रेलवे अंडरब्रिज के नीचे से जब गुजरती है बाइक...

रेलवे अंडरब्रिज के नीचे से जब गुजरती है बाइक...

santosh dubey | Publish: Feb, 15 2018 03:00:00 PM (IST) Seoni, Madhya Pradesh, India

राहगीर, वाहन चालकों का आवागमन हुआ दूभर

सिवनी. विकासखण्ड घंसौर के बिनैकीकला गांव के मेहता से बरेला रोड पर रेलवे स्टेशन बिनैकी के 50 मीटर शिकारा की तरफ बने अंडरब्रिज से ग्रामीणों व स्कूली विद्यार्थियों को भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। पुल के नीचे भरे पानी व गंदगी होने के कारण लोगों को जान जोखिम में डालकर रेलवे लाइन को पार कर गंतव्य व स्कूल जाना-आना पड़ रहा है। मेहता बरेला रोड पर बने अंडरब्रिज पर पानी की निकासी न होने के कारण जरा सी बारिश में लगभग तीन फीट पानी भर जाता है। कीचड़़ व पानी के कारण लोगों को रेलवे लाइन पार जाने के लिए जान जोखिम में डालनी पड़ रही है जिससे कभी भी हादसा हो सकता है। उक्त सड़क से लगभग 50 गांव के लोगों का जाना-आना सतत रूप से लगा रहता है।
ग्रामवासियों ने बताया कि इस मार्ग से प्रतिदिन हाईस्कूल बरेला, हायर सेकेण्ड्री स्कूल गोरखपुर, माध्यमिक शाला बिनैकीकला के सैकड़ों छात्र-छात्राएं भी स्कूल जाते-आते हैं। इसके साथ ही एनएच-7 व घंसौर से यह मार्ग जुड़ता है जिसके चलते रात-दिन छोटे-बड़े वाहनों की भी आवाजाही बनी रहती है।
ग्रामवासियों में प्रमोद यादव, भोला प्रसाद यादव, कृष्ण कुमार उईके, राजेन्द्र युवने, मनोहर वैगा, राजू मरावी, रघुपत सिंह पटेल, उमाशंकर यादव, कृष्ण कुमार यादव ने अंडर ब्रिज निर्माण एजेंसी रेलवे विभाग के जिम्मेदार अधिकारियों, कर्मचारियों पर यहां उचित ढंग से कार्य नहीं किए जाने का आरोप लगाते हुए कार्रवाई किए जाने की मांग की है। वहीं ग्रामीणों ने बताया कि इस मामले की शिकायत प्रशासनिक अधिकारियों से कर दी गई है इसके बावजूद अभी तक इस मामले में कोई ध्यान नहीं दे रहे हैं।
रेलवे लाइन के किनारे रहने वाले कृष्णकुमार यादव ने बताया कि रेलवे लाइन पार स्कूल होने के कारण स्कूली बच्चें भी कीचड़ व दलदल के डर से रेलवे लाइन के ऊपर से जाते-आते हैं। जिससे कभी भी कोई रेल हादसा घट जाए इससे इंकार नहीं किया जा सकता है।
ग्राम बिनैकी, बरेला, मुण्डा, बिनैकीखुर्द, चरी, उमरपानी, बरौदा, कुर्मीटेल आदि गांव के ग्रामवासियों, वाहन चालकों को यहां जाने-आने में खासी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। क्षेत्रवासियों ने मांग की है कि शीघ्र ही व्यवस्था बनाए जाने की मांग की है।

Ad Block is Banned