कोर्ट ने हत्या करने वालों की जमानत किया निरस्त

मामूली विवाद में कर दी थी हत्या

By: shubham singh

Published: 26 Jun 2020, 09:47 PM IST

शहडोल। कोर्ट ने एक व्यक्ति की हत्या करने वाले आरोपियों की जमानत याचिका खारिज करते हुए उन्हें जेल भेज दिया है। 19 फरवरी को सूचनाकर्ता खारी निवासी कौशलेन्द्र बैस पिता रामलखन बैस ने थाना ब्यौहारी में सूचना दी कि उसका भाई गणेश बैस अपने पुत्र आशीष बैस के साथ 18 फरवरी की रात में खेत में पानी लगाने गया था और वहीं पर सो गया। सुबह करीब 6 बजे भतीजा आशीष बैस ने घर आकर बताया कि पिता खत्म हो गए हैं। सभी लोग खेत में जाकर देखे तो गणेश बैस पेड़ के नीचे मृत अवस्था में पड़े थे। इस पर पुलिस ने मर्ग प्रकरण कायम कर जांच में लिया था। जांच में यह पाया गया कि डेढ़-दो माह पूर्व पड़ोसी गोकुल गड़ारी की बकरी मृतक के खेत में चर रही थी। जिसे मृतक गणेश ने देखा और गोकुल गड़ारी के लड़के सुरेश को दो-तीन लाठी मारा था तथा बकरियों को कांजीहाउस में बंद करा दिया था। उस समय गोकुल गड़ारी एवं उसका लड़का सुरेश गड़ारी ने धमकी देते हुए कहा कि मार का बदला मार से होगा। घटना के समय मृतक का 7 वर्षीय पुत्र आशीष द्वारा घटना देखना बताया गया। पूर्व रंजिश के कारण गोकुल गड़ारी एवं उसके लड़के सुरेश ने धारदार हथियार से हत्या कर दी। जांच उपरांत पुलिस ने आरोपी गोकुल गड़ारी एवं पुत्र सुरेश गड़ारी को गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया।जहां से उन्हें जेल भेज दिया गया। 25 जून को आरोपियों ने जमानत के आवेदन कोर्ट में प्रस्तुत किया। शासन की ओर से उक्त प्रकरण में अपर लोक अभियोजक बसंत कुमार जैन ब्यौहारी ने तर्क देकर विरोध किया। इस पर अपर सत्र न्यायाधीश ब्यौहारी ने जमानत निरस्त कर दिया।

shubham singh Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned