कवर्धा से सात दिन में भूखे प्यासे शहडोल पहुंचे आधा सैकड़ा श्रमिक

श्रमिकों की बेबसी, नहीं मिली मदद साइकल से छग से यूपी के लिए निकले

By: lavkush tiwari

Published: 10 May 2020, 07:43 PM IST

शहडोल. एक तरफ प्रशासन की बेरुखी तो दूसरी तरफ घर जाने की मजबूरी, हांथ से काम छूटा तो डेढ़ महीने का इंतजार और मजदूरी की गाढ़ी कमाई से बैठकर डेढ़ महीने का खाना खर्च और हाथ खाली वहीं जमा पूंजी से साइकल खरीदी और छत्तीसगढ़ के कवर्धा से साइकल से सात दिनों में साइकल से सफर कर भूखे प्यासे 52 श्रमिक रविवार की दोपहर शहडोल पहुंचे। श्रमिकों की हालत ऐसी की छत्तीसगढ़ से लेकर शहडोल के बीच छत्तीसगढ़ के किसी जगह और जिले में श्रमिकों को कोई मदद और सहायता नहीं मिली, वहीं श्रमिकों से किसी ने जवाब सवाल तक नहीं किया और श्रमिक शहडोल पहुंच गए। ऐसे में सील की गई जिलों और प्रदेशों की सीमाओं को लेकर प्रशासनिक कार्यशैली पर सवाल उठाए जा रहे हैं। इन श्रमिकों के साथ बच्चे और महिलाओं का बुरा हाल रहा जो अपने घर किसी तरह पहुंचने की लालशा लिए शहडोल पहुंचे।
सामाजिक संगठन ने कराया भोजन-
कवर्धा से कुछ खाने पीने का इंतजाम करके घर के लिए निकले श्रमिकों के पास खाने और पीने का रास्ते में कहीं इंतजम नहीं था और जो रहा वह तीन दिनों चार दिनों में खत्म हो गया, किसी तरह शहडोल पहुंचे तो रविवार को नगर के बस स्टैंड़ में कल्याणी वेलफेयर सोसाइटी के सदस्यों ने उनकी मदद करते हुए भोजन कराया और प्रशासन से पहल करते हुए वाहन की व्यवस्था कराने के बाद शाम ४ बजे उन्हे मुजफ्फरपुर और सीतापुर के लिए बस से रवाना किया।
बाक्स-
ट्रेन और पास का डेढ़ महीने किया इंतजार-
लाकडाउन के चलते लगभग डेढ़ महीने तक बिना काम और रोजगार के श्रमिक ट्रेन चलने और ई-पास का इंतजार करते रहे, इसी बीच पैसा खत्म होने के बाद श्रमिकों ने घर जाने की ठानी और जमापूंजी से साइकल खरीदने के बाद कवर्धा से उत्तरप्रदेश के लिए निकल पड़े। मनीष पिता छोटेलाल, मन्नीलाल, आरती देवी, सीता देवी, सूरज गौतम, राममिलन सहित अन्य श्रमिकों ने बताया कि डेढ़ महीने तक इंतजार किए काम बंद हो गया और जमापूंजी खतम हो गई, सरकारी मदद कीगुहार लगाई, लेकिन कोई मदद नहीं मिली तब जमापूंजी से साइकल खरीद कर घर के लिए निकल पड़े। रास्ते में किसी तरह का कोई प्रशासनिक अमला स्वास्थ्य परीक्षण नहीं कराया।
-----------------------------------------------------------------

Show More
lavkush tiwari Reporting
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned