दुर्घटनाओं को रोकने नागरिकों का सहयोग आवश्यक

शहडोल को देश का एक्सीडेंट शून्य जिला बनाएं

By: amaresh singh

Published: 13 Oct 2021, 07:47 PM IST

शहडोल. सभी नागरिकों को यातायात नियमों का ज्ञान होना आवश्यक है। यातायात नियमों का पालन की जानकारी होने से दुर्घनाओं को रोका जा सकता है। आज का दिन शहडोल संभाग के लिए ऐतिहासिक दिन है। आज शहडोल में यातायात व्यवस्था को दूरूस्थ बनाने के लिए इंटरसेप्टर व्हीकल का लोकार्पण किया जा रहा है। दुर्घटनाओं को रोकने के लिए नागरिकों का सहयोग आवश्यक है, यातायात नियमों के प्रति नागरिकों की जागरूकता और चेतना ही सहयोगी हो सकती है। संभाग के सभी नागरिक यातायात नियमों के प्रति जागरूक हो तथा शहडोल देश का रोड एक्सीडेंट शून्य जिला बने। उक्त बातें कमिश्नर राजीव शर्मा ने इंटरसेप्टर व्हीकल लोकार्पण समारोह को संबोधित करते हुए कही। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए एडीजीपी दिनेश चंद्र सागर ने कहा कि यातायात के नियमों के प्रति जागरूकता लाना आवश्यक है। उन्होंने बताया कि इंटरसेप्टर व्हीकल अति आधुनिक तकनीक से युक्त व्हीकल है। इस व्हीकल के माध्यम से 2 किलोमीटर तक दायरे के वाहनों तक की गतिविधियों को देखा जा सकता है तथा वाहनों की गति की गणना इंटरसेप्टर व्हीकल के आधुनिक यंत्रों के माध्यम से मालूम की जा सकती है। निर्धारित गति से तेज गति पर वाहन चलाने पर जुर्माने का प्रावधान किया गया है। कलेक्टर वंदना वैद्य ने कहा कि जिले में सर्वसुविधायुक्त इंटरसेप्टर व्हीकल के लोकार्पण से सड़क दुर्घटनाओं को रोकने में मदद मिलेगी। पुलिस अधीक्षक अवधेश कुमार गोस्वामी ने कहा कि रोड दुर्घटनाओं को रोकने के लिए 12 ब्लैक स्पॉट चिन्हित किए गए है तथा चिन्हित स्पॉटों में सुधार के कार्य किए गए है, जिसका परिणाम है कि दुर्घटना में कमी आई है। दुर्घटनाओं को रोकने के लिए नागरिकों को यातायात नियमों की जानकारी देकर उन्हें यातायात नियमों के प्रति जागरूक करना होगा।


आरक्षक को किया सम्मानित
समारोह में कमिश्नर राजीव शर्मा, एडीजीपी दिनेश चंद्र सागर, कलेक्टर वंदना वैद्य एवं पुलिस अधीक्षक अवधेश कुमार गोस्वामी ने यातायात आरक्षक विवेकानंद तिवारी को दुर्घटनाग्रस्त परिवार को बचाने एवं उनकी त्वरित सहायता कर चिकित्सालय तक पहॅुचाने के अनुकरणीय कार्य के लिए एवं यातायात नियमों का कड़ाई से पालन कराने पर सम्मानित किया गया। इस अवसर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक मुकेश कुमार वैश्य, उप पुलिस अधीक्षक यातायात अखिलेश कुमार तिवारी, उप पुलिस अधीक्षक अजाक सोनाली गुप्ता सहित पर अन्य पुलिस अधिकारी उपस्थित थे।


वाहन को हरी झंडी दिखाकर किया रवाना
प्रदेश शासन के गृह विभाग द्वारा उपलब्ध कराए गए इंटरसेप्टर वाहन को मंगलवार को कलेक्टर कार्यालय के परिसर से आयुक्त राजीव शर्मा, अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक दिनेश चंद्र सागर, कलेक्टर वंदना वैद्य एवं पुलिस अधीक्षक अवधेश कुमार गोस्वामी ने आज हरी झंडी दिखाकर गंतव्य स्थान की ओर रवाना किया। इस वाहन में स्पीड, साउंड चेक कर प्रिंट आउट किया जा सकता है, वाहन कैमरा विथ लेजर से युक्त है।

amaresh singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned