#Coronavirus : यहां गांववालों की सूचना पर तत्काल एक्सन पर आती है कोरोना जांच की टीम

बाहरी लोगों के पहुंचने पर प्रशासन को देते हैं तत्काल जानकारी कोरोना हेल्पलाइन में प्रतिदिन आ रहे हैं एक सैकड़ा से ज्यादा काल्स, पिछले एक सप्ताह में आए 713 काल्स, अधिकांश लोग पूंछ रहे आगे की क्या तैयारी है

By: brijesh sirmour

Published: 31 Mar 2020, 08:27 PM IST

शहडोल. संभागीय मुख्यालय के कोरोना हेल्पलाइन में इन दिनों आदिवासी अंचल के ग्रामीणजन ज्यादा सक्रियता दिखा रहे हैं और गांवों में पहुंचने वाले बाहरी व्यक्तियों की तत्काल सूचना देकर कोरोना की जांच कराने की मांग कर रहे है। जिस पर तत्काल एक्सन लेकर मामले की गंभीरता को देखते हुए जांच टीम या फिर एएनएम को जांच के लिए भेजा जा रहा है। जिला कोरोना हेल्पलाइन नम्बर 104 एवं 181 में एक सप्ताह में अब तक कुल 713 काल्स आए है। जिसमें 75 फीसदी काल्स ग्रामीण अंचलों के हैं। गौरतलब है कि संभागीय मुख्यालय में पिछले 24 मार्च से कोरोना हेल्पलाइन सेन्टर का संचालन किया जा रहा है। जहां प्रतिदिन एक सैकड़ा से ज्यादा काल्स आ रहे हैं। एक दिन पहले सोमवार को 578 काल्स थे। जो मंगलवार को बढकऱ 713 हो गए।
वर्तमान की नहीं भविष्य की चिंता
बताया गया है कि हेल्पलाइन में अधिकांश लोगों की शिकायतों में वर्तमान की नहीं बल्कि भविष्य की ज्यादा चिंता रहती है। लोग यह ज्यादा पूछतें है कि आगामी 14 अप्रैल के बाद क्या होगा? हमें भोजन वगैरह कहां से मिलेगाïï? इलाज कराने कहां जाना होगा? राशन समाप्त हो जाएगा तो क्या करेंगे? हमारे घर का खर्चा कैसे चलेगा? इसके अलावा हेल्पलाइन सेन्टर में राशन समाप्त होने, तबियत खराब होने, सिलेण्डर नहीं पहुंचने और बाहर जाने के लिए अनुमति दिए जाने संबंधी ज्यादा शिकायतें आ रही हैं।
केस नम्बर वन
मंगलवार को दोपहर में जयसिंहनगर क्षेत्र के ग्राम बिरौड़ी निवासी सुनीता सिंह ने जानकारी दी कि उसके गांव में 14 दिन पहले गुजरात से एक व्यक्ति आया था। जिसकी जांच नहीं हुई है। शिकायत पर जयसिंहनगर के चिकित्सक को तत्काल सूचना दी गई। साथ ही कॉल सेन्टर से चिकित्सक ने शिकायतकर्ता से चर्चा कर संबंधित व्यक्ति की जानकारी भी ली।
केस नम्बर टू
मंगलवार को दोपहर में ही संभागीय मुख्यालय की महिला लक्ष्मीबाई ने शिकायत दर्ज कराई कि उसके घर में खाद्य सामग्री उपलब्ध नहीं है। जिस पर तत्काल पड़ताल की गई तो पता चला कि उक्त महिला को तीन महीने का खाद्यान्न मिल चुका है। इसकी जानकारी शिकायतकर्ता महिला को दी गई और उसकी समस्या का समधान किया गया।

brijesh sirmour
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned