सपाक्स समाज को संगठित करने चलाएंगा अभियान, बैठक में लिया गया निर्णय

सपाक्स समाज को संगठित करने चलाएंगा अभियान, बैठक में लिया गया निर्णय

Shiv Mangal Singh | Publish: Sep, 03 2018 07:56:08 PM (IST) Shahdol, Madhya Pradesh, India

वर्तमान राजनीतिक परिदृश्य पर की गई विस्तार से चर्चा


सपाक्स समाज को संगठित करने चलाएंगा अभियान, बैठक में लिया गया निर्णय


खन्नौधी। सोमवार को जयसिंहनगर में सपाक्स की महत्वपूर्ण बैठक हुई । जिसमें 100 से अधिक सपाक्स समाज एवं सपाक्स युवा इकाई के सदस्यों ने भाग लिया। बैठक में सपाक्स समाज के गठन एवं वर्तमान राजनीतिक परिदृश्य पर विस्तार से चर्चा की गई। आर्थिक आधार पर ओबीसी की तरह सभी जातियों को आरक्षण एवं उच्चतम न्यायालय द्वारा एससी्एसटी एक्ट में दिए गए निर्देशों के विपरीत केंद्र सरकार द्वारा जारी किए गए कानून को समाप्त कराने के लिए समाज को संगठित करने का अभियान प्रारंभ करने का निर्णय लिया गया सपाक्स के नोडल अधिकारी आनंद अग्रवाल ,अनिल सिंह एवं संतोष श्रीवास्तव ने बैठक को संबोधित किया । कार्यक्रम का संचालन सपाक्स युवा इकाई के अनूप मिश्रा आभार बयक्त किया । सपाक्स के संतोष श्रीवास्तव द्वारा बताया गया ओबीसी में क्रीमी लेयर का प्रावधान है अर्थात ओबीसी को आर्थिक आधार पर आरक्षण का लाभ प्राप्त होता है । आठ लाख से अधिक इनकम वाले एससीएसटी को अनारक्षित वर्ग का समझा जाता है। उसे आरक्षण का लाभ प्राप्त नहीं होता । यह प्रावधान ओबीसी के आरक्षण में भी लागू किया जाए ।
अभी नोएडा में एक रिटायर्ड कर्नल को झूठे एससी एसटी एक्ट का प्रकरण हुआ उसमें भी प्रकरण समाप्त नहीं हुआ है । सेना के दबाव में एवं सीसीटीवी फुटेज के आधार पर जमानत दी गई । साथ ही इस प्रकार के अनेकों प्रकरण हुए हैं शहडोल सपाक्स द्वारा 2015 से 2018 तक के प्रकरणों की न्यायालय से जानकारी निकलवाई गई । जिसके आधार पर 2015 में दायर 73 सजा हुई ।15 प्रकरणों में वर्ष 2016 में दायर 55 सजा हुई । वर्ष 2017 दायर प्रकरण मे 66 सजा हुई । वर्ष 2018 में दायर 50 सभी पेंडिंग है। इस ऐक्ट मे शिकायत चाहे झूठी ही क्यों ना हो शिकायतकर्ता को 85000 रुपए से 8.40000 रुपए तक राहत राशि का वितरण का प्रावधान इस एक्ट में किया गया है। झूठी शिकायत होने पर भी शिकायतकर्ता को तत्काल राहत राशि जनजातीय कार्य विभाग द्वारा भुगतान की जाएगी। ऐसी स्थिति में पैसे के लिए भी झूठी शिकायते होती है। सामान्य ओबीसी तथा अल्पसंख्यक समुदाय के लोगों को बिना किसी अपराध के दंड भुगतना पड़ेगा । इस काले कानून को भी समाप्त करने के लिए आंदोलन की भूमिका पर विचार किया गया । सामान्य ओबीसी एवं अल्पसंख्यक समुदाय द्वारा ६ सितम्बर को ्018 को भारत बंद का आयोजन किया गया है। इस आयोजन को सपाक्स द्वारा नैतिक समर्थन दिया गया है।
बैठक में डॉ राजेश तिवारी एलके पांडे ,राज किशोर शर्मा, चक्रधर सिंह ,विनय निगम , राकेश पांडे शैलेश पांडे ,पुष्पराज सिंह ,अखिलेश द्विवेदी, विपिन द्विबेदी, प्रभात मिश्रा , राहुल पालीवाल , शंकर सिंह ,जगन्नाथ तिवारी ,संतोष तिवारी ,बृजेंद्र पांडे ,संजय तिवारी काशी प्रसाद पांडे ,हरिहर प्रसाद शुक्ला, अजीत श्रीवास्तव, भागवत प्रसाद तिवारी सत्येंद्र पांण्डेय , कृष्ण कुमार तिवारी ,विजय शुक्ला आदि बड़ी संख्या में समाज जन उपस्थित रहे । आभार प्रदर्शन ओपी तिवारी ने किया।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned