कोरोना मरीज खराब खाना और साफ-सफाई नहीं होने से परेशान

राउंड लेने नहीं आते हैं डॉक्टर

By: amaresh singh

Updated: 18 Oct 2020, 12:06 PM IST

शहडोल। मेडिकल कॉलेज में कोरोना मरीज खराब खाना और वार्ड में शौचालय की साफ-सफाई नहीं होने से परेशान हैं। शहर की एक महिला कोरोना मरीज ने बताया कि कोरोना मरीजों को कच्ची रोटी और बासी चावल दिया जाता है। दाल बिना फ्राइ के रहती है। अभी कैंटिन को बदला गया है लेकिन नया कैंटिन वाला पुराने से भी खराब खाना कोरोना मरीजों को दे रहा है। वार्ड में तथा शौचालय में साफ-सफाई नहीं होती है। शौचालय में गंदगी के चलते मरीज अंदर जाने की हिम्मत तक नहीं जुटा पाते हैं।


स्टाफ नर्स और वार्ड ब्वाय के सहारे मरीज
वार्ड में रात में १२ बजे के बाद कोई भी डॉक्टर राउंड लेने नहीं आता है। दिन के समय भी यही हाल है। डॉक्टर मरीजों का हाल-चाल पूछने भी वार्ड में नहीं आते हैं। ऐसे में कोरोना मरीज स्टाफ नर्स और वार्ड ब्वाय के सहारे रहते हैं। इसको लेकर महिला मरीज ने सीएम हेल्पलाइन में भी शिकायत की थी। इससे नाराज एक स्टाफ ने महिला मरीज से नाराजगी जताई। महिला मरीज ने कहा कि शौचालय में शनिवार को भी साफ-सफाई नहीं हुई है। इससे शौचालय के अंदर जाने की हिम्मत नहीं हो रही है। यहां के मरीज बहुत मुश्किल से शौचालय के अंदर जा पाते हैं।

amaresh singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned