scriptAlliance with colonizer: Police wanting to end the case, court returne | कॉलोनाइजर के साथ गठजोड़: पुलिस खत्म करना चाह रही केस, कोर्ट ने दो बार लौटाई डायरी, कहा- जांच कराएं | Patrika News

कॉलोनाइजर के साथ गठजोड़: पुलिस खत्म करना चाह रही केस, कोर्ट ने दो बार लौटाई डायरी, कहा- जांच कराएं

सरकारी भूमि पर कब्जा की हुई थी शिकायत, कार्रवाई छोड़ कॉलोनाइजर के बचाव में जुटे अधिकारी

शाहडोल

Published: May 27, 2022 02:14:40 pm

शहडोल. संभाग में बड़े स्तर पर भू-माफिया हावी है। आदिवासियों की भूमि में दस्तावेजों का हेरफेर और अधिकारियों से गठजोड़ कर कॉलोनी तान रहे हैं। कॉलोनी के लिए भूमि बिक्री-खरीदी में गड़बड़ी पर दो दिन पूर्व कंपनी के सीएमडी के खिलाफ भले ही पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया हो लेकिन कई मामलों में अभी भी फाइल दबी हुई है। अफसरों और पुलिस की सांठगांठ से सरकारी जमीनों में भी कब्जा हो रहा है। भूमि बिक्री और हेरफेर की शिकायत के मामले में कुछ दिन पूर्व कोर्ट द्वारा लौटाई गई डायरी के मामले में अफसरों और कॉलोनाइजरों की सांठगांठ उजागर हुई है। पुलिस ने खारिजी के लिए न्यायालय के समक्ष पेश की डायरी को कोर्ट ने दो बार लौटा दिया। इसके बावजूद अधिकारी खारिज कराने में जुटे हंै। दो बार न्यायालय ने डायरी लौटाने के साथ जांच में खामियां बताई थी। अब पुलिस ने तीसरी बार जांच में तथ्य जुटाते हुए फिर से कोर्ट में खारिजी के लिए डायरी भेजी है। न्यायालय ने सीधे कहा था कि मामला खारिजी योग्य नहीं है। मामले की दोबारा इन्वेस्टिगेशन करते हुए प्रतिवेदन प्रस्तुत किया जाए। मामला शहर के बीच ग्राम भुईबांध की सरकारी जमीन का है। मामले में शिकायत हुई थी कि फर्जी नामांतरण अपने नाम कराया गया है। जहां पर अब बिल्डिंग तान ली गई है।
करोड़ों की भूमि से राजस्व का नुकसान
करोड़ों रुपए की भूमि को भू माफियाओं को बेचकर शासन को क्षति पहुंचाई गई थी। मामले में कोर्ट ने दोबारा रिपोर्ट मांगी थी लेकिन अब तक कार्रवाई अटकी है।
नतीजे तक नहीं पहुंची पुलिस, अटकी जांच, कार्रवाई का इंतजार
कोर्ट से डायरी लौटाने के बाद पुलिस अभी तक विवेचना में ही उलझी है। अब तक मामले की जांच पूरी तरह नहीं हो सकी है।
कोर्ट ने लिखा खारिजी योग्य नहीं, दोबारा भेजें
डायरी वापस कर पुलिस को निर्देश कोर्ट ने कहा था कि प्रकरण के विवेचना अधिकारी की साक्ष्य से दर्शित होता है कि प्रकरण में खारिजी आरोपीगण के विरूद्ध अपराध घटित नहीं पाए जाने से प्रस्तुत किया है। आरक्षी केन्द्र कोतवाली की ओर से प्रस्तुत खारिजी क्रमांक 1/2018 स्वीकार किया जाना उचित प्रतीत नहीं होता है। आरक्षी केन्द्र कोतवाली की ओर से प्रस्तुत खारिजी क्रमांक 1/2018 अस्वीकार किया जाता है तथा मामले की केस डायरी संबंधित थाने को वापस करते हुए निर्देशित किया जाता है कि प्रकरण की ओर से विधिवत अनुसंधान उपरांत जांच प्रतिवेदन प्रस्तुत करें।
इनका कहना है
इस संबंध में जानकारी नहीं है। अधिकारियों से बात करता हूं। मामले में तथ्यों की जांच कराएंगे।
अवधेश गोस्वामी, एसपी, शहडोल।

Alliance with colonizer: Police wanting to end the case, court returned diary twice, said- get it investigated
Alliance with colonizer: Police wanting to end the case, court returned diary twice, said- get it investigated

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

धन को आकर्षित करती है कछुआ अंगूठी, लेकिन इस तरह से पहनने की न करें गलतीज्योतिष: बुध का मिथुन राशि में गोचर 3 राशि के लोगों को बनाएगा धनवानपैसा कमाने में माहिर माने जाते हैं इस मूलांक के लोग, तुरंत निकलवा लेते हैं अपना कामजुलाई में चमकेगी इन 7 राशियों की किस्मत, अपार धन मिलने के प्रबल योगडेली ड्राइव के लिए बेस्ट हैं Maruti और Tata की ये सस्ती CNG कारें, कम खर्च में देती हैं 35Km तक का माइलेज़ज्योतिष: रिश्ते संभालने में बड़े कच्चे होते हैं इस राशि के लोगजान लीजिए तुलसी के इस पौधे को घर में लगाने से आती है सुख समृद्धिहाथ में इन निशान का होना मां लक्ष्मी की कृपा प्राप्त होने का माना जाता है संकेत

बड़ी खबरें

Udaipur Murder Case: राजस्थान में एक माह तक धारा 144, पूरे उदयपुर में कर्फ्यू, जानिए अब तक की 10 बड़ी बातेंUdaipur Murder: कन्हैया के परिवार को 31 लाख मुआवजे का ऐलान, आतंकी हमले की आशंका से केंद्र ने Rajasthan भेजी NIA की टीमअमरनाथ यात्रा 2022 : जम्मू से कड़ी सुरक्षा के बीच श्रद्धालुओं का पहला जत्था रवानाMaharashtra Political Crisis: शिंदे गुट के विधायक आ सकते हैं मुंबई, महाराष्ट्र कैबिनेट की आज फिर होगी बैठकMumbai News Live Updates: महाराष्ट्र के सियासी संकट के बीच कल फ्लोर टेस्ट, राज्यपाल ने 30 जून को विधानसभा सत्र बुलाने के लिए भेजा पत्रनुपुर शर्मा के सपोर्टर की उदयपुर में हत्या के बाद हाई अलर्ट पर UP, अफसरों को सतर्क रहने के निर्देशदिल्ली के मंगोलपुरी में फैक्ट्री में लगी आग, दमकल की 26 गाड़ियां मौके परन्यायाधीश ने दो घंटे मोबाइल की टॉर्च की रोशनी में की सुनवाई
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.