विश्वविद्यालय के नए भवन तक परीक्षा के पहले शुरु होगी बस सेवा, बदली जाएगी वेबसाइट

कुलसचिव ने धरना के बीच दिया आश्वासन, छात्र संगठन कर रहा था प्रदर्शन

By: Ramashankar mishra

Updated: 02 Mar 2021, 01:04 PM IST

शहडोल. पंडित शम्भूनाथ शुक्ला विश्विद्यालय शहडोल में छात्रों को लंबे समय से विभिन्न समस्याओं का सामना करना पड़ रहा था। जिसके समाधान के लिए विगत 3 दिनों से अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के कार्यकर्ता व बड़ी संख्या में छात्र विश्विद्यालय पुरानी बिल्डिंग गेट के सामने धरने पर बैठे थे। धरने के तीसरे दिन विश्विद्यालय के कुलसचिव डॉ बिनय सिंह धरना-प्रदर्शन के बीच पहुंचे व छात्रों की सभी समस्याओं के समाधान करने का आश्वासन दिया। इसमें कुलसचिव ने कहा कि परीक्षा शुरू होने के पहले-पहले बस सुविधा चालू कर दी जाएगी। धुरवार मोड़ पर ब्रेकर बनाया जाएगा। विश्विद्यालय में लगे सुरक्षा गार्डों की संख्या व उनका वेतनमान बढ़ाया जाएगा। इस तीन दिवसीय धरना प्रदर्शन में अभाविप के मनोज यादव, अरुणेन्द्र पाण्डेय, सौरभ द्विवेदी, डॉक्टर सिंह मार्को, शिवम वर्मा, गोविन्द मेशराम, हर्षित गुप्ता, उत्कर्ष द्विवेदी, हिमांशु पाण्डेय, मनीष चौरसिया पुष्पराज सिंह, कपिल गुरु, मनोराज मिश्रा, अभिषेक यादव, सौरभ उरमलिया, मनीष जैसवाल, अनुराग द्विवेदी, प्रियांशु त्रिपाठी, आकाश कुशवाहा, वात्सल्य जैसवाल, सुजीत खटीक, ख़ुशी गुप्ता, शिवानी द्विवेदी, भावना शर्मा, जीतेंद्र सिंह मार्को, शिवेन्द्र मरावी आदि कार्यकर्ता व छात्र-छात्राएं उपस्थित रहे।
शीघ्र शुरू होंगी कैंटीन
विश्विद्यालय के दोनों कैंपस नए व पुरानी बिल्डिंग में जल्द ही कैंटीन चालू कर दिए जाएंगे। विश्विद्यालय के नवलपुर परिसर में नए अकादमी भवन का निर्माण करके बीए व बीकॉम को भी भवन बनते ही नवलपुर शिफ्ट कर दिया जाएगा। जब तक नया भवन निर्मित नहीं हो जाएगा तब तक पुरानी बिल्डिंग में भी
नए की तरह ही सभी सुविधाएं, कैंटीन, केंद्रीय पुस्तकालय,लैंग्वेज लैब, स्मार्ट क्लास आदि उपलब्ध कराई जाएंगी।
आज से खुल जाएगा गल्र्स हास्टल
विश्विद्यालय नए बिल्डिंग के पास सुरक्षा की दृष्टि से जल्द ही पुलिस चौकी बना दी जाएगी। विश्विद्यालय नए परिसर का गल्र्स हॉस्टल आज से ही खोल दिया जाएगा, जिसमें सभी छात्राएं प्रवेश ले सकती हैं। विश्विद्यालय की वेबसाइट 7 दिनों के भीतर बदल दी जाएगी, व एक नई,अच्छी व सरल वेबसाइट उपलब्ध कराई जाएगी। व वेबसाइट से जिनकी अधिक फ़ीस कट गई थी वो वापस कर दी जाएगी। विश्विद्यालय के दोनों कैंपस के पुस्तकालय कल से ही खुल जाएंगे व सभी छात्र-छात्रओ को पुस्तकें दी जाएंगी।

Show More
Ramashankar mishra
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned