गंदगी पर फिर पड़ी फटकार, ठेकेदार को अल्टीमेटम

Shahdol online

Publish: Sep, 16 2017 03:04:13 (IST)

Shahdol, Madhya Pradesh, India
गंदगी पर फिर पड़ी फटकार, ठेकेदार को अल्टीमेटम

डिप्टी कलेक्टर को अस्पताल में मिली कई खामियां

शहडोल- संभागीय मुख्यालय स्थित माडल जिला अस्पताल की व्यवस्थाएं पटरी पर आने का नाम नहीं ले रही हैं। यहां मरीजों की ना तो सोनोग्राफी हो रही है और ना ही समय पर डॉक्टर पहुंच रहे हैं। इन समस्याओं के कारण मरीजों को भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। जिला अस्पताल में मरीजों को ये कहकर वापस कर दिया जाता है कि सोनोग्राफी करने वाले डॉक्टर नहीं हैं। इस बात का खुलासा तब हुआ जब शुक्रवार को सुबह १० बजे डिप्टी कलेक्टर जिला अस्पताल का निरीक्षण करने पहुंचे और इस बात की पड़ताल की तो पता चला कि सोनोग्राफी करने वाले डाक्टर की ड्यूटी नाइट में लगाई जा रही है, जिससे सोनोग्राफी बंद है।

वहीं निरीक्षण के दौरान ओपीडी से डॉक्टर गायब मिले तथा जिला अस्पताल में गंदगी का आलम देखकर वो सीएमओ और सीएस पर भड़क गए। इस दौरान बच्चा वार्ड में डाक्टर नहीं मिलेे साथ ही कई और कमियां देखकर डिप्टी कलेक्टर कुर्रे ने सीएस और सीएमओ से अपनी नाराजगी जताते हुए भड़क गए।

जिला अस्पताल के निरीक्षण के दौरान अस्पताल के वार्डों में गंदगी का आलम देखने को मिला और सुबह १० बजे तक वार्डों में सफाई नहीं होने से जगह-जगह गंदगी देखकर डिप्टी कलेक्टर डीआर कुर्रे ने सीएस और सीएमओ को एक सप्ताह का अल्टीमेटम देते हुए कहा कि अगर एक सप्ताह में व्यवस्थाओं में सुधार नहीं किया गया तो ठेकेदार के विरुद्ध कार्रवाई करते हुए सफाई का ठेका निरस्त कर दिया जाएगा। उन्होंने अधिकारियों को फटकार लगाते हुए कहा कि पिछली बार किए गए निरीक्षण के दौरान भी कई खामियां मिली थीं, लेकिन उनमें अब तक सुधार नहीं किया गया।

घरेलू सिलेंडर से मरीजों का बनता है खाना
जिला अस्पताल के निरीक्षण के दौरान सबसे बड़ी खामी उस समय देखने को मिली जब जिला अस्पताल में भर्ती मरीजों के लिए जो खनाया बनाया जाता है । उसके लिए घरेलू गैस सिलेंडर का इस्तेमाल किया जाता है । ये हाल देखकर डिप्टी कलेक्टर कुर्रे स्वयं दंग रह गए और उन्होंने इस मामले में जानकारी ली, लेकिन इसका जवाब उन्हें नहीं मिला और वो ये सब देख वापस मरीजों के लिए बनाए गए खाने का टेस्ट किया, और इसके बाद वो वापस चले गए। निरीक्षण के दौरान सीएमएचओ राजेश पाण्डेय और सीएस एनके सोनी उनके साथ रहे।

डिप्टी कलेक्टर डीआर कुर्रे ने कहा हमने जिला अस्पताल का निरीक्षण किया है, कई खामियां मिली हैं। इसका प्रतिवेदन वरिष्ठ अधिकारियों के पास भेजा जाएगा और इसके बाद मामले में कार्रवाई की जाएगी।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned