लाठीचार्ज के बाद शहडोल में तनाव, कलेक्ट्रेट पर जंगी प्रदर्शन, एसपी को हटाने की मांग, देखें वीडियो

shivmangal singh | Publish: Sep, 06 2018 01:53:47 PM (IST) | Updated: Sep, 06 2018 02:09:00 PM (IST) Shahdol, Madhya Pradesh, India

पुलिस की लाठी एक युवक घायल, आईजी और कमिश्नर पहुंचे मौके पर, प्रदर्शनकारी एसपी को हटाने पर अड़े हालात काबू में लेकर तनावपूर्ण

शहडोल. पुलिस की कारस्तानी से शहडोल में हालात तनावपूर्ण हो गए हैं। गांधी चौक पर शांतिपूर्ण प्रदर्शन के दौरान पुलिस ने लोगों पर लाठियां चलाईं, जिसमें डब्बू नाम के एक युवक के सिर में चोट आई है। बताया गया कि ये सब पुलिस के सीनियर अधिकारियों की शह पर किया गया। इसके बाद प्रदर्शनकारी उग्र हो गए और कलेक्ट्रेट की तरफ कूच किया। पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को राजेंद्र टाकीज के पास बैरिकेड्स लगाकर रोकने का प्रयास किया लेकिन प्रदर्शनकारियों ने बैरिकेड्ट एक तरफ फेंक दिए और पुलिस से धक्कामुक्की करते हुए कलेक्ट्रेट की तरफ कूच कर गए। वहां पर अभी भी जंगी प्रदर्शन चल रहा है। आईजी और कमिश्नर मौके पर पहुंच गए हैं। आईजी ने मजिस्ट्रेटी जांच का आश्वासन दिया है लेकिन प्रदर्शन कारी एसपी को हटाने पर अड़े हुए हैं। पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को शहर में कई जगह बैरिकेड्स लगाकर रोकने का प्रयास किया लेकिन पांच जगह पुलिस असफल रही। प्रदर्शनकारियों ने पांच स्थानों पर बैरिकेड्स फेंक दिए और कलेक्ट्रेट पहुंच गए। इस दौरान पुलिसकर्मियों से धक्कामुक्की भी हुई। अभी हालात तनावपूर्ण बने हुए हैं। उधर शहर पूरी तरह से बंद है। पेट्रोल पंप भी नहीं खुले हैं। हालांकि स्कूल खुले हुए हैं। जिले के अन्य कसबों में भी बंद पूरी तरह से सफल है और शांतिपूर्ण प्रदर्शन चल रहा है।

shahdol

भारत बंद को देखते हुए पुलिस और प्रशासन पहले से ही सतर्क था। गली चौराहों में पुलिस की चौकसी एक दिन पहले ही बढ़ा दी गई थी। दरअसल अलग- अलग संगठनों द्वारा एससी- एसटी एक्ट के खिलाफ भारत बंद का आव्हान किया गया है। सुरक्षा के मद्देनजर शहडोल में एक पुलिस कंपनी पहले ही पहुंच गई थी। रेंज के चारों जिलों के लिए डीजी रिजर्व का बल भेजा गया है। मुख्य मार्गो के अलावा चौराहों में लगाए गए सीसीटीवी कैमरा एक्टिव किए गए हैं और हालात पर कैमरे से नजर रखी जा रही है।

shahdol

सोशल मीडिया पर नजर
भारत बंद को लेकर प्रशासन और पुलिस ने सोशल मीडिया पर निगरानी के लिए अलग से टीम बनाई है। साइबर सेल भी लगातार सोशल मीडिया की मॉनीटरिंग कर रही है। अलग - अलग संगठनों के बीच बैठक लेकर पहले ही शाांतिपूर्वक विरोध की बात कही गई है। सोशल मीडिया पर किसी तरह की अफवाह आदि न फैले पूरी नजर रखी जा रही है। गोपनीय एजेंसिया स्पेशल ब्रांच, डिस्ट्रिक्ट स्पेशल ब्रांच और आईबी भी सक्रिय है और अपनी रिपोर्ट तैयार कर रही है।
शांति पूर्वक बंद का किया आह्वान
एससीएसटी एक्ट में संशोधन को लेकर सवर्णो में आक्रोश देखने मिला रहा है। जिसके विरोध में भारत बंद का आह्वान किया गया है। इसी तारतम्य में जिले में भी कई संगठनों द्वारा शांति पूर्वक बंद का आह्वान किया गया है। जिसमें आरक्षण विरोधी मंच, ब्राम्हण समाज, व्यापारी संघ, रायल राजपूत संगठन, सपाक्स संगठन समेत अन्य संगठनो ने बाजार बंद करने का आह्वान किया है।
बंद हैं पेट्रोल पंप
बुधवार को संभावित भारत बंद को देखते हुए पेट्रोल पंप डीलर्स ने शहडोल में 11 से 4 बजे तक पंप बन्द रखने का निर्णय लिया है। इस संबंध में संघ के अध्यक्ष महीप सिंह ने बताया कि सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए यह निर्णय लिया गया है। जिले के पेट्रोल पंप पूरी तरह से बंद हैं।
आईजी और कमिश्नर ने ली बैठक
भारत बंद को लेकर पुलिस और प्रशासन ने संयुक्त बैठक ली। कमिश्नर जेके जैन, आईजी आईपी कुलश्रेष्ठ, कलेक्टर अनुभा श्रीवास्तव, एसपी कुमार सौरभ शामिल हुए। बैठक में निर्देश दिए गए कि हर गतिविधियों की वीडियोग्राफी कराई जाएगी। सोशल मीडिया में विशेष नजर हैं। इसके अलावा अलग अलग संगठनो से बातचीत की गई। गुंडे बदमाशों पर भी कार्रवाई करने के निर्देश दिए गए। बैठक में निर्णय लिया गया कि जरूरत पडऩे पर कलेक्टर एसपी समन्वय करते हुए धारा 144 लागू कर सकती है।
मुंह बांधकर और लाठी लेकर चलने पर कार्रवाई
विरोध के दौरान मुंह में कपड़ा बांधकर और लाठी लेकर चलने पर पुलिस कार्रवाई करेगी। जोन के चारों जिलों के लिए यह निर्देश दिए गए हैं। इस दौरान मुंह बांधकर, लाठी और अन्य कोई हथियार लेकर एक ही वाहन पर तीन सवारी होने पर पुलिस थाने ले जाएगी। बाहर से आने वाले हर लोगों पर नजर रखी है।
सीमाओं पर किलेबंदी, सप्लाई नहीं होगी प्रभावित
शहडोल के छग की सीमाओं पर चौकसी बढ़ाई है। उधर डिंडौरी, अनूपपुर और उमरिया से सटे जिलों की सीमाओं पर नजर रखी है। पुलिस अधिकारियों ने निर्देश दिए हैं कि दूध के अलावा अन्य जरूरी चीजों की सप्लाई प्रभावित नहीं होनी चाहिए। सीमाओं में बाहरियों पर नजर रखे हैं। वाहनों की सघन जांच कर रहे हैं।

Ad Block is Banned