पहली बार ऑनलाइन के साथ मैनुअल फारमेट में होगी जनगणना

गणना करने वालों के हाथों में होगा डिवाइस के साथ जनगणना पत्रक

By: brijesh sirmour

Updated: 01 Mar 2020, 08:43 AM IST

शहडोल. इस वर्ष पहली बार ऑनलाइन सिस्टम से जनगणना की जाएगी, मगर मैनुअल फारमेट में भी जनगणना की जाएगी। इसके लिए जनगणना करने वालों के हाथों में टैबलेट या मोबाइल डिवाइस के साथ में जनगणना का पत्रक भी होगा। ऑनलाइन जनगणना होने से पहले की तरह समय नहीं लगेगा। वहीं इस बार भारत सरकार ने ऑनलाइन और मैन्युअल जनगणना करने वालों के मानदेय को भी अलग-अलग रखा है। इसमें ऑनलाइन जनगणना करने पर ज्यादा मानदेय रखा गया है। शहडोल में 41 फील्ड ट्रेनरों की नियुक्ति करने की कार्रवाई की जा रही है। जनगणना का कार्य आगामी एक मई से शुरू किया जाएगा। जनगणना के लिए ट्रेनिंग पार्ट से लेकर फील्ड लेवल का वर्क भी शामिल है। बताया गया है कि फील्ड ट्रेनरों में क्लास वन अधिकारियों की नियुक्ति की जाएगी। जनगणना को ऑनलाइन करने को लेकर टैबलेट दिए जाएंगे या फिर भारत सरकार एप जारी करेगी। जिसमें गणना करने वालों को लॉगइन आईडी मिलेगी।
जनगणना की फैक्ट फाइल
वर्ष 2011
पुरुष - 540021
महिला - 526042
कुल - 1066063
वर्ष 2001
पुरुष - 464784
महिला - 443364
कुल - 908148

कम समय में होगी पूरी जनगणना
बताया गया है कि जनगणना 2021 में ऑनलाइन प्रक्रिया होने से पहले की अपेक्षा कम समय लगेगा। पूरा डेटा ऑनलाइन फीड होते ही आंकड़े आने में कम समय लगेगा। जनगणना में जो कर्मचारी टेक्नोफ्रें डली नहीं होंगे उनके लिए पत्रक विकल्प बतौर काम करेगा।
एक मई से शुरू होगी जनगणना
बताया गया है कि आजादी के बाद आठवीं जनगणना के लिए इस बार एक मई से सरकारी कर्मचारी घर-घर जाकर गणना करना शुरू कर देंगे। इसके लिए सरकारी कर्मचारियों को चरणबद्ध तरीके से ट्रेनिंग दी जा रही है। जनगणना दो चरणों में ऑनलाइन और ऑफ लाइन होगी। मकानों का सूचीकरण एक अप्रैल से 30 सितंबर तक होगा।देश में सीएए कानून लागू होने के बाद इस बार की जनगणना काफी महत्वपूर्ण मानी जा रही है। इसी के आधार पर पहली बार राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर एनपीआर भी तैयार किया जाएगा।
35 सवालों के देना होगा जवाब
बताया गया है कि प्रगणकों के पास 35 सवालों की सूची होगी। इसमें इस बार अजब-गजब प्रश्न शामिल किए गए हैं। मसलन आप किस ब्रांड का चावल व दाल खाते है, आपके घर में टीवी, फ्रीज सहित किस प्रकार के मोबाइल का इस्तेमाल करते हैं। यानि आपके खाने-पीने से लेकर पूरी लाइफ स्टॉइल से जुड़े सवाल होंगे। जिसमें घर में परिवार, रसोई और शौचालय भी शामिल हैं। इसमें आपके आर्थिक क्षमता का भी आंकलन किया जाएगा।
इनका कहना है
पिछले दो दिवसीय प्रशिक्षण में अधिकारियों को भोपाल के प्रशिक्षकों द्वारा प्रशिक्षण दिया गया है। अभी 41 चैनल बनाए गए है। एक मई से शुरू होने वाली जनगणना में 35 बिन्दुओं पर सवाल किए जाएगे। जिसमें खाने की चीजें और कार आदि के इस्तेमाल के सवाल पूछे जाएंगे।
डीके अहिरवार, जिला सांख्यिकी अधिकारी, शहडोल

Show More
brijesh sirmour
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned