भूखे प्यासे मजदूर विलासपुर से पैदल जा रहे थे कटनी, थाना प्रभारी ने भोजन की व्यवस्था कर प्राइवेट वाहन से छुड़वाया

प्रधान आरक्षक को मिले बाजार में

शहडोल। एक तरफ जहां अभी भी लोग पुलिस को दूसरी निगाह से देखते हैं। वहां बुढार पुलिस ने मानवता की मिशाल प्रर्दशित किया है। पुलिस ने भूखे प्यासे मजदूरों को थाने बुलवाकर भोजन करवाया और इसके बाद एक प्राइवेट वाहन करके उनको कटनी भेजवाया। जानकारी के अनुसार बुढ़ार थाना क्षेत्र से कटनी जिले के सलैया निवासी सात मजदूर लक्खू वासदेव, रंजीत रौतेल, सोहन, हिमांशू, रामदीन, साहब सिंह और कृष्णा विलासपुर से भूखे प्यासे पैदल कटनी जा रहे थे। ये सभी बुढार थाने के प्रधान आरक्षक रामेश्वर पांडे को बुढार बाजार में भूखे प्यासे मिले। इसके बाद प्रधान आरक्षक ने इनसे बातचीत की तो पता चला कि इनके पास पैसे खत्म हो गए हैं और ये बिना खाये पिये पैदल कटनी जा रहे हैं। इसकी सूचना प्रधान आरक्षक ने थाना प्रभारी महेन्द्र सिंह को दी। सूचना पर थाना प्रभारी ने सभी मजदूरों को थाने बुलवाकर खाने की व्यवस्था की। इसके बाद प्राइवेट वाहन से सभी मजदूरों को कटनी भेजवाया। इसमें आरक्षक रामनरेश यादव, चालक पप्पू पनिका एवं सब्जी व्यापारी अनिल कुशवाहा की सराहनीय भूमिका रही।

Show More
shubham singh Incharge
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned