हर ग्राहक का काटा चालान, दुकानों को किया सील, व्यवसायी को ले गए थाना

जुटा रखी थी भीड़, पुलिस को देख बंद किया शटर
पुलिस ने दिखाई सख्ती तब खुला शटर, 13 दुकानें सील

शहडोल. नगर के कुछ कपड़ा व्यवसायी जिला प्रशासन के आदेश के बाद भी आध शटर खोलकर अपना कारोबार चला रहे थे। इस दौरान उनके द्वारा न तो सोशल डिस्टेंसिंग का पालन किया जा रहा था और न ही मास्क लगाया जा रहा है। पत्रिका ने इस मुद्दे को प्रमुखता से उठाते हुए फोटो के माध्यम से दुकानदारों की करतूत उजागर की। जिसके बाद हरकर में आई पुलिस पंचायती मंदिर के समीप संचालित दुकान पहुंच गई। जहां दुकानदार प्रतिदिन की तरह मंगलवार को भी आधी शटर खोलकर ग्राहकों को अंदर बैठा रखे थे। पुलिस को देखते ही व्यवसायियों ने ग्राहकों को अंदर कर शटर गिरा लिया। पुलिस आवाज देती रही लेकिन वह शटर खोलने के लिए तैयार नहीं थे।
अंदर जुटी थी भारी भीड़, पुलिस ने काटा चालान
पंचायती मंदिर स्थित कपड़ा दुकान में भारी तादाद में भीड़ जुटी हुई थी। पुलिस ने जब सख्ती दिखाई और एनाउंसमेंट किया तब कहीं जाकर दुकान का शटर खुला। शटर खुलने के बाद जो नजारा था वह देखने लायक थे। दुकान के अंदर कई ग्राहक मौजूद थे। जिन्हे एक-एक कर दुकान से बाहर निकाला गया। सभी ग्राहकों के 200-200 रुपए का चालान काटा गया और सभी को समझाइश दी गई।
दुकानों को किया सील, ले गए थाना
व्यवसायियों द्वारा आधा शटर खोलकर दुकान संचालित करने की सूचना पर मौके में पहुंची डीएसपी सोनाली गुप्ता, कोतवाली थाना प्रभारी राजेश चन्द्र मिश्रा, अभिनव राय, राकेश बागरी, वैष्णवी पाण्डेय सहित उनकी टीम ने मौके में संचालित दो कपड़ा दुकानों के साथ ही अन्य दुकानों को भी सील कर दिया है। साथ ही कपड़ा व्यवसायियों के विरुद्ध प्रकरण दर्ज करते हुए उन्हे थाना में बैठा लिया।
कालाबाजारी के साथ दुकानों में भीड़
यह हाल किसी एक स्थान में नहीं बल्कि पूरे शहर के है। सुबह से 1 बजे तक प्रशासन ने किराना दुकान की होम डिलेवरी के लिए छूट दे रखी है। जिसका व्यवसायी दुरुपयोग करने पर आमादा है। ज्यादातर व्यवसायी होमडिलेवरी और सामान पैक करने की आड़ में आधा शटर खोलकर दुकान संचालित कर रहे हैं। जहां ग्राहकों को दुकान के अंदर बुला लिया जाता है। एक-एक कर दुकान के अंदर काफी भीड़ एकत्रित हो जाती है। पुलिस वाहन को देख शटर गिरा लिया जाता है।

Corona virus
Show More
Ramashankar mishra
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned