कचरा उठाव वाहन खराब, नहीं हो रहा कचरे का उठाव

कैसे बढ़ेगी स्वच्छता की रैंकिंग,

शहडोल. नगर से निकलने वाले कचरे का उठाव समय पर नहीं हो रहा है, जिससे नगर की कालोनियों में जगह- जगह- जहां नालियों में कचरा भरा हुआ है, वहीं नगर से निकलने वाले गीले और सूखे कचरे का निष्पादन नहीं हो पा रहा है। बताया गया है कि नगर से कचरा उठाव के लिए नपा द्वारा 13 छोटे वाहन लगाए गए हैं, जिसमें से तीन वाहन लगभग बिगड़े हुए हैं जिससे कचरे का उठाव नहीं हो पा रहा है।
कुल 20 छोटे बड़े वाहन-
जानकारी में बताया गया है कि नगर में जहां 10 जोन के बीच 39 वार्डों में साफ सफाई और कचरे का उठाव कराने के लिए लगभग 207 सफाई कर्मचारी और छोटे 13 कचरा उठाव वाहन और 7 ट्रेक्टर लगाए गए हैं। इनमें से दो ट्रेक्टर पानी के टैंकर में और पांच टे्रक्टर कचरा उठाव के लिए लगाए गए हैं। लेकिन तीन कचरा उठाव वाहनों की खराबी के चलते नगर से कचरे का उठाव नहीं हो पा रहा है। बताया गया है कि उक्त कचरा उठाव वाहन लगभग एक महीने से बिगड़े हुए हैं।
10 कचरा उठाव वाहनों की नहीं हुई खरीदी-
जानकारी में बताया गया है कि नगर से प्रतिदिन औषतन 20-25 टन निकलने वाले गीले और सूखे कचरे का उठाव और निष्पादन करने के लिए नपा द्वारा 10 छोटे कचरा उठाव वाहनों की खरीदी का प्रस्ताव नपा परिषद की बैठक में पास कराया गया, लेकिन अब तक नपा द्वारा वाहनों की खरीदी नहीं की गई। बताया गया है कि उक्त प्रस्ताव शासन के पास अटका हुआ है। वहीं नपा द्वारा 50 सफाई कर्मियों की भर्ती का भी प्रस्ताव धूल खा रहा है।
कैसे बढ़ेगी स्वच्छता की रैंकिंग-
नगरपालिका द्वारा स्वच्छता की रैंकिंग बढ़ाने अब तक कोई कारगर प्रयास नहीं किए गए हैं। इस मामले को लेकर नपा गंभीर नहीं है। जबकि नपा की रैंकिंग के लिए फरवरी महीने के अंत में टीम आने की संभावना बताई जा रही है। नगर के पुरानी बस्ती, सोहागपुर, सिंहपुर रोड़, बस स्टैंड, बलपुरवा सहित अन्य कालोनियों में कचरे का अंबार लगा हुआ है।
कराया जा रहा वाहन का सुधार-
दो कचरा उठाव वाहन बिगड़े हैं, जिनका सुधार कार्य कराया जा रहा है। नगर में दोनों पालियों में सफाई और घर-घर कचरे का उठाव किया जा रहा है।
अजय श्रीवास्तव
सीएमओ
नपा-शहडोल

Show More
lavkush tiwari Reporting
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned