पढऩे के लिए गए दर्जन भर युवा राजस्थान कोटा में फंसे, छात्रों को लेने शहडोल से जाएगा विशेष वाहन

परिजनो ने मांगी थी जिला प्रशासन से अनुमति

शहडोल. पढऩे के लिए शहडोल से राजस्थान कोटा गए दर्जन भर छात्र वहीं फंसे हुए है। कोरोना वायरस के चलते बिगड़ती परिस्थितियों व लॉकडाउन के चलते वाहनों का आवागवन पूरी तरह से बंद है। ऐसे में छात्र वहां से निकल नहीं पा रहे हैं। जिससे परेशान छात्रों के परिजन उन्हे यहां से लेने जाने की तैयारी कर रहे हैं। जिसके लिए परिजनो ने जिला प्रशासन से विशेष वाहन के माध्यम से छात्रों को लेने जाने व लेके आने की अनुमति मांगी है। जानकारी के अनुसार नीलेश मोर पिता राधेश्याम मोर निवासी पुराना आरटीओ आफिस के पास एवं हरिचरण तिवारी पिता विनोद कुमार तिवारी निवासी कमला नगर गोरतरा द्वारा कलेक्टर को इस आशय का आवेदन दिया है कि नगर छात्र-छात्रा राजस्थान कोटा में पढ़ाई कर रहे थे। कोरोना वायरस के चलते लॉकडाउन की स्थिति निर्मित होने की वजह से वाहन न मिल पाने की स्थिति में उनकी वापसी नहीं हो पा रही है। ऐसी स्थिति में उन्हे वापस लाने के लिए कोटा राजस्थान से शहडोल जिनी वाहन टेम्पो ट्रेवलर से वापस लाने की अनुमति प्रदान की जाए। जिसे गंभीरता से लेते हुए जिला प्रशासन ने आवश्यक शर्तों का पालन करते हुए उन्हे वापस लाने की अनुमति प्रदान कर दी है।

Corona virus
Show More
Ramashankar mishra
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned