पहले गोली मारी फिर पेट्रोल से जलाया और लाश को पानी में फेंका

पुलिस ने किया सोनू की हत्या का खुलासा, 12 घंटे में पुलिस की गिरफ्त में आए चार आरोपी

By: brijesh sirmour

Published: 16 May 2020, 08:53 PM IST

बुढ़ार. कोयलांचल के धनपुरी थाना अंतर्गत बैगा ओसीएम खदान फिल्टर प्लांट संग्राम दफाई में पानी उतराती मिली सोनू की लाश की गुत्थी पुलिस ने सुलझा ली है। इस मामले में पुलिस ने सोनू की हत्या के चार आरोपियों को गिरफ्तार किया है। गौरतलब है कि गत 13 मई को करीब शाम 7.30 बजे एक युवक के जरिए पुलिस को मिली सूचना की किसी अज्ञात व्यक्ति की बैगा ओसीएम खदान फिल्टर प्लांट संग्राम दफाई मे पानी में उतराती हुई लाश दिखाई दे रही है। जिस पर पुलिस मौके पर पहुंचकर शव का पंचनामा तैयार कर पीएम के लिए स्वास्थ्य केंद्र भेजा और आरोपियों की तलाश में जुट गई। 16 मई को अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक प्रतिभा एस मैथ्यू ने मामले का खुलासा करते हुए बताया कि मृतक की हत्या के संदेह होने पर धनपुरी, बुढार व अमलाई पुलिस की संयुक्त टीम गठित कर मामले की जांच प्रारंभ की। मृतक अरबाज रजा उर्फ सोनू निवासी वार्ड क्रमांक 16 कच्छी मोहल्ला का बताया गया। जिसकी हत्या में आरोपी असलम उर्फ मंजा, अमित उर्फ छोटी कोरी, आकाश श्रीवास एवं मोहम्मद रहमान के द्वारा षडयंत्र पूर्वक योजना बनाकर हत्या करने का खुलासा हुआ। आरोपियों ने योजना बनाकर अमलाई ओसीएम चट्टान के पास नाला के किनारे सुनसान इलाके में बुलाकर पिस्टल से गोली मारकर हत्या कर पानी के बोरी में पत्थर के बांध कर साक्ष्य को छुपाने के लिए पहले मृतक को पेट्रोल से जलाया फिर उसे बैगा ओसीएम के पानी में फेंक दिया। इस मामले को उजागर करने में एसडीओपी भरत दुबे, बुढार थाना प्रभारी महेंद्र सिंह चौहान, अमलाई थाना प्रभारी कलीराम परते, धनपुरी प्रभारी रतांबर शुक्ला, एसआई विकास सिंह, संतु लाल धुर्वे, नंदू लाल प्रजापति, एएसआई विनोद तिवारी, वेद प्रकाश तिवारी, रोशन लाल पांडेय, गुलाम हुसैन, पीसी मिश्रा, प्रधान आरक्षक नवीन सिंह, आरक्षक गजेंद्र सिंह, सतीश चौरसिया, शंकर प्रजापति, संदीप, शरद, अशोक और मोहम्मद जाहिद की सक्रिय भूमिका रही। गठित टीम को पुलिस अधीक्षक द्वारा इनाम देने की घोषणा की है।

brijesh sirmour
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned