scriptbig scam in shahdol madhya pradesh, inqury in lokayukt | यहां 6 करोड़ का हेरफेर, लोकायुक्त के कहने के बाद भी नहीं बनाई टीम, अब आइएएस को सौंपी रिपोर्ट | Patrika News

यहां 6 करोड़ का हेरफेर, लोकायुक्त के कहने के बाद भी नहीं बनाई टीम, अब आइएएस को सौंपी रिपोर्ट

9 फरवरी तक देनी थी पूरी जांच रिपोर्ट,अभी तक नहीं हो पाई जांच

शाहडोल

Updated: February 18, 2022 01:08:27 pm

शहडोल. शिक्षा विभाग में कर्मचारियों के एरियर के नाम पर अधिकारियों द्वारा संस्था संचालक के साथ गठजोड़ कर 6 करोड़ रुपए के हेरफेर की शिकायत मामले में कलेक्टर ने अब जांच टीम गठित की है। मामले की जांच कलेक्टर ने अपर कलेक्टर अर्पित वर्मा को सौंपी है। 7 दिन के भीतर एडीएम सहित जांच टीम के सदस्यों को रिपोर्ट कलेक्टर को देनी होगी। जांच टीम में अपर कलेक्टर अर्पित वर्मा, सहायक आयुक्त रणजीत सिंह धुर्वे, बीइओ एपीएस चंदेल, प्राचार्य पचगांव मनोज तिवारी और सहायक परियोजना समन्वयक जीतेन्द्र कुमार पटेल को भी शामिल किया है। इन अधिकारियों ने कलेक्टर वंदना वैद्य ने सात दिन के भीतर रिपोर्ट मांगी है। दरअसल अनुदान प्राप्त पाण्डेय शिक्षा समिति के कर्मचारियों के एरियर के नाम पर अधिकारी और संस्था संचालक ने गठजोड़ कर कारोड़ों रुपए के हेरफेर का मामला सामने आया था। मामले को लोकायुक्त ने संज्ञान में लेते हुए लगभग एक माह पूर्व समिति बनाकर जांच कराते हुए रिपोर्ट सौंपने के निर्देश दिए थे। वहीं प्रभारी मंत्री ने भी मामले में टीम बनाकर जांच कराने कलेक्टर को निर्देश दिए थे। दोनों आदेशों के परिपालन में अभी तक अधिकारी खानापूर्ति कर रहे थे। लगभग एक माह का समय बीत जाने के बाद भी जांच पूरी नहीं हुई और अब जब रिपोर्ट सौंपने की समयावधि पूरी हो गई तो जांच में और समय लगने का हवाला देते हुए विभाग द्वारा लोकायुक्त को पत्राचार किया गया है। इधर अपर कलेक्टर ने भी मामले की जांच शुरू कर दी है।
लोकायुक्त की जांच में लापरवाही, नहीं बनाई थी टीम
तत्कालीन प्रभारी सहायक आयुक्त को बचाने प्रशासनिक अधिकारियों ने हरसंभव प्रयास किया। लोकायुक्त की जांच को भी गंभीरता से नहीं लिया। लोकायुक्त ने 9 फरवरी तक जांच रिपोर्ट मांगी थी लेकिन प्रशासन ने कोई जांच टीम ही गठित नहीं की थी। लोकायुक्त जांच की समय सीमा पूरी होने के बाद अब कलेक्टर ने जांच टीम गठित करते हुए अधिकारियों से रिपोर्ट मांगी है। इधर लोकायुक्त द्वारा जारी पत्र के परिपालन में सहायक आयुक्त आदिवासी विकास विभाग द्वारा तीन सदस्यीय जांच टीम बनाई गई है। जिसमें जिला शिक्षा अधिकारी, बीईओ जयसिंहनगर और सहायक आयुक्त कार्यालय में पदस्थ लेखाधिकारी को जांच सौंपी गई है।
लोकायुक्त की रिपोर्ट में देरी, समय और मांगा इधर एडीएम ने दस्तावेज के साथ बुलाया
लोकायुक्त ने 9 फरवरी तक रिपोर्ट सौंपने के निर्देश लगभग एक माह पूर्व दिए गए थे। सहायक आयुक्त द्वारा जांच टीम तो बनाई गई लेकिन अभी तक जांच पूरी नहीं हो पाई है। अब लोकायुक्त को पत्राचार कर जांच में और समय लगने का उल्लेख करते हुए दो सप्ताह का समय मांगा था। इधर अपर कलेक्टर को जांच अधिकारी बनाते ही तत्काल उन्होने सभी सदस्यों को पत्र लिखते हुए दस्तावेज के साथ 18 फरवरी को बुलाया है।

ghotala.jpg

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

यहाँ बचपन से बच्ची को पाल-पोसकर बड़ा करता है पिता, जैसे हुई जवान बन जाता है पतियूपी में घर बनवाना हुआ आसान, सस्ती हुई सीमेंट, स्टील के दाम भी धड़ामName Astrology: पिता के लिए भाग्यशाली होती हैं इन नाम की लड़कियां, कहलाती हैं 'पापा की परी'इन 4 राशियों के लड़के अपनी लाइफ पार्टनर को रखते हैं बेहद खुश, Best Husband होते हैं साबितजून में इन 4 राशि वालों के करियर को मिलेगी नई दिशा, प्रमोशन और तरक्की के जबरदस्त आसारमस्तमौला होते हैं इन 4 बर्थ डेट वाले लोग, खुलकर जीते हैं अपनी जिंदगी, धन की नहीं होती कमी1119 किलोमीटर लंबी 13 सड़कों पर पर्सनल कारों का नहीं लगेगा टोल टैक्ससंयुक्त राष्ट्र की चेतावनी: दुनिया के पास बचा सिर्फ 70 दिन का गेहूं, भारत पर दुनिया की नजर

बड़ी खबरें

'तुम्हारे कदम से मेरी आँखों में आँसू आ गए', सिंगला के खिलाफ भगवंत मान के एक्शन पर बोले केजरीवालसमलैंगिकता पर बोले CM नीतीश कुमार- 'लड़का-लड़का शादी कर लेंगे तो कोई पैदा कैसे होगा'SSC घोटाले के बाद अब बंगाल में नर्सों की नियुक्ति में धांधली, विरोध प्रदर्शन के बीच पुलिस और स्टूडेंट्स में हुई झड़पसचिन दिल्ली से जयपुर की फ्लाइट में बैठे और पहुंच गए अहमदाबाद, ऐसे हुआ गड़बड़झालाअमित शाह और IAS पूजा सिंहल की फोटो शेयर करने वाले फिल्ममेकर को कोर्ट से नहीं मिली राहतविधानसभा में बहस, Yogi ने अखिलेश को दिया जवाब '...लड़के हैं गलती हो जाती है'अखिलेश ने तय किया राज्यसभा के उम्मीदवारों का नाम, जल्द करेंगे नामांकनHoney Trap: पाकिस्तानी सेना का लव जेहाद, भारतीय जवानों के लिए बना फांस
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.