कार और हवेली वाले भी ले रहे बीपीएल का लाभ

पात्रता पर्ची सत्यापन से हो रहा खुलाशा

By: lavkush tiwari

Updated: 03 Jan 2020, 09:29 PM IST

शहडोल. किसी के पास आलीशान भवन और किसी के पास कार ऐसे नगर में बीपीएल सूची और पात्रता पर्ची का लाभ नगर के लगभग 150 लोग भौतिक सत्यापन के दौरान सामने आए हैं, हालाकि नपा द्वारा ऐसे नामों का खुलाशा अभी नहीं किया जा रहा है। नपा द्वारा 15 दिसंबर से चलाए जा रहे नगर के 39 वार्ड और 10 जोन में 47कर्मचारियों की ड्यूटी पात्रता पर्ची और बीपीएल श्रेणी के लोगों के भौतिक सत्यापन के लिए लगाई गई है, जिसमें 7सुपरवाइजरों द्वारा मौके पर हितग्राहियों का सत्यापन कार्य किया जा रहा है।
नगर में कुल 8 हजार 98 पीबीएल और पात्रताधारी-
जानकारी में बताया गया है कि नपा द्वारा कराया जा रहा सर्वे और भौतिक सत्यापन की रफ्तार बहुत धीमी है, जिससे समय पर भौतिक सत्यापन नहीं हो पा रहा है। बताया गया है कि नगर में अब तक सिर्फ 20 फीसदी लोगों का ही भौतिक सत्यापन किया गया है। भौतिक सत्यापन करने में लगे कर्मचारियों द्वारा ३ जनवरी तक 8 हजार 98 पात्रताधारी और बीपीएल हितग्राहियों में से अब तक कुल 1600 हितग्राहियों के भौतिक सत्यापन किए गए हैं। बताया गया है कि पात्रता के लिए 24 तरह के हितग्राहियों को इस योजना का लाभ लेने के लिए शासन द्वारा शामिल किया गया है, लेकिन नगर में आलीशान भवन मालिक और कार मालिक तक योजना का लाभ ले रहे हैं।
सत्यापन के बाद काटे जाएंगे सूची से अपात्रों के नाम-
बीपीएल सूची में नाम जोडवाने वाले नगर के ऐसे हितग्राहियों के नाम भौतिक सत्यापन का कार्य पूरा होने के बाद सूची से अलग किए जाएंगे। इन नामों को मोबाइल एप पर लोड़कर सीधे मुख्यालय को जानकारी दी जा रही है। बताया गया है कि पात्रता पर्ची का अनैतिक रूप से लाभ लेने वाले अपात्र लोगों को सूची से नाम हटाकर उनको मिलने वाली सुविधाएं बंद कर दी जाएंगी। बताया गया है कि नगर में कई ऐसे लोग हैं जिनके पास आलीशान भवन और कार होने के बाद भी वह गरीबों के हक छीन रहे हैं।
जल्द कराया जाएगा भौतिक सत्यापन
नगर के 39 वार्डों में 47कर्मचारियों और 7 सुपरवाइजरों द्वारा पात्रतापर्ची और बीपीएल का भौतिक सत्यापन कराया जा रहा है। अब तक लगभग 16 सौ से अधिक हितग्राहियों का सर्वे कराया जा चुका है। सत्यापन के दौरान कई ऐसे लोगों के नाम सामने आए हैं जो अपात्र होने के बाद भी पात्रता पर्ची और बीपीएल का लाभ ले रहे हैं। ऐसे लोगों के नाम सूची से अलग किए जाएंगे।
अजय श्रीवास्तव
सीएमओ
नपा-शहडोल

lavkush tiwari
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned