scriptHere the bus fell into the ditch down 40 feet uncontrollably, part of | यहां अनियंत्रित होकर 40 फिट नीचे खाई में गिरी बस, किसी के सिर का हिस्सा बाहर आया, किसी की निकल आई आंख | Patrika News

यहां अनियंत्रित होकर 40 फिट नीचे खाई में गिरी बस, किसी के सिर का हिस्सा बाहर आया, किसी की निकल आई आंख

सांठगांठ: टूरिस्ट परमिट की आड़ में मजदूरों को ठसाठस भरकर ले जा रहे थे उप्र
नशे में चालक चला रहा था बस, अनियंत्रित होने पर यात्रियों ने टोका, फिर भी नहीं मानी बात
विभत्स हादसा: तीन यात्रियों की मौत, 40 घायल

शाहडोल

Published: March 07, 2022 12:33:15 pm

शहडोल. सिंहपुर थाना क्षेत्र अंतर्गत पथखई घाट से एक बस अनियंत्रित होकर 40 फीट नीचे खाई में जा गिरी। हादसे में बस में सवार तीन लोगों की घटना स्थल पर मौत हो गई, जबकि 40 यात्री घायल हो गए। हादसे में पांच मरीजों की हालत गंभीर बताई जा रही है। सड़क हादसा शनिवार की रात साढ़े 11 बजे के आसपास का बताया जा रहा है। घटना की खबर लगते ही कलेक्टर घटनास्थल पहुंच गई। इसके बाद मेडिकल कॉलेज पहुंचकर मरीजों से बातचीत करते हुए इलाज की व्यवस्था बनाई। पुलिस के अनुसार, छत्तीसगढ़ होते हुए बस सिंहपुर से शहडोल की ओर आ रही थी, तभी अनियंत्रित होकर भोरमदेव ट्रेवल्स की बस पलट गई। बताया गया कि बस घाटी से नीचे गिरते ही पांच 4 से 5 बार पलटते हुए 40 फीट नीचे गिरी है। इस दौरान यात्री बस के भीतर ही फंस गए थे। कवर्धा से लखनऊ जा रही बस में सवार यात्री नावेद खान 26 वर्ष निवासी तिंदुआ नगरिया थाना बण्डा शाहजहांपुर यूपी, महिमा कश्यप 12 वर्ष निवासी मुंगेली छत्तीसगढ़ और पारस साहू 55 वर्ष कवर्धा की मौत हो गई है।
नहीं पहुंच पा रही थी एंबुलेंस, थाना की गाड़ी से ऊपर तक लाते गए घायल
हादसे के बाद पहाड़ से नीचे एंबुलेंस का उतरना मुश्किल था। अंधेरा होने के साथ रास्ता भी खराब था। जिस वजह से एंबुलेंस नीचे नहीं उतर पा रही थी। बाद में मौके पर मौजूद पुलिसकर्मियों ने आनन-फानन पुलिस के बड़े वाहन को पहाड़ के नीचे उतारने का निर्णय लिया। ऊबड़-खाबड़ रास्तों से पुलिस वाहन घायल यात्रियों को बस से बाहर निकालकर पहाड़ के ऊपर तक पहुंचते गया और घायलों को एंबुलेंस में बैठाकर रवाना करते गए। पुलिस अधिकारियों ने सड़क पर लाइन से एंबुलेंस खड़े करा लिए थे। एक के बाद एक एंबुलेंस से घायलों को बैठाकर जिला अस्पताल और मेडिकल कॉलेज के लिए रवाना किया।
भेजने से पहले बनाई अस्पताल में व्यवस्था
हादसे के वक्त पुलिस और प्रशासन की सजगता की वजह से समय पर मरीजों को इलाज मिल सका। घटना की सूचना के बाद डीएसपी सोनाली गुप्ता, डीएसपी अखिलेश तिवारी मौके पर पहुंच गए। कलेक्टर वंदना वैद्य को भी हादसे की जानकारी दे दी गई। कलेक्टर ने जिला अस्पताल और मेडिकल कॉलेज में डॉक्टरों की टीम तैयार कर दी थी। एंबुलेंस के अस्पताल पहुंचते ही डॉक्टरों की टीम ने मरीजों का इलाज शुरू कर दिया। कुछ यात्री सामान होने की वजह से घटनास्थल नहीं छोड़ रहे थे। पुलिसकर्मियों ने सामान उठाकर थाने में अलग से भिजवाया, जिसके बाद यात्रियों ने बस को छोड़ा। कई यात्री बस के भीतर भी फंसे रहे। जिन्हे पुलिसकर्मियों ने किसी तरह बस के भीतर घुसकर बाहर निकालकर अस्पताल भेजा।
गंगा में अस्थि विसर्जन से पहले सामने आ गई मौत
बताया गया कि पारस साहू अस्थि विसर्जन करने के लिए इलाहाबाद जा रहे थे। वे अस्थियां बस में रखे हुए थे। अस्थि लेकर इलाहाबाद पहुंच पाते, इसके पहले ही सड़क हादसे में उनकी मौत हो गई। हादसे में पुलिस ने चालक के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है लेकिन हादसे के बाद तीनों लोग फरार हो गए थे।
अधिकारियों की गठजोड़: टूरिस्ट परमिट के नाम पर पार कराते हैं बस
छत्तीसगढ़-मध्यप्रदेश-उत्तरप्रदेश के शहडोल संभाग के रूट से लंबे समय से अधिकारियों की सांठगांठ की वजह से टूरिस्ट परमिट के नाम पर बसें दौड़ाई जा रही है। इससे सरकार को भी राजस्व का चूना लगाया जा रहा है। टूरिस्ट परमिट के नाम पर मजदूरों को ठसाठस भरकर उत्तरप्रदेश ले जाया जाता है। इसके शहडोल सहित कई जगहों पर स्टॉपेज भी है। परिवहन विभाग के अधिकारियों की मिलीभगत की वजह से कोई प्रभावी कार्रवाई नहीं हो रही है। 10 से ज्यादा बसें इस रूट से परमिट में हेरफेर कर चल रही है।
नशे में धुत था ड्राइवर, यात्रियों ने टोका भी लेकिन नहीं माना
बस में सवार यात्रियों ने बताया कि बस का चालक नशे की हालत में था। बस चालक घटना स्थल के पहले भी कई बार बस को इधर-उधर बहका रहा था। यात्रियों द्वारा कहा भी गया की बस को धीरे चलाओ पर नशे की हालत में चूर चालक ने किसी की बात न मानी और तेज रफ्तार के साथ चला रहा था। पहाड़ी में पहुंचते ही मोड़ में बस अनियंत्रित हो गई और खाई से नीचे जा गिरी।
सिर का हिस्सा बाहर, बच्चे की निकली आंख
हादसे में गंभीर घायल पुरुषोत्तम निवासी इन्दौरी छत्तीसगढ़ के सिर पर गंभीर चोट आई है। गैंद कुमारी ध्रुव उम्र 40 वर्ष निवासी रेत्रा खुर्द लोरमी के सिर में गंभीर चोट। जिसे शहडोल मेडिकल कॉलेज से बिलासपुर के लिए रेफर कर दिया गया है। इसी तरह शिवकुमार ठाकुर 42 वर्ष निवासी चोहका थाना खम्हरिया छत्तीसगढ़, मोहम्मद मुनासिब उम्र 24 वर्ष घनश्यामपुर खुर्द कवर्धा, शिवराज सिंह पटेल 6 वर्ष निवासी खाम्ही कबीर धाम घटना में मासूम बालक की आंख बाहर आ गई। हादसा इतना विभत्स था कि एक युवती के सिर का पूरा हिस्सा ही बाहर आ गया था। बताया गया कि यात्री बस में कुल 56 यात्री सवार थे जिसमें ड्राइवर, कंडेक्टर व खलासी शामिल थे। हादसे के बाद ये तीनों भाग निकले।

