स्कूलों में बनेगे बूथ एवेयरनेश ग्रुप, मतदान के लिए करेगें जागरूक

17 से 24 आयु वर्ग के पुराने छात्रों व नए मतदाताओं को बनाया जाएगा क्लब का सदस्य

By: brijesh sirmour

Published: 04 Apr 2019, 07:10 AM IST

शहडोल. लोकसभा चुनाव में मतदान का प्रतिशत बढ़ाने के लिए स्वीप प्लान के तहत बूथ लेबल तक के स्कूलों में बूथ एवेयरनेश ग्रुप यानि चुनाव शिक्षा क्लब बनाए जाएंगे। जिसके तहत इनके माध्यम से बच्चों को हर सप्ताह होने वाली बाल सभा में मतदान संबंधी जानकारी दी जाएगी और चुनावी पाठशाला भी लगाएगे। गौरतलब है कि पिछले विधानसभा चुनाव के दौरान जिले के 960 बूथों में चुनावी पाठशाला का गठन किया जा चुका है और यही चुनावी पाठशाला का संचालन बूथ एवेयरनेश ग्रुप द्वारा कराया जाएगा। इसके अलावा शिक्षक बच्चों को अपने माता-पिता को मतदान करने के लिए प्रेरित करने का हौसला बढाएंगे। जिला शिक्षा अधिकारी उमेश धुर्वे ने बताया कि चुनाव पाठशाला के लिए बूथ एवेयरनेश ग्रुप का गठन किया जाएगा। इस ग्रुप में शाला छोड़ चुके 17 से 24 साल वाले छात्रों को जोड़ा जाएगा, वहीं 18 से 30 वर्ष तक की आयु के नए मतदाताओं को भी इस क्लब का सदस्य बनाया जाएगा। इस दौरान ध्यान रखा जाएगा कि ये मतदाता किसी राजनीतिक दल से जुड़े हुए न हों। वह इस पाठशाला में भाग लेकर मतदाताओं को मतदान के लिए प्रेरित करेंगे। सभी को अलग-अलग जिम्मेदारी सौंपी जाएगी। बताया गया है कि ग्रुप द्वारा महिला मतदाताओं को ज्यादा से ज्यादा मतदान के लिए प्रेरित करने का प्रयास किया जाएगा। इसके लिए महिला चिकित्सक, नर्स, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, आशा कार्यकर्ता और महिला अधिकारियों को भी जोड़ा जाएगा। बताया गया है कि चुनावी पाठशाला में प्रधानाध्यापक, ग्राम सचिव, ग्राम सहायक, जन शिक्षक, शिक्षिका सहित अन्य कई लोग सदस्य बन चुके हैं।
बैठक में दी गई जानकारी
डीईओ उमेश धुर्वे ने बताया है कि पिछले दिनों सीईओ जिला पंचायत एस कृष्ण चैतन्य ने स्वीप प्लान के तहत जिले के समस्त बीईओ एवं बीआरसी सहित अन्य शिक्षा अधिकारियों की बैठक लेकर लोकतंत्र को मजबूत बनाने के लिए मतदाताओं को मतदान के लिए प्रेरित करने के हर संभव प्रयास करने को कहा है। जिसमें हायर सेकेण्ड्री स्कूल के 18 साल व इससे ज्यादा उम्र के छात्रों को जोडऩे को भी कहा गया है।

brijesh sirmour
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned