scriptरेल यातायात में सुविधा और सुरक्षा बढ़ाने पर हो रहे काम | Patrika News
सिवनी

रेल यातायात में सुविधा और सुरक्षा बढ़ाने पर हो रहे काम

– बारिश को देखते हुए रेलवे लाइन में किए जा रहे जरूरी काम
– रेलगाडिय़ों में सामान्य श्रेणी के अतिरिक्त कोच लगाने की तैयारी

सिवनीJun 23, 2024 / 05:52 pm

sunil vanderwar

रेलवे लाइन को दुरुस्त करते कर्मी।

रेलवे लाइन को दुरुस्त करते कर्मी।

सिवनी. दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे के नागपुर मंडल अंतर्गत रेलवे प्रशासन मानसून के दौरान सुगम एवं निर्बाध रूप से व्यवधान मुक्त रेल सेवा प्रदान करने के लिए विभिन्न रेल खण्ड पर प्री-मानसून तैयारी के कार्य कराए जा रहे हैं।
रेलवे लाइन के पास सफाई।
रेलवे लाइन के पास सफाई।

मानसून के दौरान रेल गाडिय़ों को बिना किसी व्यवस्था के संचालित करने सभी रेल मार्ग के जलभराव वाले स्थानों, बोल्डर स्खलन होने वाले पहाड़ों, साइड ड्रेन, पुलों में पानी निकासी के रास्तों, पहाड़ों से आने वाली पानी के ड्रेन प्रणाली आदि का निरीक्षण कर सफाई व अन्य जरूरी कार्य किया जा रहा है। पानी की निकासी के लिए पाइप, बोल्डर स्खलन होने वाले पहाड़ों के पास स्खलन को रोकने तथा पहाड़ों से आने वाली पानी के ड्रेन प्रणाली को पटरियों में आने से रोकने के लिए ड्रेन का डायवर्ट साथ ही नालियों तथा ड्रेन प्रणाली के आसपास के कचरों को हटाकर विशेष सफाई आदि कार्य जारी है।

इसके अलावा रेलवे के फील्ड स्टॉफ को विशेष सावधानी बरतने, समपार फाटकों, रेल पुलों, रेलवे लाइन संरक्षा एवं सुरक्षा से जुड़े संसाधनों, ओएचई लाइन, सिग्नल प्रणाली आदि को दुरूस्त किया जा रहा है, ताकि बारिश के दौरान भी रेल परिचालन सतत और सुचारू रूप से जारी रहे। साथ ही अत्यधिक बारिश की स्थिति में उपयोग के लिए चिन्हित स्थानों पर रेती, पत्थर, गिट्टी आदि की समुचित व्यवस्था की गई है, ताकि आपातकालीन स्थिति से आसानी से निपटा जा सके।

यात्री सुविधा के लिए रेलगाडिय़ों में लगेंगे अतिरिक्त कोच-
एक्सपे्रस टे्रन।
एक्सपे्रस टे्रन।

रेलगाडिय़ों में सामान्य श्रेणी (जनरल) कोच की संख्या बढ़ाने जा रही है। इसके तहत सामान्य कोच का अतिरिक्त तैयार करने का फैसला लिया गया है। इस फैसले से आम जनता को राहत मिलेगी। इससे सामान्य बोगियों में पहले से अधिक यात्री सफर कर सकेंगे। सोशल मीडिया पर स्लीपर व सामान्य श्रेणी कोच में भारी भीड़ के वीडियो वायरल हो रहे हैं। इसको देखते हुए रेलवे बोर्ड ने 2500 सामान्य श्रेणी के अतिरिक्त कोच बनाने का फैसला लिया है और यह निर्माण रेलवे के प्रति वर्ष कोच बनाने के तय कार्यक्रम के अतिरिक्त होगा।

एक्सप्रेस व सुपरफास्ट ट्रेन में सामान्य कोच आमतौर पर दो से चार के बीच में होते हैं। योजना के मुताबिक जिन ट्रेन में दो कोच हैं, उनमें इनकी संख्या चार की जाएगी। जिन में कोई सामान्य श्रेणी के कोच नहीं हैं। उनमें दो कोच लगाए जाएंगे। एक दशक में कोच उत्पादन में तेजी आई है। रेलवे ने पिछले एक दशक में कोच उत्पादन क्षमता में तेजी से वृद्धि की है। कोच की डिजाइन 150 से 200 यात्री क्षमता के अनुसार होगी। इससे प्रतिदिन अधिक संख्या में आम यात्री रेल यातायात सुविधा प्राप्त कर सकेंगे। यानी सामान्य कोच में पहले से अधिक यात्री ले जाने की सालाना क्षमता हो जाएगी। यह सभी कोच चालू वित्तीय वर्ष में बनकर तैयार हो जाएंगे।

Hindi News/ Seoni / रेल यातायात में सुविधा और सुरक्षा बढ़ाने पर हो रहे काम

ट्रेंडिंग वीडियो