यहां अनियंत्रित होकर 40 फिट नीचे खाई में गिरी बस, किसी के सिर का हिस्सा बाहर आया, किसी की निकल आई आंख
यहां अनियंत्रित होकर 40 फिट नीचे खाई में गिरी बस, किसी के सिर का हिस्सा बाहर आया, किसी की निकल आई आंख

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

नाइजीरिया के चर्च में कार्यक्रम के दौरान मची भगदड़ से 31 की मौत, कई घायल, मृतकों में ज्यादातर बच्चे शामिल'पीएम मोदी ने बनाया भारत को मजबूत, जवाहरलाल नेहरू से उनकी नहीं की जा सकती तुलना'- कर्नाटक के सीएम बसवराज बोम्मईमहाराष्ट्र में Omicron के B.A.4 वेरिएंट के 5 और B.A.5 के 3 मामले आए सामने, अलर्ट जारीAsia Cup Hockey 2022: सुपर 4 राउंड के अपने पहले मैच में भारत ने जापान को 2-1 से हरायाRBI की रिपोर्ट का दावा - 'आपके पास मौजूद कैश हो सकता है नकली'कुत्ता घुमाने वाले IAS दम्पती के बचाव में उतरीं मेनका गांधी, ट्रांसफर पर नाराजगी जताईDGCA ने इंडिगो पर लगाया 5 लाख रुपए का जुर्माना, विकलांग बच्चे को प्लेन में चढ़ने से रोका थापंजाबः राज्यसभा चुनाव के लिए AAP के प्रत्याशियों की घोषणा, दोनों को मिल चुका पद्म श्री अवार्ड
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.