अतिकुपोषित बच्चों के घर पहुंच स्वास्थ्य सुविधाओं और पोषण आहार की जुटाएं जानकारी

सभी जिला एवं सेक्टर अधिकारी अतिकुपोषित बच्चों की भ्रमण के दौरान ले जानकारी

By: shubham singh

Published: 11 Oct 2021, 09:13 PM IST


समय सीमा की बैठक में कलेक्टर ने अधिकारियों को दिए निर्देश
शहडोल. बाल आरोग्य संवर्धन योजना के अन्तर्गत कलेक्टर ने सभी जिला एवं सेक्टर अधिकारी को कहा कि अपने भ्रमण के दौरान ऑगनवाडी केन्द्रों से अतिकुपोषित बच्चों की सूची प्राप्त कर उनके घर जाकर उनको मिलने वाली स्वास्थ्य सुविधाओं एवं पोषण आहार आदि की जानकारी प्राप्त करें। यह निश्चित किया जाए की सैम बच्चे को समय पर उपचार एवं पोषण आहार मिल सकें जिससे बच्चा कुपोषण से बाहर आ सके। घर के लोगों को इसके बारे में समझाइश भी दें और जरूरत पडऩे पर बच्चों को पास के एनआरसी में भर्ती करें। कलेक्टर ने जिला कार्यक्रम अधिकारी महिला एवं बाल विकास को निर्देशित किया कि व्हाट्सएप ग्रुप बनाकर सभी अधिकारियों को जोडते हुए बाल आरोग्य संवर्धन योजना में परिणाममूलक कार्य किया जाए। कलेक्टर ने जिला कार्यक्रम महिला एवं बाल विकास अधिकरी को निर्देशित किया कि इस योजना के प्रचार-प्रसार के लिए ग्राम पंचायत स्तर पर फ्लैक्स आदि लगवाए साथ ही अन्य विभागों से सहयोग लेकर रैली आदि भी निकलवाएं। उक्त निर्देश कलेक्टर वंदना वैद्य ने समय-सीमा की बैठक में अधिकारियों को दिए। बैठक में कलेक्टर ने पीएम पोर्टल, समाधान ऑनलाइन, संबल योजना, सीएम हेल्पलाइन में लंबित प्रकरणों की समीक्षा करते हुए सभी विभागीय अधिकारियों को निर्देश दिए कि 300 दिवस के ऊपर कोई भी प्रकरण लंबित न रहें साथ ही कोई भी प्रकरण अनअटेंडेंट न रहें। बैठक में कलेक्टर ने खरीफ विपणन वर्ष 2021-22 में खरीफ पंजीयन की समीक्षा की। जिला खाद्य आपूर्ति नियंत्रक ने कलेक्टर को अवगत कराया कि अभी तक धान में 20 हजार, कपास में 19 तथा बाजरा के लिए 2 किसानों का पंजीयन किया गया है तथा सतत कार्य प्रगति पर है। कलेक्टर ने वेयरहाउस मे रखे धान की मिलिंग कार्य की धीमी गति पर नाराजगी व्यक्त करते हुए डीएम नागरिक आपूर्ति निगम को निर्देशित किया कि मिलिंग कार्य में गति लाए यदि आवश्यक होतो जिले के मिलर्स की बैठक भी करें। कलेक्टर ने बैठक में उपस्थित अधिकारियों को निर्देशित किया कि सांसद, विधायक द्वारा दिये गए पत्रों का आवश्यक रूप से जबाव दिया जाए। बैठक में कलेक्टर ने मानवाधिकार एवं लोकायुक्त में लंबित प्रकरणों की समीक्षा करते हुए सभी अधिकारियों को निर्देशित किया कि सभी विभागीय अधिकारी अपने विभाग से संबंधित प्रकरणों का अध्यन कर उनका निराकरण करें। बैठक में कलेक्टर ने सभी अधिकारियों को निर्देशित किया कि कर्मचारी, एम्पलाई डाटावेस अपडेट कराएं साथ ही रिटायर होने वाले कर्मचारियों की डिटेल भी अपडेट कराएं जिससे समय पर सेवानिवृत्त अधिकारियों एवं कर्मचारियों के स्वतत्वों का भुगतान किया जा सकें। बैठक में अपर कलेक्टर अर्पित वर्मा, संयुक्त कलेक्टर दिलीप कुमार पाण्डेय, एसडीएम सोहागपुर नरेन्द्र सिंह, सहायक आयुक्त आदिम जाति कल्याण विभाग रणजीत सिंह धुर्वे, उप संचालक कृषि आरपी झारिया, कार्यपालन यंत्री पीएचई एबी निगम, कार्यपालन यंत्री डब्ल्यूआरडी प्रतीक खरे, सीएमएचओ डॉ एमएस सागर, डीपीसी डॉ मदन त्रिपाठी, डीएम नान राजेन्द्र चौधरी, जिला आपूर्ति नियंत्रक कमलेश टाण्डेकर, जिला कार्यक्रम अधिकारी शालिनी तिवारी, नगरपालिका अधिकारी अमित तिवारी, अतिरिक्त सीईओ जिला पंचायत निर्देशक शर्मा, सीईओ जनपद पंचायत ममता मिश्रा सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

Show More
shubham singh Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned