लगातार बारिश ने रोकी जीवन की रफ्तार

लगातार बारिश ने रोकी जीवन की रफ्तार

shivmangal singh | Publish: Sep, 08 2018 08:53:01 PM (IST) Shahdol, Madhya Pradesh, India

एक दिन में हो गई 60 मिलीमीटर बारिश,शहर की सडक़ों पर भरा पानी

शहडोल. जिले में हो रही लगातार बारिश से जहां एक ओर आम जन-जीवन प्रभावित हुआ है, वहीं दूसरी ओर खेती किसानी के काम में व्यवधान आया है। बीती रात करीब १२ बजे से शुरू हुई बारिश दूसरे दिन शुक्रवार को देर शाम तक नहीं रुकी। इस दौरान जिले में करीब तीन इंच बारिश हो गई। जिससे जिले के नदी नाले उफान पर आ गए और शहर की सडक़ें तालाब में तब्दील हो गई। बारिश के दौरान नगरीय प्रशासन का अमला कई स्थानों पर बारिश के पानी के निकासी की व्यवस्था करता देखा गया। बारिश से लोगों का काफी नुकसान हुआ है। जानकारों का कहना है कि इस बार अच्छी बारिश हुई है, मगर अब खेती किसानी के लिए लगातार बारिश की आवश्यकता नहीं है। संभागीय मुख्यालय की टांकी व मुडऩा नदी सहित सोन नदी भी उफान पर आ गई। टांकी नदी में सुबह से ही पानी पुल के उपर से बहने लगा था, यहां पर प्रशासन द्वारा सुरक्षा के कोई उपाय नहीं किए गए और लोग जान जोखिम में डाल कर पुल पार करते देखे गए। मुडऩा नदी में जल भराव काफी ज्यादा रहा और पानी की तेज धारा में आसपास की गंदगी बहती नजर आई। इसी तरह शहर के कन्या महाविद्यालय के सामने, जेल बिंडिंग के बगल में, पीली कोठी के सामने, पुराने नपा के सामने, गांधी चौराहा, अण्डर ब्रिज, पोण्डा नाला और डिग्री कॉलेज हॉस्टल रोड में जल भराव होने से लोगों को आवागमन में काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ा।

सर्वाधिक वर्षा बुढ़ार क्षेत्र में
जिले में 7 सितम्बर तक 922.5 मि.मी. औसत वर्षा दर्ज की गई है। जबकि गत वर्ष इसी अवधि में 642.1 मि.मी. औसत वर्षा दर्ज की गयी थी। जिले में विगत 24 घण्टे में 54.5 मि.मी औसत वर्षा दर्ज की गई है। वर्षामापी केन्द्र सोहागपुर में 58 मि.मी., बुढ़ार में 93 मि.मी., गोहपारू में 58 मि.मी, जैतपुर में 72 मि.मी., ब्यौहारी में 30 मि.मी. तथा जयसिंहनगर में 16 मि.मी. वर्षा दर्ज की गयी है। सर्वाधिक वर्षा 93 मि.मी. वर्षा बुढ़ार में दर्ज की गई है।

Ad Block is Banned