रुपए उधार लेकर दो महीने से शिक्षक चला रहे काम, अफसर बेपरवाह

रुपए उधार लेकर दो महीने से शिक्षक चला रहे काम, अफसर बेपरवाह

Sunil Vandewar | Publish: Jul, 10 2019 11:41:53 AM (IST) Seoni, Seoni, Madhya Pradesh, India

बीइओ कार्यालय, संकुल केन्द्र से मिल रहा मात्र आश्वासन

सिवनी. विकासखण्ड सिवनी के सैकड़ों शिक्षकों को बीते दो महीने से वेतन नहीं मिला है। तीसरा महीना जारी है, हालात ये हो गए हैं, कि दूसरों से रुपए उधार लेकर शिक्षक अपनी जरूरतों को पूरा कर रहे हैं। शिक्षक लगातार बीइओ आफिस, संकुल केन्द्र प्राचार्य, बाबूओं से वेतन के लिए संपर्क कर रहे हैं। हर बार उन्हें मात्र आश्वासन ही मिल रहा है। ऐसा ही कुछ हाल कान्हीवाड़ा संकुल केन्द्र के शिक्षक बयान कर रहे हैं।
शिक्षकों के वेतन भुगतान में हो रही देरी के सम्बंध में जानकारी लेने मंगलवार को भी कुछ लोग बीइओ कार्यालय पहुंचे लेकिन कोई सार्थक जवाब नहीं मिला। कार्यालय में प्रभारी बीइओ भी मौजूद नहीं थे। ऐसे में उन्हें लौट जाना पड़ा।
प्राचार्य ने माना हो रही है समस्या -
संकुल केन्द्र शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय कान्हीवाड़ा के प्राचार्य जीसी डहेरिया ने भी माना कि दो माह से वेतन न मिलने से शिक्षकों को आर्थिक समस्या हो रही है। कहा कि यह सिर्फ एक संकुल की समस्या नहीं है। करीब ८ संकुल में शिक्षकों का मई और जून महीने का वेतन भुगतान बाकी है। बताया कि बिल ट्रेजरी में समय पर लगा दिए गए हैं, लेकिन अध्यापकों का वेतन बंटन के अभाव में जारी नहीं हो पा रहा है। लगातार विकासखण्ड कार्यालय, बाबू से संपर्क कर रहे हैं। बताया कि वरिष्ठ कार्यालय से जानकारी मिली है कि ११ जुलाई तक बजट आवंटन हो जाएगा, जिसके बाद वेतन भुगतान हो सकेगा।
बीइओ कार्यालय की सेवा से परेशानी -
विकासखण्ड शिक्षा अधिकारी कार्यालय की सेवाओं से विभागीय अमला ही परेशानी में है। शिक्षक बताते हैं कि स्थिति ये है कि निर्धारित समय में कार्य नहीं होते हैं, जिससे शिक्षक, सेवानिवृत्त कर्मचारी तक वरिष्ठ अधिकारी को शिकायत करते रहे हैं। पूर्व में भी ऐसी स्थिति निर्मित हुई है, तब जिला शिक्षा अधिकारी ने प्रभारी विकासखण्ड शिक्षा अधिकारी से जवाब-तलब कर व्यवस्था में सुधार लाने की हिदायत दी थी, इसके बावजूद स्थिति वैसी ही बनी हुई है। गौरतलब है कि इस कार्यालय में वर्तमान में प्रभारी का कार्य नेताजी सुभाषचंद्र बोस उच्चतर माध्यमिक विद्यालय के प्राचार्य पीएन वारेश्वा सम्भाल रहे हैं। शासन-प्रशासन से अपेक्षा व्यक्त की जा रही है कि बीइओ कार्यालय में प्रभारी के स्थान पर शीघ्र ही विकासखण्ड शिक्षा अधिकारी की नियुक्ति की जाए।

 

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned