वैनगंगा नदी में नहीं रहा जलस्तर, पेंच परियोजना से दिलाया जाए पानी

वैनगंगा नदी में नहीं रहा जलस्तर, पेंच परियोजना से दिलाया जाए पानी

Akhilesh Kumar | Publish: May, 18 2019 12:11:43 PM (IST) Seoni, Seoni, Madhya Pradesh, India

सरपंच व उप सरपंच ने कलक्टर से मिलकर लगाई फरियाद

सिवनी. वैनगंगा नदी तट में बसा छपारा आए दिन पेयजल समस्या को लेकर सुर्खियां बटोर रहा है। ग्राम पंचायत के पास सीमित संसाधन होने के कारण पर्याप्त पेयजल उपलब्ध नहीं करवा पाती है। इससे आए दिन पेयजल की समस्या बनी रहती है। इससे निपटने के लिए सरपंच पूनम सैयाम और उप सरपंच सुरजीत सिंह ने गुरुवार को कलक्टर प्रवीण सिंह से मुलाकात कर कहा कि छपारा संजय सरोवर परियोजना की डूब से प्रभावित है।
पेयजल तथा निस्तार हेतु वैनगंगा नदी पर निर्भर है। इसकी आबादी 25000 हैं। छपारा को पेयजल संजय सरोवर बांध के डूब क्षेत्र में एक इंटरवेल निर्मित उदवहन किया जाता है। इससे जनता को पेयजल उपलब्ध कराया जा रहा है। विगत वर्ष अल्प वर्षा के कारण छपारा एवं आसपास के जल स्रोत बंद हो गए हैं। इंटरवेल के पास जल उपलब्ध लगभग समाप्त हो गया है। कहा कि मानसून के इस बार विलंब से आने की संभावना है, जिससे शहर की पेयजल व्यवस्था को सुचारू रूप से संचालित करने के लिए पेंच परियोजना से शीघ्र जल उपलब्ध कराया जाए, जिससे शहर को पेयजल संकट से बचाया जा सके।
वार्डों में नलकूप खनन की मांग
सरपंच ने मांग किया कि ग्राम पंचायत छपारा के लालमाटी, दुर्गा नगर कॉलोनी, तकिया वार्ड, धोबी वार्ड में पानी टंकी दूरी है, जहां वार्डों में पेयजल की आपूर्ति नहीं हो पा रही है। इससे वार्डों में गंभीर पेयजल समस्या उत्पन्न हो रही है। जनहित में वार्ड पेयजल आपूर्ति से निपट सके। इसके लिए इन वार्ड में नलकूप खनन कराया जाए, जिससे पेयजल समस्या से निजात मिल सकती है।


15 दिनों से नलों में नहीं आया पानी, हाथ में खाली मटका लेकर जनपद पहुंची महिलाएं
सिवनी. 25 हजार की आबादी वाले छपारा में आए दिन पानी की समस्या बनी रहती है। भीषण गर्मी में लोग पानी की समस्या से जूझ रहे हैं। तकिया वार्ड में विगत 15 दिनों से नलों में पानी नहीं आ रहा है। पंचायत द्वारा टैंकर में पानी पहुंचाया जाता है तो विवाद की स्थिति बन जाती है।
लगातार पानी की समस्या से जूझ रहे वार्डवासी गुरुवार को आक्रोशित हो गए। ग्रामीण शिकायत के लिए ग्राम पंचायत कार्यालय पहुंचे, जहां कोई नहीं मिला तो जनपद पंचायत कार्यालय पहुंच गए। ग्रामीणों ने वहां प्रदर्शन किया। इसके बाद जनपद सीईओ से मुलाकात कर समस्या सुनाई। वार्डवासियों ने बताया कि विगत 15 दिनों से नल में पानी नहीं आ रहा है। सरपंच और सचिव इस ओर ध्यान नहीं दे रहे हैं। ग्राम पंचायत के सचिव का कहना है कि पानी सप्लाई के लिए हरसंभव प्रयास किए जा रहे हैं। एक दूरभाष कंपनी द्वारा केबल लाइन डाली जा रही है, जिससे पंचायत की पेयजल सप्लाई की लाइन जगह-जगह टूट गई है। इसे दुरुस्त करने का कार्य चल रहा है।

दबाव देकर कटवा दी जाती है सीएम हेल्पलाइन
पानी की समस्या को लेकर पहुंचे ग्रामीण दिनेश रजक ने सीईओ को बताया कि वर्ष 2018 से मेरे द्वारा सीएम हेल्पलाइन में शिकायत की गई थी। पानी की समस्या को लेकर आश्वासन देकर कई बार दबाव डालकर सीएम हेल्पलाइन बंद करवा दी गई। लेकिन कुछ दिन बाद समस्या जस की तस बन हुई है। सीएम हेल्पलाइन में शिकायत लगाई गई है, जिसे बंद किए जाने के लिए दबाव बनाया जा रहा है। उधर सीइओ शिवानी मिश्रा का कहना है कि कोई दबाव नहीं बनाया जाता समस्याओं का निराकरण किया जा रहा है।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned