दहेज हत्या के आरोपियों की जमानत निरस्त, भेजा जेल

विवाह के दो माह बाद ही ससूराल वाले प्रताडि़त करने लगे

शहडोल। न्यायिक मजिस्ट्रेट प्रथम श्रेणी शहडोल ने थाना गोहपारू के दहेज हत्या के आरोपी भदवाही निवासी केतिका जायसवाल व अन्य आरोपियों को धारा 498ए, 304बी भादवि में जमानत निरस्त कर दिया गया और जेल भेजने के निर्देश दे दिए।


इसी साल हुई थी शादी
मृतिका विभा जायसवाल के पिता गिरधारी जायसवाल ने थाना गोहपारू आकर रिपोर्ट दर्ज कराई कि उसने अपनी बेटी मृतिका विभा जायसवाल की शादी केतिका जायसवाल निवासी भदवाही के साथ इसी वर्ष कराई थी। विवाह के एक दो माह बाद ही उसके ससूराल वाले बेटी को प्रताडि़त व मारपीट करने कहने लगे कि तुम्हारे मां बाप ने शादी में दस हजार के अलावा कुछ नहीं दिया है और न ही गबना के समय कुछ दिया है। मेरी बेटी को ससूराल में धान काटते समय उंगली कटने से दर्द के कारण बुखार आने पर मैंने अपने समधी को जानकारी दी तो मेरे समधी हेमराज जायसवाल ने कहा कि धान काटने के डर से सोई है, उसे चार डंडे मारो सब भूत उतर जाएगा। इस बात को सुनकर मेरी बेटी विभा ने बड़ेरी में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। उक्त रिपोर्ट पर थाना गोहपारू मेें अपराध क्रमांक 416/19 पंजीबद्ध कर विवेचना उपरांत अभियोग पत्र माननीय न्यायालय में प्रस्तुत किया गया। आरोपियों द्वारा न्यायालय में दाखिल किए गए जमानत आवेदन का अभियोजन द्वारा सशक्त विरोध किया गया, न्यायालय द्वारा विचारण उपरांत आरोपीगण केतिका जायसवाल पिता हेमराज जायसवाल उम्र 25 वर्ष, हेमराज जायसवाल पिता दादूराम जायसवाल, मुन्नीबाई जायसवाल पति हेमराज जायसवाल एवं शिवकांत जायसवाल पिता हेमराज जायसवाल सभी निवासी भदवाही थाना गोहपारू जिला शहडोल को धारा 498ए, 304बी भादवि में जमानत निरस्त करते हुए जेल भेजे जाने के निर्देश दिए गए। उक्त प्रकरण मे अभियेाजन की ओर से मुकेश कोल, एडीपीओ शहडोल द्वारा पैरवी की गई।

shubham singh
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned