बाघिन ने किया हमला
कुरई परिक्षेत्र के परासपानी बीट के जंगल में बाघिन द्वारा एक सप्ताह के अंदर दो बार हमला किए जाने से गांव में दहशत का माहौल है। ग्रामीणों का कहना है कि बाघिन का मूवमेंट लगातार बना हुआ है। अब वह आदमी पर हमला करने लगी है। बाघिन के दहशत की वजह से लोगों ने जंगल की ओर जाना छोड़ दिया है। रात्रि में मवेशियों को बाहर नहीं छोड़ रहे हैं। छोटे बच्चों को भी अकेले घर के से बाहर नहीं निकलने दिया जा रहा है।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned