कर्मचारियों की हड़ताल से कामकाज प्रभावित

Santosh Dubey

Updated: 09 Jan 2019, 12:07:49 PM (IST)

Seoni, Seoni, Madhya Pradesh, India

सिवनी. केंद्र सरकार के कर्मचारी विरोधी नीतियों के खिलाफ व अपनी विभिन्न मांगों को पूरा किए जाने की मांग को लेकर केंद्री कर्मचारी परिसंघ के आव्हान पर दो दिवसीय हड़ताल के प्रथम दिन मंगलवार को अनेक विभाग के कर्मचारी हड़ताल पर रहे।
दलसागर तालाब के किनारे आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, सहायिकाएं व मध्यान्ह भोजन बनाने वाली रसोईए जहां पंडाल लगाकर हड़ताल पर बैठे थीं वहीं डाक विभाग, बीएसएनएल कर्मी समेत अनेक विभाग के कर्मचारी दो दिवसीय हड़ताल पर चले गए। हड़ताल के प्रथम दिन मंगलवार को कामकाज बूरी तरह से प्रभावित रहा।
कर्मचारियों ने अपनी मांगों में बताया कि नई पेंशन योजना समाप्त किया जाए, केंद्रीय कर्मचारियों के लिए वैधानिक पेंशन लागू किया जाए। सातवां वेतन आयोग के न्यूनतम वेतन और फिटमेंट फार्मूला तुरंत संशोधन किया जाए। सभी रिक्त पदों को तत्काल भरा जाए, अनुकम्पा नियुक्ति पर पांच प्रतिशत अधिकतम सीमा को हटाया जाए। ग्रामीण डाक सेवकों को नियमित करते हुए उन्हें सिविल सर्वेन्ट का दर्जा दिया जाए।
वहीं अन्य मांगों में आकस्मिक और अनुबंध कर्मचारियों को विनियमित किया जाए। केंद्रीय कर्मचारियों को पांच समय बाधित पदोन्नति सुनिश्चित किया जाए। सरकारी प्रतिष्ठानों के शट-डाउन बंद कर आउट सोर्सिंग तत्काल समाप्त किया जाए। स्वायत्त निकाय कर्मचारियों और पेंशनरों के लिए सातवां वेतन आयोग को लागू किया जाए। पदोन्नति अनुक्रम में एमएसीपी लागू किया जाए। एलडीसी के वेतनमान में उन्नति किया जाए व समान काम के लिए समान वेतन सुनिश्चित किया जाए।
वहीं मध्यान्ह भोजन कर्मियों को अतिरिक्त वेतन दिया जाए, सभी कर्मियों को चतुर्थ श्रेणी का सरकारी कर्मचारी घोषित किया जाए।नियमित करने तक मध्यान्ह भोजन कर्मियों को न्यूनतम वेतन 18 हजार रुपए 12 माह का दिया जाए। वहीं आंगनबाड़ी कार्यकर्ता सहायिकाओं ने भी अपनी मांगों में बताया कि आइसीडीएस का निजीकरण रोका जाए। मानदेय में सालाना 10 प्रतिशत की दर से वृद्धि किया जाए समेत अनेक मांग को लेकर दो दिवसीय हड़ताल पर हैं।
कामकाज ठप
कर्मचारियों के हड़ताल पर चले जाने से सभी विभागों में मंगलवार को कामकाज बुरी तरह से प्रभावित हुआ। बीएसएनएल विभाग में बिगड़े फोन, शिकायत, बिल जमा समेत अनेक कार्य नहीं हुए वहीं डाक विभाग का कामकाज भी पूरी तरह से ठप रहा। कर्मचारियों ने बताया कि बुधवार को भी कर्मचारी हड़ताल पर रहेंगे।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned