एक साल से अटका सात सिंचाई परियोजनाओं का निर्माण

कार्यपालन यंत्री ने लिखा शासन को पत्र

By: lavkush tiwari

Updated: 19 Mar 2020, 09:25 PM IST

शहडोल. जिले में सिंचाई का रकबा बढ़ाने के लिए सिंचाई विभाग द्वारा जिले में आठ सिंचाई परियोजनाओं के निर्माण की स्वीकृति शासन से एक साल मिलने के बाद भी इन सिंचाई परियोजनाओं का निर्माण अधर में अटका हुआ है। बताया गया है कि आठ सिंचाई परियोजनाओं में से महज एक ही सिंचाई परियोजना का टेंडर मुडना सिंचाई परियोजना का किया गया है, जबकि ७ अन्य सिंचाई परियोजनाओं का निर्माण साल भर से अधिक समय बीतने के बाद भी नहीं हो सका है।
इन सिंचाई परियोजनाओं का निर्माण अधर में-
जानकारी में बताया गया है कि जिले में आठ सिंचाई परियोजनाओं के निर्माण के लिए शासन ने 2018 में दी, लेकिन इनमें से मुडऩा सिंचाई परियोजना को छोड़कर जयसिंहनगर की सेरीमार सिंचाई परियोजना, उल्टीधार नाला सिंचाई परियोजना, जलहली सिंचाई परियोजना, जैतपुर की मोहतरा सिंचाई परियोजना, कुडेली परियोजना और बनियानाला सिंचाई परियोजना के अलावा ब्यौहारी की भन्नी माइक्रो सिंचाई परियोजना का निर्माण अभी तक अधर में अटका हुआ है। बताया गया है कि इन परियोजनाओं के निर्माण के लिए अभी तक निविदा तक नहीं बुलाई जा सकी है। बताया गया है कि इन सिंचाई परियाजनाओं के निर्माण कार्य पूरा कराने की समय सीमा 2022 तक विभाग द्वारा रखी गई थी, लेकिन अब निर्माण को लेकर सवाल उठाए जा रहे हैं।

Show More
lavkush tiwari
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned