रेलवे की जल धरोहर को नहीं पहुंचाया जाएगा नुकसान

रेलवे की जल धरोहर को नहीं पहुंचाया जाएगा नुकसान

Santosh Dubey | Updated: 27 Jun 2019, 12:11:33 PM (IST) Seoni, Seoni, Madhya Pradesh, India

रेलवे अधिकारियों, राजस्व विभाग की संयुक्त बैठक में लिया निर्णय

 

सिवनी. एक ओर जहां पत्रिका द्वारा जल संरक्षण के लिए व्यापक स्तर पर अमृत् जलम् अभियान चलाया जा रहा है वहीं सिवनी रेलवे स्टेशन परिसर स्थित दो छोटे-छोटे जल धरोहर तालाबों को नुकसान नहीं पहुंचाने का रेल अधिकारियों ने आश्वासन दिया है।
कलेक्टर प्रवीण सिंह ने बुधवार 26 जून को रेलवे अधिकारियों एवं राजस्व विभाग की संयुक्त बैठक ली। बैठक में संबंधित अधिकारियों से चर्चा करते हुए एवं रेलवे द्वारा प्रस्तावित कार्य के अवलोकन उपरान्त किसी भी जल धरोहर को कोई भी नुकसान न होना पाया गया। साथ ही रेलवे के अधिकारियों ने जिला प्रशासन को आश्वस्त किया कि उनके प्रस्तावित कार्य में किसी भी जल धरोहर को कोई नुकसान नहीं होगा साथ ही भविष्य के प्राक्कलन में भी इसका ध्यान रखे जाने की बात कही गई।
गौरतलब है कि कुछ वर्ष पहले रेलवे के अधिकारियों का सिवनी रेलवे स्टेशन दौरा था तब सिवनी रेलवे स्टेशन के सामने स्थित दो तालाबों के विषय में प्रश्न किया गया था तब मौखिक रूप से अधिकारियों ने कहा था कि उक्त तालाब को पुरवाकर उक्त भूमि पर अन्य कार्य किए जाने की योजनाओं पर भी चर्चाओं का दौर जारी है। इसके बाद वर्तमान में तालाब पूर्ववत जैसी स्थिति में ही हैं।
रेलवे परिसर के तालाबों को नष्ट करने की बात को लेकर विपिन शर्मा, शुभमा शर्मा, दिनेश शर्मा समेत अनेक लोगों ने जल ोतों, तालाबों के संरक्षण दिशा में अपनी बात अधिकारियों की थी। सभी ने रेलवे परिसर स्थित दो तालाबों में पानी भरे रहने और भू जल स्तर बढ़ाने की दिशा में तालाबों को नष्ट नहीं किए जाने के प्रयास भी किए थे। वहीं उक्त तालाब में मछली पालन का ठेका भी निजी लोगों को दिया जाता था तथा मलेरिया विभाग की ओर से लार्वाभक्षी गम्बूसिया मछली को डाला जाता था। साथ ही तालाब से रेलवे स्टेशन की सुन्दरता भी बढ़ती थी। हालांकि आसपास के लोगों ने तालाब की नियमित साफ-सफाई के साथ तालाबों के सौंदर्यीकरण, फ व्वारों के साथ तालाबों में रंगीन लाइट आदि लगाए जा सकते हैं। तालाबों को संरक्षित कर जहां पर नैरोगेज से ब्राडगेज का इतिहास दिखाया जा सकता है। तालाब को सुरक्षित रख कर रेलवे की भूमि ऐसे अनेक कार्य किए जाने की मांग रेल प्रशासन से पूर्व में की थी।

Show More

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned