आखिर शिक्षक क्यों मांग रहे हैं भीख

आखिर शिक्षक क्यों मांग रहे हैं भीख

Shiv Mangal Singh | Publish: Jan, 26 2018 12:04:17 AM (IST) | Updated: Jan, 26 2018 12:25:48 PM (IST) Shahdol, Madhya Pradesh, India

मध्यप्रदेश में आखिर शिक्षा विभाग में चल क्या रहा है, पढि़ए पूरी खबर

शहडोल. मध्यप्रदेश सरकार ने लगभग तीन लाख शिक्षकों का शिक्षा विभाग में संविलियिन कर दिया है, उसके बावजूद यहां शिक्षक भीख मांगने को मजबूर हैं। सरकार ने हाल ही में जिन शिक्षकों का शिक्षा विभाग में संविलियन किया है, वे सभी शिक्षक संविदा पर स्कूलों में पढ़ा रहेथे। इनका संविलियन करने के लिए संविदा शिक्षक प्रदेश भर में आंदोलन कर रहे थे। चूंकि इस साल प्रदेश में चुनाव होना है तो ये सभी लोग सरकार पर दबाव बना रहे थे। इनका दबाव काम भी कर गया। सरकार ने इन सभी को एक ही झटके में शिक्षा विभाग में समाहित कर लिया।अब तीन लाख शिक्षकों की सैलरी और अन्य भत्तों में कई गुना बढ़ोत्तरी हो जाएगी। इसको लेकर संविदा शिक्षक काफी खुश हैं।
मुख्यमंत्री को किया मुकुट भेंट
संविदा शिक्षकों का संविलियन होने के बाद आजाद अध्यापक संघ ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहन को डिंडोरी में चांदी का मुकुट भेंट किया। आजाद अध्यापक संघ ने मांगे पूरी होने के बाद मुख्यमंत्री का सम्मान किया और सम्मान यात्रा भी निकाली। जगह-जगह अध्यापकों ने सरकार के पक्ष में रैलियां निकालकर खुशी जाहिर की है।
कौन से शिक्षक मांग रहे भीख
संविदा शिक्षकों की मांगे पूरी होने के बाद अब अतिथि शिक्षक आंदोलन पर उतर आए हैं। जिस तरह से संविदा शिक्षकों ने बालों का मुंडन कराया था, उसी के नक्शेकदम पर चलते हुए अतिथि शिक्षक तरह-तरह के हथकंडे अपना रहे हैं। ये शिक्षक भी सरकार से नियमितीकरण की मांग कर रहे हैं। गुरुवार को शहडोल स्थित जयसिंह नगर के मां दुर्गा मंदिर प्रांगण में अतिथि शिक्षकों की बैठक आयोजित की गई। बैठक में सर्वसम्मति से आगामी फरवरी माह में प्रदेश स्तर पर आयोजित होने वाली महारैली पर चर्चा की गई । इसके पश्चात भीख मागते हुए शांतिपूर्वक रैली निकाल कर महामहिम राष्ट्रपति के नाम अनुविभागीय अधिकारी राजस्व को ज्ञापन सौपा गया। ज्ञापन में मांग की गई है कि गुरूजी की तरह विभागीय परीक्षा आयोजित कर अतिथि शिक्षकों को नियमित किया जाए। बताया गया है कि वर्तमान समय में कम मानदेय मिलने से अतिथि शिक्षकों के परिवार का भरण पोषण नहीं हो पा रहा है। इस ओर शासन.प्रशासन का ध्यान केंद्रित करने के लिए अतिथि शिक्षकों ने बाजार हाट और चौराहों पर भीख मांग कर प्रदर्शन किया । इस मौके पर ्र अध्यक्ष शरद प्रकाश तिवारी , सतीश द्विवेदी ,संतोष द्विवेदी , विजय द्विवेदी, गौरव पयासी, शोभा सिंह ,्रअवधेश पटेल , अनेक पटेल , सीमा द्विवेदी ,पूजा तिवारी, सारिका श्रीवास्तव, निवेदिता मिश्रा, ज्योति रानी श्रीवास्तव उपास्थित रही। आगामी 28 जनवरी को ब्योहारी में होने वाली बैठक में सभी अतिथि शिक्षको को उपस्थिति होने की अपील की गई है।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned