पहाड़ी क्षेत्रों में फिर आई कोदों-कुटकी की खेती की याद, कृषि विभाग का अमला किसानो को बताएंगा नई तकनीक

पहाड़ी क्षेत्रों में फिर आई कोदों-कुटकी की खेती की याद, कृषि विभाग का अमला किसानो को बताएंगा नई तकनीक

raghuvansh prasad mishra | Publish: Mar, 17 2019 07:28:22 PM (IST) Shahdol, Shahdol, Madhya Pradesh, India

आदिवासी आंचलों में होती थी अच्छी उपज

शहडोल .कमिश्नर शोभित जैन की उपस्थिति में शुक्रवार को कृषि विभाग की संभाग स्तरीय समीक्षा बैठक आयोजित की गई। बैठक में कमिश्नर ने अधिकारियों से कृषि विभाग के कार्यों के संबंध में चर्चा की और निर्देश दिए कि कृषि विभाग के मैदानी अधिकारियों और कर्मचारियों के लिए ग्रामीण क्षेत्रों के भ्रमण हेतु कैलेन्डर तैयार करे और कृषि विभाग के मैदानी अधिकारियों को गॉवों में जाकर कार्य करने के लिए ताकिद करें। शहडोल संभाग में कोदों-कुटकी की खेती की अच्छी संभावनाओं को दृष्टिगत रखते हुए कोदों-कुटकी की खेती को प्रोत्साहित करें, तथा जैविक खेती के लिए किसानों को प्रोत्साहित करें। कमिश्नर ने जैविक खेती के उत्पादों के प्रमाणीकरण की कार्यवाही की प्रगति की जानकारी ली। बैठक में उप संचालक कृषि शहडोल जेएस पेन्द्राम ने कमिश्नर को धारवाड़ पद्धति के संबंध में विस्तार पूर्वक जानकारी दी गई। बैठक में कमिश्नर ने निर्देश दिए कि शहडोल संभाग में कोदो-कुटकी का रकबा बढ़ाने के प्रयास किए जाए। बैठक मे कमिश्नर नेे कृषि विभाग के अधिकरियों से मिट्टी प्रषिक्षण प्रयोगशाला एंव उर्वरक परीक्षण प्रयोगशाला के संबंध में जानकारी ली। बैठक में कमिश्नर नेे आत्मा परियोजना की भी समीक्षा कि गई। बैठक में उप संचालक कृषि अनूपपुर एनडी गुप्ता उप संचालक उमारिया प्रजापति साहित अन्य अधिकारी उपस्थित रहें।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned