तीन सेंटरों पर ड्राय रन, जानिए कोरोना वैक्सीनेशन से जुड़े पांच बड़े सवालों के जवाब

सभी जगह पांच-पांच लोगों की रहेगी टीम

By: amaresh singh

Published: 07 Jan 2021, 10:41 PM IST

शहडोल। स्वास्थ्य विभाग ने कोरोना का टीका लगाने की तैयारी पूरी कर ली है। कोरोना वैक्सीनेशन के लिए ड्राय रन जिले में आज किया जाएगा। इसके लिए जिले में तीन सेंटरों का चयन किया गया है। इसमें मेडिकल कॉलेज, सीएचसी धनपुरी और सिविल हास्पिटल ब्यौहारी शामिल है। तीनों जगहों पर प्रोटोकाल के अनुसार वैक्सीनेशन की पूरी प्रक्रिया का डेमो होगा। ड्राय रन के लिए सभी जगह पांच-पांच लोगों की टीम रहेगी।


25-25 हितग्राही रहेंगे उपस्थित
वैक्सीनेशन की डेमों के लिए 25-25 हितग्राहियों की रहेंगे। इनको मैसेज भेजा जा चुका है। सबकी जानकारी कोविड पोर्टल पर अपलोड की जाएगी। जिस प्रकार वास्ताविक वैक्सीनेश सत्र होता है, वह सभी प्रक्रिया अपनाया जाएगा। इस दौरान यह देखा जाएगा कि वैक्सीनेशन ड्राय रन में किसी प्रकार की कठिनाई आ रही है तो फिर वास्तविक वैक्सीनेशन में उसे सुधार किया जाएगा। हर सेंटर पर वैक्सीनेशन के लिए तीन कमरों की व्यवस्था रहेगी। पहला कमरा वेंटिल रूम होगा। जहां पर हितग्राही के बैठने और हाथ धोने की व्यवस्था रहेगी। दूसरा कमरा टीकाकरण कक्ष होगा, जहां पर हितग्राही की स्वास्थ्य परीक्षण के उपरांत टीकाकरण किया जाएगा। तीसरा कक्ष अवलोकन कक्ष रहेगा। इसमें हितग्राही को टीका लगाने के बाद आधा घंटा आराम करने होगा। इस दौरान देखा जाएगा कि कोई प्रतिकूूल घटना का सामना तो नहीं करना पड़ रहा है। इत्तेफाक से यह घटना होती है तो उसे निपटने के लिए एनाफाईलेक्सिस किट तथा एईएफआई किट की व्यवस्था रहेगी।
पांच लोगों की टीम में ये रहेंगे शामिल
सेंटरों पर जिन पांच लोगों की टीम बनाई गई है, उसमें एक पुलिसकर्मी अथवा होमगार्ड का जवान या एनसीसी कैडेट होगा। दूसरा एएनएम वैक्सीनेटर रहेंगी। शेष तीन सहयोगी आशा या आंगनबाड़ी कार्यकर्ता रहेंगी। सभी हितग्राहियों को वैक्सीनेशन के दौरान मौके पर पंजीयन नहीं किया जाएगा। हितग्राही को पूर्व से पंजीयन कोविड पोर्टल पर कराना अनिवार्य है। इसके उपरांत हितग्राही को यूनिक आईडी प्राप्त होगी तथा सत्र की जानकारी मैसेज द्वारा भेजा जाएगा।
प्रथम चरण के लिए दिशा-निर्देश
वर्तमान में कोविड वैक्सीनेशन के लिए सिर्फ प्रथम चरण के दिशा-निर्देश शासन से स्वास्थ्य विभाग को मिला है। इसमें स्वास्थ्य क्षेत्र में काम करने वाले स्वास्थ्य विभाग, चिकित्सा महाविद्यालय, निजी स्वास्थ्य कर्मचारी तथा महिला बाल विकास विभाग के के कार्यकर्ता का टीकाकरण किया जाना है। इसमें 6348 हितग्राहियों का पंजीयन कोविड पोर्टल पर किया गया है। वैक्सीन लगवाने के बाद भी मास्क, सामाजिक दूरी और हाथ धोना अनिवार्य है। वैक्सीन के लिए उम्र की कोई सीमा नहीं है। सभी के लिए वैक्सीन है। वैक्सीन से कुछ नहीं होगा। यह केवल भ्रांतियां हैं। ड्राय रन के लिए गुरुवार को डब्लूएचओ सर्विलेंस मेडिकल आफिसर के साथ तैयारियों को लेकर कलेक्टर की बैठक हुई।
इनका कहना है
जिले में तीन जगहों पर कोरोना वैक्सीनेशन का ड्राय रन होगा। सभी सेंटरों पर पांच-पांच लोगों की टीम बनाई गई है। सभी जगह 25-25 हितग्राहियों पर कोरेाना वैक्सीनेशन का डैमो किया जाएगा।
डॉ अंशुमान सोनारे, नोडल अधिकारी कोरोना एवं जिला टीकाकरण अधिकारी

आम जनता के कोरोना नोडल अधिकारी से सवाल
सवाल: आज जनता को कब से वैक्सीन लगेगी
जवाब: अभी शासन से प्रथम चरण वैक्सीनेशन के लिए दिशा-निर्देश मिले हैं। इसमें स्वास्थ्य विभाग के कर्मियों, चिकित्सा महाविद्यालय, निजी स्वास्थ्य कर्मचारी तथा महिला बाल विकास विभाग के कार्यकर्ता शामिल हैं।
सवाल:वैक्सीन लगने के बाद भी मास्क लगाना होगा क्या
जवाब:वैक्सीन लगने के बाद भी मास्क के साथ सामाजिक दूरी और हाथ धोते रहना है।
सवाल:पूरे जीवन काल में कोरेाना की कितनी वैक्सीन लगेगी।
जवाब:अभी यह नहीं बता सकते हैं
सवाल:महिला, पुरूष और बच्चे सबके लिए वैक्सीन है क्या
जवाब: सभी के लिए वैक्सीन है।
सवाल:उम्र सीमा है क्या
जवाब:वैक्सीन लगवाने की कोई उम्र सीमा नहीं है।
सवाल:वैक्सीन लगने के बाद संक्रमित व्यक्ति के संपर्क मेतं आने से कोरोना तो नहीं होगा।
जवाब: अभी यह नहीं बता सकते हैं।
सवाल:वैक्सीन लगने के बाद कोरेाना से कोई अंग तो प्रभावित नहीं होगा।
जवाब: वैक्सीन लगने के बाद शरीर का कोई अंग प्रभावित नहीं होगा।

Coronavirus in China Coronavirus Outbreak
Show More
amaresh singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned